Home >> Breaking News >> IPL-7 का आयोजन भारत और यूएई में, बांग्लादेश रहेगा स्टैंडबाई

IPL-7 का आयोजन भारत और यूएई में, बांग्लादेश रहेगा स्टैंडबाई


IPL

नई दिल्ली,एजेंसी-12 मार्च। आम चुनावों को देखते हुए भारत सरकार द्वारा सुरक्षा मुहैया कराने को लेकर आसमर्थता जताए जाने के बाद बीसीसीआई ने बुधवार को यह फैसला लिया।
बीसीसीआई सचिव संजय पटेल ने अपने बयान में कहा, “कम से कम 16 मैच यूएई में होंगे। बीसीसीआई एमिरेट्स क्रिकेट बोर्ड, उसके प्रमुख शेख नाहायन मुबारक अल नाहायन और यूएई सरकार का आभारी है। हम इस बात को लेकर शुक्रगुजार हैं कि यूएई ने 16 से 30 अप्रैल तक पेप्सी आईपीएल मैच अपने यहां कराने की सहमति प्रदान की।”
पटेल ने यह भी कहा कि अगर देश में 1 ेस 12 मई के बीच मैच कराने सम्भव नहीं हुए तो फिर इस दौरान खेले जाने वाले मैचों का आयोजन बांग्लादेश मे होगा।
बकौल पटेल, “हमने 1 मई से 12 मई तक के मैचों के भारत में आयोजन के लिए गृह मंत्रालय से सम्पर्क किया है। हम चाहते हैं कि जिन शहरों में चुनाव की प्रक्रिया खत्म हो गई हो, वहां सरकार हमें मैच कराने की अनुमति दे।”
“सरकार अगर मानी तो ठीक है, नहीं तो बीसीसीआई को उसका कोई भी फैसला मंजूर होगा। अगर सरकार नहीं मानी तो फिर हम इस दौरान के मैचों का आयोजन बांग्लादेश में कराएंगे। बांग्लादेश सरकार इसके लिए तैयार है और हम उसका भी शुक्रिया अदा करना चाहते हैं।”
पटेल ने कहा कि 13 मई को होने वाले अंतिम चरण के मतदान के बाद सारे मैच भारत में खेले जाएंगे लेकिन मतगणना के दिन (16 मई) को कोई मैच आयोजित नहीं होगा। तत्पश्चात आईपीएल के प्लेऑफ मैच और फिर फाइनल भारत में होंगे।
आईपीएल प्रमुख रंजीब बिस्वाल ने कहा कि आईपीएल-7 के पहले चरण के मुकाबले अबू धाबी, दुबई और शारजाह में खेले जाएंगे।
इससे पहले 2009 में आम चुनावों के कारण सरकार द्वारा सुरक्षा मुहैया कराने की असमर्थता जताने के बाद आईपीएल का आयोजन दक्षिण अफ्रीका में किया गया था।
इस बार भी आईपीएल गवर्निग काउंसिल ने कहा था कि उसकी सूची में दक्षिण अफ्रीका सबसे पहले तटस्थ आयोजन स्थल है लेकिन अंतिम रूप से दक्षिण अफ्रीका के नाम पर विचार नहीं किया गया। इसके पीछे दूरी और टाइम जोन में अंतर को कारण माना जा सकता है।


Check Also

दशहरे पर चीन बॉर्डर का दौरा करेंगे राजनाथ सिंह, कई प्रोजेक्ट्स का उद्घाटन कर चीन को देंगे मुंहतोड़ जवाब

पूर्वी लद्दाख में कई महीनों से भारत-चीन के बीच सीमा विवाद जारी है। कई बैठकों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *