Home >> Breaking News >> पीएम मोदी :हमने रोका 37 हजार करोड़ रुपए का भ्रष्टाचार

पीएम मोदी :हमने रोका 37 हजार करोड़ रुपए का भ्रष्टाचार


ek-nayi-subah-show_29_05_2016नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजग सरकार के दो साल पूरे होने पर कहा कि पिछले कुछ दिनों से हम दो चीजें देख रहे हैं। एक तरफ विकासवाद है और दूसरी तरफ विरोधवाद है। एक तरफ विकास का एजेंडा है और दूसरी तरफ विध्वंसवाद है। जनता सच्चाई का पता लगाने में सक्षम है।

राजग सरकार के दो साल पूरे होने पर इंडिया गेट पर आयोजित एक ‘नई सुबह’ कार्यक्रम में कांग्रेस के सरकार विरोधी अभियान का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने करारा जवाब दिया। उन्होंने एक ओर जहां अपनी सरकार को बेदाग बताया, वहीं यह भी कहा कि जिन्होंने पैसे खाए हैं, उन्हें मुश्किल तो होगी ही।

प्रधानमंत्री ने कहा कि दो साल के कार्यकाल में उनकी सरकार पर भ्रष्टाचार के एक भी आरोप नहीं लगे हैं। सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में चुनी गई सरकार का समय-समय पर लेखा-जोखा होना चाहिए। दो साल पहले हमें एक जिम्मेदारी मिली थी, हमें देखना होगा कि हम कहां तक पहुंचे हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि उनकी सरकार में अब तक 37 हजार करोड़ रुपए का भ्रष्टाचार रुका। यह जनता का पैसा है और ये सिर्फ दो साल के लिए नहीं है, ये हर साल बचेगा।

उन्होंने कहा कि पिछले 15 दिनों से भारत सरकार के कामकाज का बहुत बारीकी से विश्लेषण हो रहा है। उसके सभी पहलुओं पर करीब से नजर रखी जा रही है। लोकतंत्र में हम हरेक के काम को बारीकी से परखते हैं। लेकिन हम निराशा का एक झूठा माहौल खड़ा करने की गलती नहीं कर सकते। दो साल के दौरान लोगों में विश्वास और हमारा उत्साह बढ़ा है। हमारे लिए लोगों का आशीर्वाद भी बढ़ा है।

उन्होंने कहा कि हमारे असली काम की परख तभी हो सकती है जब हमें याद रहे कि हमारी पिछली सरकारों ने क्या किया था। भ्रष्टाचार ने हमारे देश को दीमक की तरह चाट लिया था। दो साल पहले कोई अखबार और समाचार चैनल भ्रष्टाचार की खबरों से अछूता नहीं था। अगर मैंने इतना भ्रष्टाचार रोका है तो कई लोग मुझे कोस रहे होंगे।

प्रधानमंत्री ने सरकार के कामकाज का लेखाजोखा देते हुए कहा, ‘अगर मैं अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाना शुरू करूं तो दूरदर्शन वालों को यहां पर एक हफ्ते तक रुकना पड़ेगा। लेकिन मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि हमारी तरफ से कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी। हमारा देश आगे बढ़ रहा है और आगे बढ़ता रहेगा।’

उन्होंने सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि अब तृतीय और चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों का कोई इंटरव्यू नहीं होगा। मैरिट के आधार पर कंप्यूटर तय करेगा का नौकरी के लिए कौन सबसे अधिक उपयुक्त है। मैंने आयकर अधिकारियों से पूछा कि आप देश की जनता को बेईमान क्यों समझते हैं। आपको देश की जनता में विश्वास होना चाहिए।

उन्होंने कहा कि हमने पिछले साल 3 करोड़ से अधिक परिवारों को एलपीजी कनेक्शन दिए। इतने बड़े पैमाने पर भारत में पहले कभी काम नहीं हुआ। आने वाले सालों में 5 करोड़ लोगों को यह सुविधा मुहैया कराई जाएगी। उन्होंने कहा कि एलईडी बल्ब के अभियान की वजह से हमें 20 हजार मेगावाट बिजली बचाने में मदद मिली है।

 

Check Also

दिल्ली हाई कोर्ट द्वारा दिए गए आदेश के खिलाफ भारत सरकार ने खटखटाया सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा

दिल्ली समेत तमाम राज्यों में ऑक्सीजन सप्लाई के मुद्दे पर अधिकारियों को कोर्ट में तलब …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *