Wednesday , 27 October 2021
Home >> In The News >> केजरीवाल ने बस्सी से मांगा महिलाओं के खिलाफ अपराधों का ब्योरा

केजरीवाल ने बस्सी से मांगा महिलाओं के खिलाफ अपराधों का ब्योरा


नई दिल्ली,(एजेंसी)21 जुलाई। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को पुलिस आयुक्त बी.एस. बस्सी से राष्ट्रीय राजधानी में महिलाओं के खिलाफ हो रहे अपराधों पर विवरण देने के लिए कहा है। आम आदमी पार्टी के नेता ने अपने दफ्तर में बस्सी के साथ हुई बैठक में यह अनुरोध किया। ज्ञात रहे कि चार दिनों पहले राजधानी में एक 19 वर्षीय लड़की की चाकुओं से गोदकर हत्या के मामले के बाद दिल्ली की सरकार दिल्ली पुलिस पर प्रशासनिक नियंत्रण की मांग कर रही है।

दिल्ली के गृहमंत्री सत्येंद्र जैन ने मीडिया से कहा, “हमने बस्सी से महिलाओं के द्वारा की गई शिकायतों के आधार पर दर्ज प्राथमिकी और पुलिस द्वारा दर्ज न की जाने वाली प्राथमिकी का विवरण देने के लिए कहा है।” जैन ने बताया कि केजरीवाल ने बस्सी से उन निरीक्षकों के नाम सार्वजनिक करने के लिए कहा है, जिन्हें बार-बार पुलिस थानों का प्रमुख नियुक्त किया जा रहा है और उन निरीक्षकों के नाम भी बताने के लिए कहा है जिन्हें नजरंदाज कर दिया गया है।

दिल्ली पुलिस केंद्रीय गृहमंत्रालय के अधिकार क्षेत्र में आती है और उसे ही रिपोर्ट करती है। दिल्ली पुलिस महकमे में 1,500 ऐसे निरीक्षक हैं जो पुलिस स्टेशनों के प्रमुख बनने के पात्र है। जैन ने कहा कि बस्सी ने जानकारी साझा करने से मना कर दिया। पुलिस आयुक्त बस्सी ने केजरीवाल को 500 लोगों की एक सूची सौंपी है जिनकी दिल्ली में हत्या हुई है। सूची सौंपते हुए उन्होंने कहा कि दिल्ली में मीनाक्षी मामले की तरह ही उन्हें भी उतनी ही अनुग्रह राशि दी जाए।

177853

जैन ने कहा, “जब हमने उनसे कहा कि यह सूची प्रधानमंत्री को दीजिए तो बस्सी ने कहा कि प्रधानमंत्री के पास इस सब के लिए समय नहीं है और वह अन्य मामलों में बहुत ज्यादा व्यस्त हैं।” जैन ने पुलिस आयुक्त के बयान को दोहराते हुए कहा, “उनके (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी) के पास दिल्ली पुलिस के लिए समय नहीं है।” जैन ने जोर देते हुए कहा कि केजरीवाल को बस्सी से यह सब पूछने का अधिकार है, क्योंकि हम जनता के प्रतिनिधि हैं।

उन्होंने कहा, “मुख्यमंत्री को ये सवाल पूछने का अधिकार है। ऐसे सवाल पूछने का उनका कर्तव्य भी है।” जैन ने कहा, “वे लोग जिनका वेतन जनता के पैसों से आता है उन्हें जनता को जबाव देना चाहिए।” दिल्ली सरकार के सूत्रों के मुताबिक, केजरीवाल ने पुलिस प्रमुख से सिपाहियों की उनके मोबाइल नंबर सहित सूची मांगी, ताकि राजधानी में पुलिस व्यवस्था को बेहतर किया जा सके।

बैठक से वापस आने के बाद बस्सी ने कहा कि मुलाकात कानून को ध्यान में रखते हुए सौहार्दपूर्ण और पेशेवर तरीके से की गई। उन्होंने कहा, “बातचीत काफी सौहार्दपूर्ण और सकारात्मक वातावरण में हुई। मैंने समाज में पुलिस की भूमिका पर अपना मत रखने का प्रयास किया।” बस्सी ने कहा कि बैठक में उन्होंने केजरीवाल को बताया कि पुलिस अपराध के हर मामले को चुनौती और जिम्मेदारी के साथ लेती है ताकि प्रत्येक पीड़ित को न्याय दिलाया जा सके।

उन्होंने मीडिया से कहा कि पुलिस किसी भी प्रकार के दबाव में नहीं झुकेगी क्योंकि वह एक स्वतंत्र तंत्र है। उन्होंने कहा, “दिल्ली के लोग भाग्यशाली हैं कि उन्हें एक स्वंतत्र पुलिस तंत्र मिला है।” आनंद पर्वत इलाके में लड़की की हत्या के मामले पर बस्सी ने कहा कि मामले की जांच जारी है। बस्सी ने राष्ट्रीय राजधानी में उपराज्यपाल नजीब जंग से मुलाकात की। दोनों के बीच दिल्ली की कानून-व्यवस्था में सुधार के लिए अपनाई जाने वाली रणनीति पर चर्चा हुई।

जंग से मुलाकात के बाद बस्सी ने कहा, “पुलिस व्यवस्था के प्रति जवाबदेह है, न कि किसी व्यक्ति के प्रति। हम अपने संविधान और विभिन्न कानूनों से बंधे हैं, जिसके तहत दिल्ली पुलिस काम करती है।”


Check Also

जाने क्यों जन्माष्टमी पर लगाया जाता है श्री कृष्णा को 56 भोग

जन्माष्टमी आने में कुछ ही समय बचा है. इस साल जन्माष्टमी का पर्व  31 अगस्त …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *