Home >> IPL Cricket >> मैं विराट से मैच दूर नहीं ले जा सकता था : वॉर्नर

मैं विराट से मैच दूर नहीं ले जा सकता था : वॉर्नर


david_statement_30_05_2016बेंगलुरु। आईपीएल-9 के रोमांचक फाइनल में रॉयल चैलेंजर्स बंगलोर को 8 रन से हराने के बाद सनराइसर्ज हैदराबाद के कप्‍तान डेविड वॉर्नर ने कहा कि यह टीम की शानदार उपलब्धि है।

उन्‍होंने कहा, ‘इस टीम की अगुआई और‍ खिलाडि़यों का समर्थन करना शानदार रहा। मैंने रन बनाए और यह बड़ा सफर रहा। यह पूरी टीम प्रयास रहा। सही मुकाबले के लिए हमे आपस में घुलने-मिलने की जरूरत थी। हमारे लिए, टीम प्रयास सबकुछ था।’

यह पूछने पर कि पहले बल्‍लेबाजी करते समय कोई लक्ष्‍य सोचा था तो वॉर्नर ने कहा, ‘हमे पता था कि 200 से अधिक रन बनाना होंगे। विराट कोहली शानदार लीडर हैं, मैं उनसे मुकाबला दूर नहीं खींच सकता था। उन्‍होंने इस सत्र में बेंचमार्क स्‍थापित किया है। हमे पता था कि लगातार तीन मुकाबले जीतने होंगे। बेंगलुरु में जीतना सुखद है, हमे पसंदीदा नहीं माना जा रहा था। मगर हमने अच्‍छी बल्‍लेबाजी, गेंदबाजी और फील्डिंग की। फाइनल की जीत का श्रेय सनराइजर्स से जुड़ी पूरी टीम को जाता है। सभी ने एक-दूसरे की खूब हौसला अफजाई की। अब हम जश्‍न मनाएंगे। मुझे अगले 24 घंटों में कैरेबियाई धरती पर पहुंचना है, इसलिए अब बीयर पीकर जश्‍न मनाएंगे।’

15 गेंदों में 39 रन की तूफानी पारी तथा दो विकेट लेकर मैन ऑफ द मैच बने बेन कटिंग ने कहा, ‘इतने बड़े क्राउड के सामने खेलना उत्‍साहजनक रहा। डेविड वॉर्नर ने पिछले सत्रों के समान टीम को खड़ा किया। अगर वॉर्नर की बात नहीं होती तो हम शायद यहां नहीं खड़े होते। पर्पल कैप जीतने वाले भुवनेश्‍वर कुमार ने पूरे सत्र में शानदार प्रदर्शन किया।’

यह पूछने पर बल्‍ले और गेंद दोनों से योगदान देने पर कैसा महसूस हो रहा है तो कटिंग ने जवाब दिया, ‘यह बेंगलुरु की खूबसूरती है। आप बल्‍ले और गेंद दोनों से योगदान दे सकते हैं।’ बता दें कि आईपीएल फाइनल में मैन ऑफ द मैच जीतने वाले बेन कटिंग दूसरे विदेशी खिलाड़ी हैं।

वहीं पर्पल कैप जीतने वाले भुवनेश्‍वर कुमार ने कहा, ‘शुरुआत के दो मुकाबलों में खराब प्रदर्शन से निराश था। मगर वीवीएस लक्ष्‍मण ने मेरी मदद की। उन्‍होंने कहा कि तुम मैच विजेता खिलाड़ी हो और अपनी काबिलियत पर भरोसा रखो। मैंने अपने बेसिक्‍स पर काम किया। टूर्नामेंट में मैंने अंतिम ओवरों में गेंदबाजी में सुधार किया। नई गेंद से गेंदबाजी करना भी अच्‍छा रहा।’ यह पूछने पर कि मुस्‍ताफिजुर रहमान के साथ गेंदबाजी करने में मजा आया तो भुवी ने कहा, ‘बिलकुल, वह ऐसे गेंदबाज हैं, जिन्‍हें शॉट लगाना बहुत मुश्किल है। उनकी ऑफ कटर्स और यॉर्कर गेंदें बेहतरीन है। मैं पहले भी कह चुका हूं कि उनकी जैसी काबिलियत किसी में नहीं है। उनकी धीमी गति की गेंद को समझना मुश्किल है।


Check Also

चेन्नई, दिल्ली और कोलकाता की टीम हार्ड क्वारंटीन में, मैच खेलने पर संशय

इंडियन प्रीमियर लीग के 14वें सीजन में कोरोना महामारी ने मुश्किलें पैदा कर दी है। …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *