Home >> Breaking News >> IPL-7 : साहा ने किंग्स इलेवन को फिर पहुंचाया शीर्ष पर

IPL-7 : साहा ने किंग्स इलेवन को फिर पहुंचाया शीर्ष पर


IPL 7
हैदराबाद,एजेंसी-15 मई। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के सातवें संस्करण के तहत बुधवार को राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम में हुए 39वें मैच में किंग्स इलेवन पंजाब के बल्लेबाजों ने एक बार फिर धुआंधार बल्लेबाजी का नजारा पेश करते हुए सनराइजर्स से मिले 206 रनों के विशाल लक्ष्य को भी बौना साबित कर दिया।

सनराइजर्स से मिले 206 रनों के चुनौती भरे लक्ष्य का पीछा करते हुए किंग्स इलेवन ने चार विकेट खोकर 18.4 ओवरों में 211 रन बना डाले, और आठ गेंद शेष रहते छह विकेट से जीत हासिल की। किंग्स इलेवन की जीत में वैसे तो ग्लेन मैक्सवेल (43), मनन वोहरा (47), कप्तान जॉर्ज बैले (नाबाद 35) और डेविड मिलर (नाबाद 24) ने अहम योगदान दिए ही, लेकिन जीत की नींव तो रिद्धिमाना साहा (54) ने ही रखी। साहा को उनकी बेहतरीन आतिशी अर्धशतकीय पारी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया।

इस जीत के साथ ही किंग्स इलेवन एक बार फिर अंकतालिका में शीर्ष पर पहुंच गया। किंग्स इलेवन और चेन्नई सुपर किंग्स दोनों के 16-16 अंक हैं, लेकिन बेहतर नेट रन रेट के आधार पर किंग्स इलेवन ने सुपर किंग्स को दूसरे स्थान पर धकेलते हुए शीर्ष पर कब्जा जमाया। वहीं इस हार के बावजूद सनराइजर्स पांचवें पायदान पर जमे हुए हैं। विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरे किंग्स इलेवन को दूसरी ही गेंद पर विरेंद्र सहवाग (4) के रूप में पहला झटका लग गया। पहली गेंद पर चौका लगाने वाले सहवाग गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार को दूसरी ही गेंद पर कैच थमा बैठे।

किंग्स इलेवन को हालांकि इस शुरुआती झटके से साहा और वोहरा ने उबार लिया। साहा और वोहरा ने दूसरे विकेट के लिए ताबड़तोड़ 91 रनों की साझेदारी कर आईपीएल में किसी टीम द्वारा सबसे तेजी से 100 रन बनाने का कीर्तिमान रच डाला। यह कीर्तिमान स्थापित करने के लिए हालांकि ग्लेन मैक्सवेल (43) को आना पड़ा। मैक्सवेल के छक्के की मदद से किंग्स इलेवन का स्कोर 7.3 ओवरों में 100 रन को पार कर गया।

साहा और वोहरा के बीच सलामी जोड़ी की साझेदारी 41 गेंदों तक चली। इस बीच साहा ने 22 गेंदों में अपना अर्धशतक भी पूरा कर लिया। कर्ण शर्मा की गेंद पर साहा विकेट के पीछे लपके गए। साहा ने 26 गेंदों की अपनी तेज पारी में आठ चौके और दो छक्के लगाए।

साहा के जाने के बाद बल्लेबाजी करने आए मैक्सवेल ने आते ही उसी ओवर में तीन छक्के जड़ दिए। मैक्सवेल और वोहरा के बीच तीसरे विकेट की साझेदारी सिर्फ दो ओवर चली, हालांकि इस बीच उन्होंने तेजी से 30 रन जोड़े। वोहरा 10वें ओवर की पहली गेंद पर 125 के कुल योग पर रन आउट हुए। वोहरा ने 20 गेंदों का सामना कर पांच चौके और दो छक्का लगाया।

अब क्रीज पर किंग्स इलेवन को कई मैच जिता चुकी धुरंधर जोड़ी मैक्सवेल और मिलर की थी। मैक्सवेल, मिलर ने भी रन गति धीमी नहीं होने दी और चौथे विकेट के लिए अगले चार ओवरों में 34 रनों की साझेदारी निभाई। इस बीच अमित मिश्रा द्वारा फेंके गए 11वें ओवर के दूसरे गेंद पर मैक्सवेल का कैच डेल स्टेन ने लपका, लेकिन यह गेंद नो बॉल थी और मैक्सवेल को इस तरह जीवनदान मिला।

मैक्सवेल हालांकि इस जीवनदान का फायदा ज्यादा देर नहीं उठा सके। मिश्रा ने जैसे अपनी भूल सुधारते हुए 14वें ओवर की पहली गेंद पर मैक्सवेल को स्टेन के ही हाथों कैच आउट करवा दिया। मैक्सवेल ने इस बीच 22 गेंदों का सामना कर दो चौके और पांच छक्के लगाए। शुरुआत बल्लेबाजों की इस मेहनत को इसके बाद बल्लेबाजी करने आए कप्तान बैले ने जाया नहीं जाने दिया, तथा मिलर के साथ पांचवें विकेट के लिए नाबाद 52 रनों की साझेदारी कर टीम को जीत दिला दी। बैले ने 19 गेंदों में दो चौके और तीन छक्का लगाया, जबकि मिलर ने 24 गेंदों की संयमभरी पारी में एक चौका लगाया। सनराइजर्स की गेंदबाजी इस मैच में पटरी से उतरी नजर आई और कोई भी गेंदबाज प्रभावित नहीं कर सका।

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए सनराइजर्स ने नमन ओझा (नाबाद 79) की आतिशी अर्धशतकीय पारी की बदौलत निर्धारित 20 ओवरों में पांच विकेट के नुकसान पर 205 रन बनाए। सनराइजर्स को एरॉन फिंच (20) और कप्तान शिखर धवन (45) ने सधी हुई शुरुआत दी। इस सलामी जोड़ी ने 8.1 ओवरों में 65 रनों की साझेदारी की। शिवम शर्मा की गेंद पर क्लीन बोल्ड होकर फिंच पवेलियन लौटे।

कप्तान शिखर धवन भी इसके बाद ज्यादा देर नहीं टिक सके और ऋषि धवन द्वारा लाए गए 12वें ओवर की पहली गेंद पर शिवम के हाथों कैच आउट हुए। शिखर धवन ने इस बीच 37 गेंदों का सामना कर पांच चौके और दो छक्के लगाए। धवन का विकेट 88 रनों के कुल योग पर गिरा। इसके बाद बल्लेबाजी करने आए नमन ओझा और डेविड वार्नर (44) ने तीसरे विकेट के लिए 81 रनों की तूफानी साझेदारी कर सनराइजर्स का स्कोर 18.4 ओवरों में 169 रन तक पहुंचा दिया।

19वां ओवर लेकर आए संदीप शर्मा ने इसी ओवर में वार्नर और मोएसिस हेनरिक्स (0) के दो विकेट जरूर चटकाए, लेकिन दूसरे छोर पर नमन ओझा ने रन बनाना जारी रखते हुए इसी ओवर में 26 रन जोड़ डाले। वार्नर ने रन आउट होने से पहले 23 गेंदों में तीन चौके और इतने ही छक्के लगाए।

अखिरी ओवर में इरफान पठान (1) के रूप में सनराइजर्स का एक विकेट और गिरा, लेकिन अंत तक नाबाद रहे ओझा ने इस बीच 36 गेंदों का सामना कर चार चौके और सात छक्कों की मदद से सनराइजर्स को 205 रनों के विशाल स्कोर तक पहुंचा दिया। किंग्स इलेवन की तरफ से ऋषि धवन ने सर्वाधिक दो विकेट हासिल किए, जबकि मिशेल जॉनसन सबसे किफायती गेंदबाज रहे। जॉनसन को हालांकि विकेट नहीं मिले।


Check Also

26 दिन बाद कोरोना की रफ्तार में लगी ब्रेक, लेकिन मौत का तांडव जारी…

कोरोना की दूसरी लहर में रोजाना सामने आने वाले नए मामलों में बीत कुछ दिनों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *