Home >> Breaking News >> बनारस को आगाह करने आया हूं : केजरीवाल

बनारस को आगाह करने आया हूं : केजरीवाल


kejriwal

वाराणसी,एजेंसी-6 मई। रोहनिया विधानसभा क्षेत्र में रोड शो के तीसरे दिन केजरीवाल ने सुबह 8 बजे शिवदासपुर गांव से शुरू की। वह मड़ुवाडीह, ककरहिया, मंगलपुर, काशीपुर, जंसा चौराहा और अकेलवा चौराहा से गुजरे।
रामेश्वर गांव में अरविंद को सुनने आईं विमला कहती हैं, “हम कभी किसी नेता को सुनने नहीं आए, पर केजरीवाल को इसलिए सुनना चाहते हैं कि हमें उम्मीद है कि वे हमें दिल्ली की तरह पर्याप्त पानी और सस्ती बिजली उपलब्ध करवाएंगे।”
लोगों को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा, “मेरे पास कांग्रेस और भाजपा की तरह चुनाव लड़ने के पैसे नहीं हैं। आप सभी अपने गांव में प्यार से लोगों को समझाइए कि यह चुनाव आप सभी को ही लड़ना है उन पार्टियों के खिलाफ जो आजादी के बाद से देश को बारी-बारी से लूटती रही हैं और इस बार भी मुंह बाए आपसे उम्मीद लगाए बैठी हैं कि आप इनके झूठे वादों पर यकीन कर उन्हें लूटने का मौका फिर दे देंगे।”
उन्होंने कहा, “मैं दिल्ली से आपको सिर्फ आगाह करने आया हूं कि अडाणी और अंबानी के इशारे पर नाचने वाला कभी आपका भला नहीं करेगा, वह पहले उनको फायदा पहुंचाएगा, जिनके दिए पैसे ये लोग चुनाव में पानी की तरह बहा रहे हैं। फिर ये अपनी झोली भरेंगे, आपसे वोट लेंगे, काम किसी और का करेंगे।पूंजीपतियों के इशारे पर महंगाई बढ़ाएंगे।”
केजरीवाल ने कहा, “आरएसएस ने भाजपा पर दबाव डालकर मोदी को किस मकसद से आगे लाकर चुनाव लड़ने को कहा है, आप सभी जानते हैं। ये लोग हमें आपस में लड़ाएंगे और अपनी रोटी सेकेंगे। ये हमें चैन से नहीं जीने देंगे। दस साल से भूखे ये लोग पावर में आते ही देश के खजाने पर टूट पड़ेंगे। देश की चिंता आप सभी को करनी है।”
बारेमा गांव में जनता के अनुरोध पर केजरीवाल गांव के अंदर लोगों से मिलने पहुंचे। गांव के तेजन सिंह यादव ने अरविंद के स्वागत में गाया, “क्रांति को लेकर हाथ में मशाल, केजरीवाल बन गए हैं भ्रष्टाचारियों का काल।”
वाराणसी संसदीय क्षेत्र में दिल्ली के पूर्व मुख्यमंत्री केजरीवाल का मुकाबला गुजरात के मुख्यमंत्री और भाजपा के मुख्य प्रचारक और प्रधानमंत्री पद के दावेदार नरेंद्र मोदी से है। मोदी गुजरात के वडोदरा से भी प्रत्याशी हैं, जहां 30 अप्रैल को मतदान हो चुका है। वाराणसी में मतदान 12 मई को होना है। यहां से कांग्रेस के अजय राय भी मैदान में हैं।


Check Also

पश्चिम बंगाल के कोलकाता में एक साथ 10 ठिकानों पर प्रवर्तन निदेशालय का छापा, TMC नेताओं से लिंक का शक

पूरे देश में रिकॉर्ड टीकाकरण के बीच फर्जी वैक्सीन का मामला भी प्रकाश में आया …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *