Home >> In The News >> व्यापम घोटाला: रहस्यमय मौत मामले में दो नई FIR दर्ज

व्यापम घोटाला: रहस्यमय मौत मामले में दो नई FIR दर्ज


नई दिल्ली,(एजेंसी)22 जुलाई। सीबीआई ने मंगलवार को व्यापम घोटाले में संदिग्ध बिचौलियों की रहस्यमय मौतों के सिलसिले में दो और प्रारंभिक जांच दर्ज की हैं। सूत्रों ने बताया कि आदित्य चौधरी और महेंद्र सरवाक की मौत के मामले में प्रारंभिक जांच शुरू हो गई है।

फंदे से लटके मिले थे दोनों के शव
आदित्य चौधरी की मौत जहां इंदौर स्थित एमजीएम मेडिकल ब्वॉयज हॉस्टल में हुई थी। वहीं महेंद्र सरवाक ग्वालियर स्थित अपने घर पर मृत मिला था।

vyapam_cbi_s-650_072215074913

व्यापम बिल्डिंग

सूत्रों ने बताया कि विशेष कार्य बल दोनों के खिलाफ दो अलग अलग मामलों में उनकी कथित रूप से बिचौलियों के तौर पर भूमिका की जांच कर रहा है।

आर पी अग्रवाल के नेतृत्व में सीबीआई जांच
सीबीआई की 40 सदस्यीय टीम संयुक्त निदेशक आर पी अग्रवाल के नेतृत्व में व्यापम मामले की जांच कर रही है। अग्रवाल 1986 बैच के असम, मेघालय काडर के आईपीएस अधिकारी हैं।

व्यापम घोटाले में अभी तक 12 FIR
जांच एजेंसी ने अभी तक व्यापम के विभिन्न मामलों के सिलसिले में 12 एफआईआर दर्ज किए हैं। इसमें एमबीबीएस छात्रा नम्रता डामोर की मौत का मामला भी शामिल है। उसका शव उज्जैन जिले में रेल पटरियों के पास पड़ा मिला था। पुलिस ने शुरू में इसकी जांच एक संदिग्ध हत्या के मामले के तौर पर की थी। बाद में पुलिस ने उसे दुर्घटना बताकर केस बंद कर दिया

सीबीआई पत्रकार अक्षय सिंह की मौत मामले की भी जांच कर रही है। अक्षय की डामोर के अभिभावकों का साक्षात्कार करने के तुरंत बाद रहस्यमय तरीके से मौत हो गई थी।

सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई को सौंपी घोटाले की जांच
चीफ जस्टिस एच एल दत्तू के नेतृत्व वाली सुप्रीम कोर्ट की पीठ ने व्यापम के सभी मामलों की जांच 9 जुलाई 2015 को सीबीआई को सौंप दी थी। इन मामलों में संबंधित मौत के मामले भी शामिल थे।


Check Also

जाने क्यों जन्माष्टमी पर लगाया जाता है श्री कृष्णा को 56 भोग

जन्माष्टमी आने में कुछ ही समय बचा है. इस साल जन्माष्टमी का पर्व  31 अगस्त …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *