Home >> Exclusive News >> यूपी पुलिस पर नही भरोसा, पंचायत चुनाव मे लगे केन्द्रीय सुरक्षा बल

यूपी पुलिस पर नही भरोसा, पंचायत चुनाव मे लगे केन्द्रीय सुरक्षा बल


लखनऊ,(एजेंसी)22 जुलाई। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष डॉ लक्ष्मीकांत बाजपेयी ने मंगलवार को निर्वाचन आयुक्त (स्थानीय निकाय एवं पंचायतें) से पंचायत के प्रस्तावित चुनाव प्रक्रिया के सिलसिले में मुलाकात की। उन्‍होंने निर्वाचन आयुक्‍त से कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था बहुत खराब है ओर सत्ता के दबाव में यूपी पुलिस भी लाचार है।

ऐसे में पुलिस पर भरोसा नहीं किया जा सकता है। इसलिए अगर पंचायत चुनाव निष्पक्ष करना है तो चुनाव के दौरान केन्द्रीय सुरक्षा बल लगाना चाहिए। साथ ही चुनाव के प्रेक्षक भी यूपी के बाहर के अधिकारी होने चाहिए। इस दौरान उन्‍होंने यूपी सरकार के करागार मंत्री बलराम यादव पर प्रस्तावित त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के तैयारी के सम्बन्ध में बैठक करने का आरोप लगाया और उनपर कार्यवाही करने की मांग की।

images (13)

उन्‍होंने निर्वाचन आयुक्त को बताया कि त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की तैयारी के सम्बन्ध में ब्लाक-कोयला जनपद-आजमगढ़ में बीएलओ की एक बैठक हुई। इसे यूपी सरकार के कारागार मंत्री बलराम यादव ने संबोधित किया। किसी भी निर्वाचन की प्रक्रिया से राज्य सरकार या उसके मंत्री का कोई लेना-देना नहीं होता, लेकिन आजमगढ़ में यह सब कुछ हुआ।

डॉ बाजपेयी ने आयुक्‍त से कहा कि मंत्री के खिलाफ तो राज्य निर्वाचन आयोग को नियमों के अन्तर्गत प्रभावी और संदेश देने वाली कार्यवाही करनी चाहिए. साथ ही इस बैठक में जो भी जिले के प्रशासनिक अधिकारी मौजूद थे, बैठक की सूचना देने वाले अधिकारी थे, उन सभी को निलम्बित कर आजमगढ़ से हटाकर जांच कराकर सख्त कार्यवाही करनी चाहिए। साथ ही पंचायत के प्रस्तावित चुनाव प्रक्रिया से उनको अलग रखा जाये।

इस दौरान अध्यक्ष ने निर्वाचन आयुक्त से कहा कि प्रदेश में खराब कानून व्यवस्था, सत्ता के दबाव में यूपी पुलिस की लाचारगी और मंत्री द्वारा बीएलओ की बैठक को सम्बोधित करना स्पष्ट कर रहा है कि प्रस्तावित पंचायत चुनाव को यूपी सरकार गलत तरीके से जीतने का प्रयास करेगी और उस वक्त आयोग असमंजस और लाचारगी की स्थिति में होगा। उन्होंने निर्वाचन आयुक्त से मांग की है कि आजमगढ़ की बैठक के संदर्भ में उचित प्रमाणिक मूलक कार्यवाही करने का कष्ट करें उत्तर प्रदेश के पंचायत चुनाव में केन्द्रीय सुरक्षा बल लगाया जाये। इसके साथ ही यूपी पुलिस की भूमिका को नगण्य किया जाये। चुनाव में नियुक्त होने वाले प्रेक्षक भी यूपी के बाहर के हों।


Check Also

PM मोदी श्रील भक्तिवेदांत स्वामी प्रभुपाद जी की 125वीं जयंती पर एक खास स्मारक सिक्का करेंगे जारी…

 पीएम नरेंद्र मोदी बुधवार को श्रील भक्तिवेदांत स्वामी प्रभुपाद जी की 125 वीं जयंती के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *