Home >> Breaking News >> राहुल ने अमेठी से पर्चा भरा

राहुल ने अमेठी से पर्चा भरा


Rahul_Gandhi_360_roadshow_PTI
अमेठी,एजेंसी-12 अप्रैल | कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को अमेठी संसदीय सीट से अपना नामांकन दाखिल किया। राहुल के साथ उनकी मां सोनिया गांधी, बहन प्रियंका वाड्रा और बहनोई राबर्ट वाड्रा भी मौजूद थे। इस दौरान सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए थे।

इससे पूर्व राहुल अपना नामांकन दाखिल करने के लिए शनिवार को विशेष विमान से सुल्तानपुर पहुंचे। वहां से वह सपरिवार रोड शो करते हुए 12 बजे अमेठी के गौरीगंज पहुंचे। प्रियंका गांधी ने मीडियाकर्मियों से बातचीत में भाजपा प्रत्याशी स्मृति ईरानी और आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार कुमार विश्वास पर तंज कसा और कहा कि अमेठी में मेहमान आए हैं, इसलिए यहां की जनता को उनका स्वागत करना चाहिए। वह यहां पर्यटन के लिए आए हैं, कुछ दिनों में चले जाएंगे।

इस दौरान हजारों कार्यकर्ता पहले ही राहुल का इंतजार कर रहे थे। राहुल के काफिले के पहुंचते ही कार्यकर्ताओं ने राहुल गांधी और सोनिया गांधी जिन्दाबाद के नारे लगाने शुरू कर दिए। राहुल के स्वागत के लिए कार्यकर्ताओं ने करीब 14 टन गुलाब के फूलों की व्यवस्था की थी, जो उनके रोड शो के दौरान उनके काफिले पर बरसाए गए।

राहुल गांधी अमेठी लोकसभा सीट से दो बार सांसद रह चुके हैं। तीसरी बार उन्होंने यहां से अपना पर्चा दाखिल किया। अमेठी नेहरू-गांधी परिवार की परम्परागत सीट मानी जाती है। उल्लेखनीय है कि भाजपा ने अमेठी से स्मृति ईरानी और आम आदमी पार्टी ने कुमार विश्वास को चुनाव मैदान में उतारा है।
उत्तर प्रदेश के अमेठी संसदीय सीट से वंशवाद के खिलाफ बिगुल फूंकने वाले आम आदमी पार्टी (आप) के नेता और यहां से उम्मीदवार कुमार विश्वास की जिद की वजह से प्रशासन को कांग्रेस उपाध्यक्ष और अमेठी से प्रत्याशी राहुल गांधी के रोड-शो के रूट बदलने के लिए मजबूर होना पड़ा।

कुमार के रोड शो के दौरान भारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच कई बार प्रशासन के साथ नोक-झोंक भी हुई। कुमार विश्वास भी अमेठी में रोड शो के माध्यम से (झाडू लगाओ, बेईमान भगाओ) यात्रा का समापन करेंगे। यात्रा का समापन रोड शो के जरिए करने के लिए उन्होंने प्रशासन से पहले ही अर्जी लगा रखी थी।

अमेठी में एक साथ कांग्रेस और आप नेता का रोड शो होने के कारण दोनों पार्टियों के समर्थकों के बीच एक बार फिर टकराव की नौबत आ गई। इसके बाद प्रशासन ने रूट में आंशिक बदलाव कर इस टकराव को टाल दिया।

गौरतलब है कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी का पूरे परिवार के साथ गौरीगंज के कलेक्ट्रेट में नामांकन करने अमहट से गौरीगंज तक रोड शो करते हुए आने का कार्यक्रम था। आप के कुमार विश्वास ने जायस से गौरीगंज होते हुए अमेठी तक रोड शो की पहले से ही अनुमति ले रखी थी।

प्रशासन की तमाम कोशिशों के बाद भी जब विश्वास ने रोड शो का रूट नहीं बदला तो फुर्सतगंज से बहादुरपुर, जायस होते हुए गौरीगंज आ रही प्रियंका गांधी वाड्रा का रूट प्रशासन ने आनन-फानन में बदल दिया। प्रियंका गांधी वाड्रा के काफिले को बहादुरपुर से जायस के बजाय मोहनगंज की ओर मोड़ दिया गया।

राहुल गांधी व सोनिया गांधी भी तय कार्यक्रम से एक घंटा विलंब से अमहट पर उतरे। गहमा-गहमी के बीच भारी सुरक्षा बंदोबस्त के बीच कुमार का रोड शो गौरीगंज में हुआ। 12 बजे के करीब कुमार विश्वास का काफिला गौरीगंज से निकल गया तब प्रशासन ने राहत की सांस ली। कुमार के गौरीगंज से बाहर जाने के बाद ही राहुल गांधी अमहट हवाई पट्टी पर उतरे। आप व कांग्रेस के नेताओं का आमना-सामना होते-होते टल गया।


Check Also

केन्द्रीय मंत्री राम विलास पासवान के बेटे चिराग पासवान से बिहार चुनाव से काफी उम्मीद लगाई जा रही

लोक जनशक्त‍ि पार्टी के अध्यक्ष चिराग पासवान के एक बयान ने बिहार की राजनीति में खलबली …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *