Wednesday , 23 September 2020
Home >> Breaking News >> 2जी घोटाला : राजा ने सवालों के जवाब देने शुरू किए

2जी घोटाला : राजा ने सवालों के जवाब देने शुरू किए


2G Scam
नई दिल्ली,एजेंसी-5 मई | 2जी घोटाले की सुनवाई कर रही एक विशेष अदालत ने यहां सोमवार को पूर्व केंद्रीय दूरसंचार मंत्री ए. राजा के बयानों को दर्ज करना शुरू कर दिया। राजा को 27 मार्च को अदालत ने 1,700 से अधिक सवाल सौंपे थे, जो 824 पृष्ठों में फैले हुए हैं।

ये सवाल राजा के बयान दर्ज किए जाने की प्रक्रिया के हिस्सा हैं। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के विशेष न्यायाधीश ओ.पी. सैनी ने सोमवार सुबह राजा के बयान दर्ज करने शुरू किए। अदालत ने 153 लोगों के बयान दर्ज करने की प्रक्रिया 27 नवंबर, 2013 को समाप्त की थी, जो 4,400 पृष्ठों में फैले हुए हैं।

सर्वोच्च न्यायालय के आदेश पर पिछले वर्ष विशेष अदालत की स्थापना की गई थी। देश के नियंत्रक एवं महालेखापरीक्षक के मुताबिक 2जी मोबाइल स्पेक्ट्रम एवं संचालन लाइसेंस आवंटित करते हुए राजा ने तरफदारी की थी, जिससे सरकारी खजाने को 1.76 लाख करोड़ रुपये का नुकसान होने का अनुमान है। इस मामले में सभी आरोपी जमानत पर रिहा हो चुके हैं। इसी से संबंधित एक अन्य मामले में अदालत ने एस्सार समूह और लूप टेलीकॉम के प्रमोटरों के बयान दर्ज किए जाने की प्रक्रिया 19 मई तक के लिए रोक दी।

2जी मामले में सीबीआई द्वारा दाखिल तीसरे आरोप-पत्र में आरोप लगाया गया है कि लूप टेलीकॉम को जारी स्पेक्ट्रम और लाइसेंस के असली लाभार्थी और वास्तविक निवेशक एस्सार समूह के प्रमोटर हैं, और यह कि 2008 में 2जी लाइसेंस और स्पेक्ट्रम पाने के लिए एस्सार ने लूप टेलीकॉम को एक छद्म कंपनी के रूप में इस्तेमाल किया। आरोपियों ने इसे गलत बताया है। अदालत ने नौ अप्रैल को एस्सार समूह और लूप टेलीकॉम के प्रमोटरों को 645 सवाल सौंपे हैं।


Check Also

राष्ट्रीय शिक्षा नीति 21वीं सदी के भारत की शैक्षिक प्रणाली को पुनर्जीवित करेगा: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शनिवार को राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी) पर देश को संबोधित किया। …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *