Home >> Breaking News >> यौन गुलाम बनी लड़कियों को ऑनलाइन बेच रहा आईएस

यौन गुलाम बनी लड़कियों को ऑनलाइन बेच रहा आईएस


isis_sex_slaves_29_05_2016वॉशिंगटन। आईएस के आतंकी अब अपनी सेक्स गुलामों को बिक्री के लिए ऑनलाइन भी उपलब्ध करवा रहे हैं। इसका ताजा उदाहरण बीते दिनों देखने को मिला, जब एक आईएस आतंकी ने दो लड़कियों के फोटो फेसबुक पर पोस्ट किए और लिखा कि ये बिक्री के लिए उपलब्ध हैं।

कुम्हलाए से चेहरे वाली एक लड़की की उम्र तकरीबन 18 साल होगी। अपनी फेसबुक फोटो में मुस्कुराने की उसकी कोशिश झलक जाती है और साथ ही फोटोग्राफर से नजर न मिलाने वाली बात भी दिख जाती है। इसके साथ लगे फोटो कैप्शन में बस एक बात लिखी होती है, ‘यह बिक्री के लिए है।’

20 मई को खुद को अबू असद अलमानी कहने वाला इस्लामिक स्टेट का आतंकी फेसबुक पर पोस्ट करता है, ‘गुलाम खरीदने के बारे में सोच रहे भाई लोग, इसकी कीमत 8000 अमेरिकी डॉलर है।’ यही शख्स कुछ ही घंटों के भीतर फेसबुक पर फिर एक फोटो पोस्ट करता है लेकिन इस बार पीले चेहरे वाली लड़की होती है जिसकी लाल रंग की आंखें दरिया हुई जाती है।

अबू असद अलमानी फिर पोस्ट करता है, ‘एक और गुलाम। इसकी कीमत भी तकरीबन 8000 अमेरिकी डॉलर ही है। हां या नहीं?’

हालांकि, फेसबुक इन तस्वीरों को कुछ ही घंटों के भीतर हटा लेता है। यह साफ नहीं हो पाया कि अबू असद अलमानी यह खुद कर रहा था या फिर किसी और की तरफ से ऐसा कर रहा था।

लेकिन इस घटना ने विशेषज्ञों की उस चिंता को फिर से रेखांकित किया है कि आईएस के जाल में फंस गई सैकड़ों लड़कियों का किस तरह से यौन शोषण किया जा रहा है और उन पर क्या-क्या मुसीबतें गुजर रही हैं। आतंकवाद मामलों के जानकारों और मानवाधिकार समूहों का कहना है कि इस्लामिक स्टेट पर इराक और सीरिया में जिस तरह से दबाव बढ़ रहा है, उसका खामियाजा महिला गुलामों को भुगतना पड़ रहा है।

नकदी, खाद्य सामाग्री और दवाओं के संकट से जूझ रहे आतंकवादी इन गुलामों को खरीद-बेच रहे हैं। इस कारोबार में आईएस के आंतकवादियों द्वारा सोशल मीडिया के इस्तेमाल के कई उदाहरण देखे गए हैं। यहां तक कि यौन गुलामों की खरीद-बिक्री को लेकर इनके बीच ‘नियम-कायदे’ भी अस्तित्व में आ गए हैं।

इन दिशानिर्देशों में इस बात का जिक्र भी है कि माहवारी की उम्र आने से पहले भी क्या लड़कियों के साथ सेक्स किया जा सकता है? इस्लामिक स्टेट के कथित कानूनी जानकार इसका जवाब हां में देते हैं और यह भी बताते हैं कि उन्हें कितनी दरिंदगी से पीटा जा सकता है।


Check Also

कोरोना संक्रमण के लक्षण होने पर परिवार ने डॉक्टर से ले ली दवा ! एक ही परिवार के 8 लोगों की मौत, 5 की हालत नाज़ुक

 छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले में एक ही परिवार के 8 लोगों की मौत होने की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *