Home >> Breaking News >> लेटर बम पर शांता कुमार की सफाई, ‘गलती से सार्वजनिक हुई चिट्ठी’

लेटर बम पर शांता कुमार की सफाई, ‘गलती से सार्वजनिक हुई चिट्ठी’


नई दिल्ली,(एजेंसी)21 जुलाई। व्यापमं व ललित मोदी जैसे मसलों पर विवादों में घिरी मोदी सरकार पर भाजपा के वरिष्ठ नेता व हिमाचल प्रदेश के पूर्व सीएम शांता कुमार ने चिट्ठी बम फोड़कर एक नए विवाद को जन्म दे दिया। इस पर हंगामा मचने के बाद अपनी सफाई पेश करते हुए उन्होंने कहा कि वे पत्र को सार्वजनिक नहीं करना चाहते थे। यह गलती से सार्वजनिक हो गया है।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि यह पत्र उन्होंने ही भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को लिखा है क्योंकि वे अपना दुख-दर्द उनसे बयां करना चाहते थे। उन्होंने पत्र में लिखे गए एक-एक शब्द के साथ खड़े होने की बात भी कही।

21_07_2015-21shanta01

शांता कुमार का कहना था, ‘यह पत्र गलती से सार्वजनिक हो गया। मैं पत्र के एक-एक शब्द के साथ खड़ा हूं। मेरा फेसबुक प्रोफाइल देख रहे मित्रों ने गलती से इसे डाल दिया। मैं इसे सार्वजनिक नहीं करना चाहता था। जब कोई छींटा फेंकता है तो दुख तो होता ही है।’

शांता कुमार ने चिट्ठी में लिखा है कि व्यापमं घोटाले से राजग सरकार की छवि को गहरा धक्का लगा है और हम सब का सिर शर्म से झुक गया है।

इतना ही नहीं उन्होंने बिना वसुंधरा राजे व पंकजा मुंडे का नाम लिए राजस्थान व महाराष्ट्र की घटनाओं के बारे में भी लिखा है। साथ ही सरकार में शामिल नेताओं पर निगरानी के लिए लोकपाल की तर्ज पर आचार समिति बनाने की मांग की है।

अखबार व चैनलों पर चल रही खबरों को आधार बनाकर उन्होंने लिखा है कि जिस तरह से अखबार व समाचार चैनल खबरें व कहानियां दिखा रहे हैं, उसकी वजह से भाजपा कार्यकर्ता सिर झुकाकर चल रहा है। उन्होंने लिखा, ‘बड़ी शान से हमारी सरकार बनी। पहला साल पूरा होने पर हम अपनी उपलब्धियों का जश्न मना रहे थे, लेकिन अचानक इनपर ग्रहण लग गया। राजस्थान से लेकर महाराष्ट्र तक में हमपर उंगलियां उठीं।’


Check Also

पश्चिम बंगाल के कोलकाता में एक साथ 10 ठिकानों पर प्रवर्तन निदेशालय का छापा, TMC नेताओं से लिंक का शक

पूरे देश में रिकॉर्ड टीकाकरण के बीच फर्जी वैक्सीन का मामला भी प्रकाश में आया …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *