Home >> Breaking News >> IPL 7- दिल्ली को हराकर पंजाब आईपीएल के नॉकआउट में

IPL 7- दिल्ली को हराकर पंजाब आईपीएल के नॉकआउट में


KINGS 11

नई दिल्ली,एजेंसी-20 मई। बीस साल से कुछ अधिक उम्र के दो बल्लेबाजों मनन वोहरा (42) और अक्षर पटेल (नाबाद 42) की उम्दा पारियों से किंग्स इलेवन पंजाब ने दिल्ली डेयरडेविल्स को चार विकेट से हराकर आईपीएल सात में नौवीं जीत दर्ज करते हुए नॉकआउट दौर में प्रवेश किया। नॉकआउट दौर में पहुंचने वाली पंजाब पहली टीम है जब‍कि आईपीएल में दिल्ली की यह लगातार सातवीं हार है।

दिल्ली के 165 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए पंजाब ने दो गेंद शेष रहते छह विकेट पर 166 रन बनाकर जीत दर्ज की। इस जीत के बाद पंजाब के 11 मैचों में नौ जीत से 18 अंक हो गए हैं और उसने शीर्ष पर अपनी स्थिति मजबूत कर ली है।

दिल्ली की ओर से इमरान ताहिर ने 22 रन देकर तीन जबकि जेपी डुमिनी ने 27 रन देकर दो विकेट चटकाए लेकिन अपनी टीम को जीत नहीं दिला पाए।

मौजूदा सत्र में दिल्ली की फिरोज शाह कोटला पर हुए पांच मैचों में यह पांचवीं हार है जबकि यूएई चरण के बाद भारत में अब तक हुए सभी सात मैचों में टीम को हार का सामना करना पड़ा है। टीम के 12 मैचों में दो जीत से सिर्फ चार अंक हैं और उसका लगातार दूसरे साल अंतिम पायदान पर रहना लगभग तय है।

इससे पहले दिल्ली डेयरडेविल्स ने दिनेश कार्तिक (69) और कप्तान केविन पीटरसन (49) की उम्दा पारियों की मदद से सात विकेट पर 164 रन का मजबूत स्कोर खड़ा किया था।

पंजाब की ओर से संदीप शर्मा और ब्युरेन हेंड्रिक्स ने क्रमश: 35 और 36 रन देकर तीन तीन विकेट चटकाए। अक्षर पटेल ने किफायती गेंदबाजी करते हुए चार ओवर में 18 रन देकर एक विकेट हासिल किया।

लक्ष्य का पीछा करने उतरे पंजाब को वीरेंद्र सहवाग (23) और वोहरा (42) की सलामी जोड़ी ने 6.2 ओवर में 67 रन जोड़कर तूफानी शुरुआत दिलाई। सहवाग ने मोहम्मद शमी पर दो चौकों के साथ शुरुआत की जबकि वोहरा ने इस तेज गेंदबाज पर लगातार दो छक्के मारे। वोहरा ने वेन पार्नेल की लगातार तीन गेंदों पर दो चौके और एक छक्का भी मारा।

केविन पीटरसन ने इसके बाद गेंदबाज इमरान ताहिर को थमाई, जिन्होंने अपने कप्तान को निराश नहीं करते हुए वोहरा को लांग ऑफ पर मुरली विजय के हाथों कैच करा दिया। वोहरा ने 19 गेंद का सामना करते हुए चार चौके और तीन छक्के मारे।

मैक्सवेल ने आते की ताहिर की गेंद को लांग लेग पर दर्शकों के बीच पहुंचाया। सहवाग ने भी जेपी डुमिनी पर छक्का जड़ा लेकिन इसी स्पिनर की गेंद पर मनोज तिवारी को कैच दे बैठे।

ताहिर ने इसके बाद टूर्नामेंट के शीर्ष स्कोरर मैक्सवेल (14) को बोल्ड करके दिल्ली को तीसरी सफलता दिलाई। डेविड मिलर (2) भी इसके बाद डुमिनी की गेंद को आगे बढ़कर खेलने की कोशिश में अपना लेग स्टंप गंवा बैठे, जिससे टीम का स्कोर चार विकेट पर 94 रन हो गया।

पंजाब ने लगातार चार ओवर में चार विकेट गंवाए। टीम के रनों का शतक 11वें ओवर में पूरा हुआ। रिद्धिमान साहा (13) और पटेल ने इसके बाद विकेटों के पतन पर विराम लगाते हुए पांचवें विकेट के लिए 33 रन की साझेदारी की। शमी ने साहा को शार्ट कवर पर पार्नेल के हाथों कैच कराके इस साझेदारी को तोड़ा।

पंजाब को अंतिम पांच ओवर में जीत के लिए 38 रन की दरकार थी। पटेल ने पार्नेल पर तीन चौके जड़कर गेंद और रन के बीच के अंतर को कम किया। ताहिर ने दिल्ली के कप्तान जार्ज बैली (6) को आउट किया लेकिन पटेल ने रिषि धवन (पांच गेंद में नाबाद आठ) के साथ मिलकर टीम को जीत दिला दी। धवन ने अंतिम ओवर में पार्नेल पर छक्का जड़कर टीम को लक्ष्य तक पहुंचाया। पटेल ने 35 गेंद का सामना करते हुए पांच चौके और एक छक्का मारा।

इससे पहले कार्तिक ने 44 गेंद में सात चौकों और तीन छक्कों की मदद से 69 रन की पारी खेलने के अलावा पीटरसन (49) के साथ दूसरे विकेट के लिए 71 और जेपी डुमिनी (17) के साथ तीसरे विकेट के लिए 56 रन की साझेदारी करके टीम को बड़े स्कोर तक पहुंचाया।

टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरे दिल्ली ने तीसरे ओवर में ही मुरली विजय (5) का विकेट गंवा दिया जिनका संदीप की गेंद पर हेंड्रिक्स ने पीछे की ओर दौड़ते हुए शानदार कैच लपका। पीटरसन और कार्तिक ने इसके बाद तेजी से रन बटोरे। पीटरसन ने हेंड्रिक्स के पारी के चौथे ओवर में दो चौके और एक छक्का जड़ा।

कार्तिक ने भी संदीप पर छक्का मारा। दोनों ने पावर प्ले के छह ओवर में स्कोर एक विकेट पर 55 रन तक पहुंचाया, जो आईपीएल सात का टीम का सर्वश्रेष्ठ स्कोर है।

पीटरसन ने रिषि धवन का स्वागत लगातार दो चौकों के साथ किया लेकिन बायें हाथ के स्पिनर अक्षर पटेल की सीधी गेंद को चूककर बोल्ड हो गए। उन्होंने 32 गेंद का सामना करते हुए छह चौके और एक छक्का लगाया।

कार्तिक दूसरे छोर पर डटे रहे। उन्होंने धवन और शिवम शर्मा पर चौका लगाया और इस दौरान आईपीएल में 2000 पूरे करने वाले 16वें बल्लेबाज भी बने। उन्होंने 35 गेंद में आईपीएल का अपना नौवां अर्धशतक पूरा किया।

डुमिनी स्ट्राइक रोटेट करते रहे। अंतिम ओवरों में हालांकि रन गति बढ़ाने की कोशिश में वह हेंड्रिक्स की गेंद पर वाइड लांग ऑन पर ग्लेन मैक्सवेल को कैच दे बैठे।

संदीप का पारी का 18वां ओवर घटना प्रधान रहा। उन्होंने पहली गेंद पर केदार जाधव (0) को मैक्सवेल के हाथों कैच कराया। मयंक अग्रवाल ने आते ही संदीप पर छक्का जड़ा लेकिन अगली गेंद पर बोल्ड हो गए। ओवर की अंतिम गेंद पर मनोज तिवारी ने भी छक्का जड़ा।

कार्तिक इसके बाद हेंड्रिक्स की गेंद का उठाकर मारने की कोशिश में डीप स्क्वायर लेग पर धवन को कैच दे बैठे। वेन पार्नेल (2) ने इसी ओवर में मैक्सवेल को कैच थमाया। दिल्ली की टीम ने इस बीच 18 रन जोड़कर पांच विकेट गंवाए लेकिन इसके बावजूद टीम अंतिम छह ओवर में 60 रन जोड़ने में सफल रही।


Check Also

दशहरे पर चीन बॉर्डर का दौरा करेंगे राजनाथ सिंह, कई प्रोजेक्ट्स का उद्घाटन कर चीन को देंगे मुंहतोड़ जवाब

पूर्वी लद्दाख में कई महीनों से भारत-चीन के बीच सीमा विवाद जारी है। कई बैठकों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *