Home >> Breaking News >> संसद में ललितगेट पर बवाल, 2 बजे तक स्थगित हुई राज्यसभा की कार्यवाही

संसद में ललितगेट पर बवाल, 2 बजे तक स्थगित हुई राज्यसभा की कार्यवाही


नई दिल्ली,(एजेंसी)21 जुलाई। संसद का मानसून सत्र मंगलवार से शुरू हो गया। विपक्ष पर जवाबी हमले के लिए सरकार ने एनडीए को एकजुट रखने की रणनीति बनाई है और किसी का इस्तीफा लेने से इनकार कर दिया है।

राज्य सभा की कार्यवाही के शुरुआती मिनटों में ही कांग्रेस आक्रामक दिखी। कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने ललित मोदी का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने मानवता के आधार पर ललित मोदी की मदद की और ललित मोदी ने दस्तावेज लेकर मौज-मस्ती की। उन्होंने पूछा कि जांच में ललित मोदी और संबंधित मंत्री शामिल क्यों नहीं है।

उन्होंने इस मामले पर सरकार से जवाब मांगा। राज्यसभा के नेता अरुण जेटली ने कहा कि इस मुद्दे पर चर्चा शुरू कीजिए, विदेश मंत्री तुरंत जवाब देंगी। इसके बावजूद हंगामा जारी रहा और स्पीकर को कार्यवाही 12 बजे तक स्थगित करनी पड़ी। सदन की कार्यवाही दोबारा शुरू होने पर भी हंगामा जारी रहा और एक बार फिर इसे स्थगित करना पड़ा।

images (6)

सभी सांसदों से सहयोग की उम्मीद: PM
इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सदन की कार्यवाही शुरू होने से पहले सकारात्मक कार्यवाही की उम्मीद जताई। उन्होंने कहा, ‘कल अच्छे माहौल में सर्वदलीय बैठक हुई। आशा है सत्र में अच्छे और अधिक फैसले होंगे। अब तक सबके सहयोग के लिए धन्यवाद। आगे भी सभी सांसदों का उत्तम योगदान रहेगा, ऐसा मुझे भरोसा है।’

उधर बीएसपी अध्यक्ष मायावती ने भी साफ कर दिया है कि उनकी पार्टी सरकार के लैंड बिल को किसी भी कीमत पर समर्थन नहीं देगी। प्रधानमंत्री सुबह 11:30 बजे लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन से मुलाकात करेंगे। इस दौरान वित्त मंत्री अरुण जेटली, गृह मंत्री राजनाथ सिंह और संसदीय कार्य मंत्री वेंकैया नायडू भी उनके साथ होंगे। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी भी पार्टी सांसदों की बैठक लेंगी।

सोमवार दिन भर चली बैठकों में सरकार बचाव और ‘काउंटर अटैक’ की रणनीति बनाती रही। हालांकि कांग्रेस के पास सरकार को घेरने के लिए इस बार मुद्दों का अंबार है और वह कोई कसर नहीं छोड़ना चाहेगी। ललित मोदी मामले पर चर्चा के लिए विपक्षी पार्टी ने राज्यसभा में स्थगन प्रस्ताव का नोटिस दे दिया है। शाम 6:30 बजे मोदी सरकार ने कैबिनेट की बैठक भी बुलाई है।

कांग्रेस की दो टूक- इस्तीफा दो, सदन चलाओ
कांग्रेस ने अपने कड़े तेवर सोमवार को सर्वदलीय बैठक में ही दिखा दिए। कांग्रेस ने दो टूक कहा कि अगर संसद का सत्र चलाना है तो वसुंधरा से लेकर सुषमा तक से इस्तीफा लेना होगा। लेकिन सरकार ने यह मांग ठुकरा दी है। संसदीय कार्य मंत्री वेंकैया नायडू ने साफ कहा कि कोई मंत्री या मुख्यमंत्री इस्तीफा नहीं देगा।


Check Also

पश्चिम बंगाल के कोलकाता में एक साथ 10 ठिकानों पर प्रवर्तन निदेशालय का छापा, TMC नेताओं से लिंक का शक

पूरे देश में रिकॉर्ड टीकाकरण के बीच फर्जी वैक्सीन का मामला भी प्रकाश में आया …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *