Wednesday , 23 September 2020
Home >> Breaking News >> मां-बेटे की सरकार का जाना तय हो गया है- मोदी

मां-बेटे की सरकार का जाना तय हो गया है- मोदी


Modi
अमेठी,एजेंसी-5 मई। भाजपा के पीएम उम्मीदवार नरेंद्र मोदी सोमवार को अमेठी पहुंचे। यहां वह राहुल गांधी के खिलाफ उतरी पार्टी की उम्मीदवार स्मृति इरानी के समर्थन में एक रैली करने आए हैं। इससे पहले उन्होंने उत्तर प्रदेश में ही कुछ अन्य रैलियों को भी संबोधित किया। आज की इस रैली पर कांग्रेस की निगाह भी लगी हुई है। इस रैली का जवाब देने के लिए कांग्रेस के बड़े नेता भी मोदी के खिलाफ काशी में रैली करेंगे। मोदी ने कहा कि इस बार पॉलिटिकल पंडितों की गणना गलत साबित होकर रहेगी। उन्होंने कहा कि इस बात मां-बेटे की सरकार का जाना तय हो गया है। जनता ने आने वाली नई सरकार के लिए नई मजबूत नींव रख दी है।
गौरतलब है कि अमेठी में आठवें चरण में मतदान होगा। मोदी ने कहा कि यह जिला विकास के नाम पर सबसे पिछड़ा है। यहां के कांग्रेस परिवार जिले में विकास के नाम पर गांवों में टॉयलेट तक नहीं दे सकी। उन्होंने कांग्रेस को अहंकारी पार्टी बताया।
भाजपा के पीएम उम्मीदवार ने कहा कि पार्टी ने यहां पर स्मृति इरानी को विकास की नींव रखने के लिए भेजा है। लेकिन उनके यहां पर आने से राहुल भैया को परेशानी हो गई है। उन्होंने कहा कि हालांकि राहुल और सोनिया गांधी को परेशान करने की हमारी कोई भागीदारी नहीं है क्योंकि वह अपने किए कार्यों से खुद ही परेशान है। उन्होंने राहुल गांधी समेत पूरे परिवार पर तंज कसते हुए कहा कि यदि पूरे परिवार से अमेठी के गांवों का नाम पूछ लिया जाए तो वह नाम नहीं बता सकेंगे।
मोदी ने एक बार फिर से अमेठी के मंच से कहा कि कांग्रेस का यह राजपरिवार इस बात को बर्दाश्त नहीं कर पा रहा है कि एक चाय वाला उन्हें ललकार रहा है। उन्होंने कहा कि अब गांवों के भी अच्छे दिन आने वाले हैं। मोदी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने गरीबों का मजाक उड़ाया है। उन्होंने राज्य की सपा सरकार और केंद्र सरकार में साठगांठ का भी आरोप लगाते हुए कहा कि राहुल के यहां पर नेता जी उम्मीदवार भी नहीं खड़ा करते हैं। आज ही यहां इस पूरे इलाके में चुनाव प्रचार थम जाएगा।
मोदी ने राहुल पर विकास के नाम पर झूठ बोलने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि यदि कांग्रेस ने यहां के विकास के लिए कोई राज्य सरकार को चिटठी लिखी है तो उन्हें सार्वजनिक करना चाहिए। वहीं सपा को भी इस तरह का ही खुलासा करना चाहिए। उन्होंने अपने विरोधियों द्वारा खुद को गुस्से की राजनीति करने के सवाल पर करारा जवाब भी दिया। इस बार मंच से मोदी ने राहुल का शहजादा नहीं बल्कि राहुल भैया कहा।
मोदी से पहले यहां पर जनसभा को भाजपा की उम्मीदवार स्मृति इरानी ने संबोधित किया। उन्होंने कहा कि यहां पर कांग्रेस विकास का सपना साकार न कर सकी, इतना ही नहीं विकास के सवाल के जवाब में कांग्रेस से आज तक जवाब नहीं मिला है। उन्होंने कहा कि विकास के बदले में यहां के लोगों को लाठियां जरूर मिली हैं। उन्होंने अपने संबोधन अस्पताल में डाक्टरों की कमी का भी मुद्दा उछाला। उन्होंने कार्यकर्ताओं को भरोसा दिलाया कि यदि उनके साथ कुछ गलत हुआ तो वह विरोधियों को यहां छठी का दूध जरूर याद दिला देंगी।


Check Also

जनता दल यूनाइटेड ने कृषि बिल का समर्थन किया: बीजेपी हुई गदगद

किसानों से जुड़े दो बिल के खिलाफ विपक्ष का प्रदर्शन जारी है. इस मुद्दे पर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *