Home >> Breaking News >> IPL-7 : सुपर किंग्स ने राजस्थान रॉयल्स को 7 रनों से हराया

IPL-7 : सुपर किंग्स ने राजस्थान रॉयल्स को 7 रनों से हराया


IPl
दुबई,एजेंसी-24 अप्रैल। रवींद्र जडेजा (36 रन, 4 विकेट) के हरफनमौला खेल और ड्वायन स्मिथ (50) के तेज अर्द्धशतक की बदौलत चेन्नई सुपर किंग्स टीम ने बुधवार को दुबई अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम में खेले गए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 10वें और अपने तीसरे मुकाबले में राजस्थान रॉयल्स को सात रनों से हरा दिया।

सुपरकिंग्स ने टॉस हारने के बाद पहले खेलते हुए राजस्थान रॉयल्स के सामने 141 रनों का लक्ष्य रखा था, जिसके जवाब में शेन वॉटसन की पूर्व चैम्पियन टीम 133 रनों पर ढेर हो गई। राजस्थान रॉयल्स ने 19.5 ओवरों का सामना किया।

सुपरकिंग्स की यह तीन मैचों में दूसरी जीत है जबकि राजस्थान रॉयल्स को तीन मैचों में दूसरी हार मिली है।

इस जीत ने सुपरकिंग्स को अंक तालिका में दूसरे क्रम पर पहुंचा दिया है। उसके चार अंक हैं जबकि छह अंकों के साथ किंग्स इलेवन पंजाब पहले स्थान पर है। रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर चार अंकों के साथ तीसरे क्रम पर हैं।

जवाब में खेलने उतरी राजस्थान रॉयल्स टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। उसके सलामी बल्लेबाज अभिषेक नायर (5) सिर्फ 10 रन के कुल योग पर पैवेलियन लौटे। इसके बाद अजिंक्य रहाणे (15) और संजू सैमसन (16) ने पारी को सम्भालने की कोशिश की लेकिन 37 के कुल योग पर रविचंद्रन अश्विन ने रहाणे को आउट करके उनकी इस मंशा को नाकाम कर दिया।

रहाणे ने 12 गेंदों की पारी में दो चौके लगाए। कप्तान शेन वॉटसन (7) को रवींद्र जडेजा ने ज्यादा देर नहीं टिकने दिया। वॉटसन का विकेट 44 रन के कुल योग पर गिरा। जडेजा ने इसी योग पर सैमसन को भी चलता किया। सैमसन ने 16 गेंदों पर दो छक्के लगाए।

सैमसन की विदाई के बाद स्टुअर्ट बिन्नी (8) ने स्टीवन स्मिथ (19) के साथ पांचवें विकेट के लिए 19 रनों की साझेदारी की। बिन्नी को 63 के कुल योग पर मोहित शर्मा ने आउट किया। बिन्नी ने 11 गेंदों का सामना किया।

कुल योग में अभी 12 रन ही जुड़े थे कि जडेजा ने पैर जमाने का प्रयास कर रहे स्मिथ को प्लेसिस के हाथों कैच करा दिया। स्मिथ ने 20 गेंदों पर एक चौके लगाया। जेम्स फाल्कनर (4) से राजस्थान रॉयल्स को काफी उम्मीदें थीं लेकिन ईश्वर पांडेय ने उन्हें पैर नहीं जमाने दिया। फाल्कनर का विकेट 80 रन के कुल योग पर गिरा।

फाल्कनर की विदाई के कुछ पल बाद ही जडेजा ने टिम साउदी (4) को चलता कर राजस्थान रॉयल्स को आठवां झटका दिया। यह जडेजा का चौथा शिकार था। रजत भाटिया (23) ने धवल कुलकर्णी (नाबाद 28) के साथ मिलकर स्कोर को 100 के पार पहुंचाया।

भाटिया अच्छा खेल रहे थे लेकिन बेन हिल्फेनहास की एक गेंद को सीमा रेखा के बाहर भेजने के प्रयास में वह अश्विन के हाथों लपके गए। भाटिया ने 20 गेंदों पर एक चौका और एक छक्का लगाया। अब कुलकर्णी का साथ देने प्रवीण ताम्बे (2) आए।

अंतिम ओवर में राजस्थान रॉयल्स को 24 रनों की जरूरत थी। कुलकर्णी ने अश्विन द्वारा फेंके गए इस ओवर में दो छक्कों सहित 16 रन बटोरे लेकिन वह अपनी टीम को जीत नहीं दिला सके क्योंकि पारी की पांचवीं गेंद पर जब वह दो रन लेने का प्रयास करते हुए स्ट्राइक अपने पास रखने की कोशिश कर रहे थे तभी ताम्बे रन आउट हो गए।

कुलकर्णी ने अपनी नाबाद पारी में 19 गेंदों का सामना कर दो छक्के लगाए। सुपर किंग्स की ओर से जडेजा ने चार, हिल्फेनहास, पांडे, शर्मा, अश्विन ने एक-एक विकेट लिया।

इससे पहले, टॉस जीतने के बाद राजस्थान रॉयल्स ने पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया और उसके गेंदबाजों ने अपने कप्तान शेन वॉटसन के फैसले को सही ठहराते हुए सुपर किंग्स जैसी मजबूत टीम को 20 ओवरों में छह विकेट पर 140 रनों पर सीमित कर दिया।

सुपर किंग्स की ओर से ड्वायन स्मिथ ने तेज 50 और रवींद्र जडेजा ने संयम के साथ नाबाद 36 रन बनाए।

सुपर किंग्स ने ब्रेंडन मैक्लम (6) और स्मिथ की बदौलत शानदार शुरुआत की। इन दोनों ने पहले विकेट के लिए 32 गेंदों पर 35 रन जोड़े। यह अलग बात है कि इस साझेदारी में मैक्लम ने सिर्फ छह रनों का योगदान दिया। मैक्लम ने 10 गेंदों का सामना किया।

मैक्लम को जेम्स फाल्कनर ने आउट किया। इसके बाद स्मिथ का विकेट 59 रनों के कुल योग पर गिरा। स्मिथ ने 28 गेंदों का सामना कर छह चौके और तीन छक्के लगाए। स्मिथ को स्टुअर्ट बिन्नी ने वॉटसन के हाथों कैच कराया।

स्मिथ के आउट होने के बाद सुपर किंग्स ने एक के बाद एक कई अहम विकेट गंवाए। 64 के कुल योग पर सुरेश रैना (4), 71 के कुल योग पर फाफ दू प्लेसिस (7) और 74 के कुल योग पर कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (5) का विकेट गिरा।

इसके बाद जडेजा और मिथुन मन्हास (10) ने स्कोर को 100 के पार पहुंचाया। मन्हास 101 के कुल योग पर अपने साथी रजत भाटिया की गेंद पर अजिंक्य रहाणे के हाथों आउट हुए। मन्हास ने 10 गेंदों पर एक चौका लगाया।

मन्हास की विदाई के बाद विकेट पर जडेजा का साथ देने रविचंद्रन अश्विन (नाबाद 9) आए। दोनों ने बेहतरीन तालमेल के साथ सातवें विकेट के लिए 31 गेंदों पर 39 रनों की नाबाद साझेदारी निभाई और अपनी टीम को सम्मानजनक योग तक पहुंचाने का काम किया। जडेजा ने 33 गेंदों का सामना कर दो चौके लगाए। अश्विन ने 13 गेंदों पर एक चौका लगाया।

राजस्थान रॉयल्स की ओर से भाटिया ने चार ओवरों में 13 रन देकर दो विकेट लिए। इसके अलावा फाल्कनर, प्रवीण ताम्बे और स्टुअर्ट बिन्नी को एक-एक सफलता मिली। राजस्थान रॉयल्स ने 13 अतिरिक्त रन दिए।


Check Also

भगवान शिव का अनन्य भक्त था विश्रवा ऋषि का पुत्र दशानन रावण : धर्म

दशहरे का पर्व बुराई पर अच्छाई की जीत के पर्व के रुप में मनाया जाता …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *