Wednesday , 27 October 2021
Home >> Breaking News >> राज्यसभा 3 बजे तक स्थगित, जेटली बोले- सिर्फ रोड़े अटकाना चाहता है विपक्ष

राज्यसभा 3 बजे तक स्थगित, जेटली बोले- सिर्फ रोड़े अटकाना चाहता है विपक्ष


नई दिल्ली,(एजेंसी)21 जुलाई। संसद का मानसून सत्र मंगलवार से शुरू हो गया। विपक्ष पर जवाबी हमले के लिए सरकार ने एनडीए को एकजुट रखने की रणनीति बनाई है और किसी का इस्तीफा लेने से इनकार कर दिया है।

राज्यसभा में कांग्रेस ने ललित मोदी का मामला जोर-शोर से उठाया, जिसके बाद कार्यवाही तीन बार स्थगित करनी पड़ी। कार्यवाही के शुरुआती मिनटों में ही कांग्रेस आक्रामक दिखी। कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने ललित मोदी का मुद्दा उठाया. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने मानवता के आधार पर ललित मोदी की मदद की और ललित मोदी ने दस्तावेज लेकर मौज-मस्ती की। उन्होंने पूछा कि जांच में ललित मोदी और संबंधित मंत्री शामिल क्यों नहीं है। उन्होंने इस मामले पर सरकार से जवाब मांगा।

दो बजे फिर शुरू हुई राज्‍यसभा की कार्यवाही में अरुण जेटली ने आश्‍वासन दिया कि ललित मोदी केस पर हम चर्चा को तैयार हैं, पर लगता है कि विपक्ष तैयार नहीं है। खुद सुषमा स्वराज ने भी ट्वीट करके लिखा कि वह बहस के लिए तैयार हैं।

images (8)

जेटली की अपील के बाद भी जारी रहा हंगामा
बीजेपी सदस्यों की टोकाटोकी के बीच आनंद शर्मा ने इस मामले में राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का भी जिक्र किया। उन्होंने इस पूरे मामले को गंभीर मुद्दा बताते हुए कहा कि सरकार ने मर्यादा तोड़ी है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को इस मुद्दे पर जवाब देना चाहिए। कांग्रेस सदस्यों के हंगामे के बीच जेटली ने नियम 267 के तहत दिए गए नोटिस का जिक्र किया और कहा कि सरकार इस पर तुरंत चर्चा के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि सदस्य इस पर तुरंत चर्चा शुरू करें और इस पर विदेश मंत्री जवाब भी देंगी।

कांग्रेस के सदस्य आसन के पास आ गए और विदेश मंत्री को बर्खास्त किए जाने की मांग करते हुए नारेबाजी करने लगे। इसके पहले कांग्रेस के कुछ सदस्य पोस्टर लहराते हुए दिखे। आसन ने उन्हें ऐसा करने से मना किया। हंगामे के चलते पहले करीब 11:30 बजे कार्यवाही को 12 बजे तक के लिए स्थगित किया गया। दोपहर 12 बजे बैठक शुरू होने पर भी हंगामा जारी रहा और पहले 12:30 बजे तक फिर दोपहर दो बजे तक के लिए कार्यवाही स्थगित कर दी गई।

सिर्फ बाधा डालना चाहता है विपक्ष: जेटली
इसके बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने मीडिया से बात की. उन्होंने विपक्ष पर सदन न चलने देने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा, ‘हम संसद का वक्त बचाना चाहते हैं। सुषमा स्वराज जवाब देने को तैयार हैं। हम बातचीत के लिए तैयार हैं। लेकिन हमारे इस प्रस्ताव को विपक्ष ने स्वीकार नहीं किया। इससे साफ है कि विपक्ष चर्चा नहीं चाहता। सिर्फ कार्यवाही में रोड़े अटकाना चाहता है।’


Check Also

पश्चिम बंगाल के कोलकाता में एक साथ 10 ठिकानों पर प्रवर्तन निदेशालय का छापा, TMC नेताओं से लिंक का शक

पूरे देश में रिकॉर्ड टीकाकरण के बीच फर्जी वैक्सीन का मामला भी प्रकाश में आया …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *