Home >> In The News >> इस स्वतन्त्रता दिवस पर लग सकता है प्लास्टिक के राष्ट्र-ध्वज पर बैन

इस स्वतन्त्रता दिवस पर लग सकता है प्लास्टिक के राष्ट्र-ध्वज पर बैन


नई दिल्ली,(एजेंसी)22 जुलाई। हर वर्ष राष्ट्रीय पर्व गणतन्त्र और स्वतन्त्रता दिवस पर बच्चे हाथों में प्लास्टिक से बने राष्ट्रीय ध्वज लिए नज़र आते हैं। एक दिन को तो वह शान से घर और कार्यालय में फहराया जाता है और उसके बाद इधर उधर लगा नज़र आता है। अक्सर गणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस के बाद प्लास्टिक से बने ध्वजों के सड़कों और गटरों पर पड़े मिलने की शिकायतें आती रही हैं।

images (15)

इस के मद्देनजर सरकार देश में प्लास्टिक से बनाए जाने वाले राष्ट्रीय ध्वजों के इस्तेमाल, खरीद और बिक्री पर प्रतिबंध संबंधी एक आदेश जारी करने वाली है। गृह मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार मंत्रालय जल्द ही प्लास्टिक से बने राष्ट्रीय ध्वजों पर प्रतिबंध संबंधी आदेश जारी कर सकता है।

इसी वर्ष मार्च में बंबई हाईकोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार से प्लास्टिक से बने राष्ट्रीय ध्वजों के इस्तेमाल, खरीद और बिक्री पर प्रतिबंध सुनिश्चित करने वाली एक समग्र नीति लाने को कहा था। जिसपर केंद्र सरकार ने अदालत को बताया था कि प्लास्टिक से बने राष्ट्रीय ध्वजों के निर्माण पर प्रतिबंध लगाने का लंबित प्रस्ताव जल्द पारित हो सकता है।

राष्ट्रध्वज के सम्मान में बढ़ोत्तरी के लिए हाईकोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार जनता में जागरूकता पैदा करने की बात कही थी। कोर्ट ने कहा था कि जिस तरह स्कूलों की किताबों में राष्ट्रगान और प्रतिज्ञा छापी जाती है, उसी तरह राष्ट्रीय ध्वजों के बारे में भी एक संदेश छापा जाना चाहिए।

अगले कुछ दिनों में आदेश आने के बाद से प्लास्टिक ध्वज प्रतिबंधित हो जाएँगे, हो सकता है इस स्वतन्त्रता दिवस बच्चों के हाथ में प्लास्टिक की जगह कागज के ध्वज नज़र आयें।


Check Also

जाने क्यों जन्माष्टमी पर लगाया जाता है श्री कृष्णा को 56 भोग

जन्माष्टमी आने में कुछ ही समय बचा है. इस साल जन्माष्टमी का पर्व  31 अगस्त …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *