Home >> U.P. >> शौंचालय के लिए मजदूर बन गई मेधावी बिटिया

शौंचालय के लिए मजदूर बन गई मेधावी बिटिया


लखनऊ,(एजेंसी)22 जुलाई। खुले में शौच जाना कितना खराब लगता है, इसका जवाब महिलाओं से बेहतर शायद कोई नहीं दे सकता। कुछ ऐसे ही दर्द ने इंटरमीडिएट पास बिटिया को फावड़ा पकडऩे को मजबूर कर दिया। परिवार को पहले शौचालय निर्माण के लिए राजी करना और फिर सरकारी मदद के बावजूद कम पड़ रहे पैसे पाना तरबगंज ब्लाक की ग्राम पंचायत सुसेला में रहने वाली सीमा के लिए आसान नहीं था। उसने हिम्मत नहीं हारी और बन गईं स्वच्छ भारत मिशन के लिए मिसाल।

22_07_2015-21upd08

सीमा बताती हैं कि रहने के लिए घर भी नहीं है। दूसरे की भूमि में छप्पर डालकर परिवार गुजर-बसर करता है। सिर्फ एक बीघा खेती योग्य जमीन है। आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण पिता रिक्शा चलाकर परिवार का भरण पोषण करते थे। वर्ष 2013 में माता सोनम का आकस्मिक निधन हो गया। किसी तरह हाईस्कूल की परीक्षा दी और प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण हुई। इसी वर्ष इंटरमीडिएट द्वितीय श्रेणी में पास किया।

घर में शौचालय न होने से खुले में शौच के लिए जाना पड़ता था। इसी बीच गांव में प्रधान ने शौचालय निर्माण के लिए 12 हजार रुपये की मदद देने की बात कही। मैंने सोचा यदि घर में शौचालय बन जाएगा, तो खुले में शौच के लिए जाना नहीं पड़ेगा। चूंकि 12 हजार में शौचालय बनना संभव नहीं था, इसलिए पिता ने मना कर दिया। सीमा ने पिता को खुद मजदूरी करके शौचालय निर्माण करवाने के लिए राजी किया। दूसरों के खेतों में धान की रोपाई करके उसने 1500 रुपये इक_ा किए। इसके बाद राजगीर बुलाकर काम शुरू कराया। सीमा के मुताबिक सरकारी धनराशि से निर्माण सामग्री आ गई। मजदूरी कर इक_ा धनराशि से राजगीर के पारिश्रमिक का भुगतान कर दिया। यही नहीं, शौचालय निर्माण में राजगीर का सहयोग भी खुद किया। गड्ढा खोदा और मसाला ढोया। आखिरकार शौचालय बन गया।

आज होगा सम्मान
सीमा के जुनून को अफसरों ने भी सराहा है। उप निदेशक देवीपाटन मंडल गिरीश चंद रजक बताते हैं कि आयुक्त देवीपाटन मंडल रवि प्रकाश अरोड़ा खुद सीमा को बुधवार को जिला पंचायत सभागार में सम्मानित करेंगे।


Check Also

यूपी के फिरोजाबाद में कोरोना के साथ वायरल फीवर और डेंगू का बढ़ता जा रहा कहर, फिर सामने आए इतने केस

यूपी के फिरोजाबाद में वायरल फीवर और डेंगू का कहर और भी तेजी से बढ़ता …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *