Saturday , 19 September 2020
Home >> Breaking News >> हॉकी विश्व कप : आस्ट्रेलिया से 0-4 से हारी भारतीय टीम

हॉकी विश्व कप : आस्ट्रेलिया से 0-4 से हारी भारतीय टीम


Hockey
द हेग,एजेंसी-10 जून। मौजूदा चैम्पियन आस्ट्रेलिया ने सोमवार को राबोबैंक विश्व कप के ग्रुप-ए मुकाबले में भारतीय टीम को 4-0 से हरा दिया। यह भारत की तीसरी हार है जबकि आस्ट्रेलिया ने लगातार पांचवीं जीत हासिल की है। आस्ट्रेलिया सेमीफाइनल में पहुंच चुका है जबकि भारत खिताब की दौड़ से बाहर हो चुका है। क्योसेरा स्टेडियम में खेले गए इस मुकाबले में आस्ट्रेलिया के लिए कीरन गोवर्स ने तीसरे, क्रिस किरिएलो ने 16वें और 22वें तथा जेरेमी हेवार्ड ने 20वें मिनट में गोल किए। किरिएलो ने दोनों गोल पेनाल्टी कार्नर पर किए जबकि हेवार्ड ने भी पेनाल्टी कार्नर पर ही गोल किया।
पूरे मैच में आस्ट्रेलिया को जहा छह पेनाल्टी कार्नर मिले वहीं भारत एक भी पेनाल्टी कार्नर नहीं हासिल कर सका। आस्ट्रेलिया ने पहले हाफ में 14 बार भारतीय डी-एरिया में धावा बोला और कुल नौ बार जोरदार हमले किए।
भारतीय टीम एक बार भी गोल का प्रयास नहीं कर सकी। वह तो सिर्फ तीन बार विपक्षी टीम के डी-एरिया में घुस की।
दूसरे हाफ में हालांकि भारत ने सुधरा हुआ प्रदर्शन किया। आस्ट्रेलिया ने इस दौरान 15 बार उसके डी-एरिया को भेदा और नौ बार गोल करने का प्रयास किया लेकिन भारतीय रक्षापंक्ति ने अपनी मुस्तैदी से उन्हें नाकाम कर दिया।
दूसरे हाफ में भारत ने गोल करने का तीन बार प्रयास किया लेकिन उसे सफलता नहीं मिली। भारत ने नौ बार आस्ट्रेलिया के डी-एरिया में प्रवेश किया। आस्ट्रेलियाई टीम ने मैच में कुल 15 बार टारगेट पर हमला किया और चार बार गोल करने में सफल रही।
भारत ने पांच मैचों से चार अंक जुटाए हैं। वह ग्रुप-ए की तालिका में चौथे क्रम पर है। स्पेन अगर अपने अंतिम मैच में मलेशिया को हराने में सफल रहा तो फिर भारत पांचवें स्थान पर खिसक जाएगा। अगर मलेशिया ने स्पेन को हरा दिया या फिर ड्रॉ पर रोक दिया तो भारत की स्थिति बरकरार रहेगी और वह आठवें स्थान के लिए प्रयास करेगा।
अब तक के रिकार्ड की बात करें तो विश्व कप में भारत और आस्ट्रेलिया के बीच यह आठवीं भिडंत थी। भारत ने एक मैच जीता है जबकि एक मैच बराबरी पर छूटा है। भारत छह बार हारा है। भारत ने इस दौरान 11 किए हैं जबकि उसके खिलाफ 25 गोल हुए हैं।
भारत ने 1975 विश्व कप में आस्ट्रेलिया को 1-1 की बराबरी पर रोका था। उस साल भारत ने पहली और अंतिम बार विश्व कप खिताब जीता था। नई दिल्ली में आयोजित विश्व कप में जब भारत और आस्ट्रेलिया की भिड़ंत हुई थी, तब आस्ट्रेलिया 5-2 से विजयी रहा था।
इस साल भारत ने ग्रुप स्तर पर कुल पांच मैच खेले। उसे एक में जीत मिली जबकि तीन में हार मिली। एक मैच बराबरी पर छूटा। भारत को बेल्जियम ने 3-2, इंग्लैंड ने 2-1 और आस्ट्रेलिया ने 4-0 से हराया जबकि फ्रांस ने उसे 1-1 की बराबरी पर रोका था। भारत मलेशिया पर 3-2 से जीत हासिल करने में सफल रहा था।


Check Also

IPL 2020 आकाश चोपड़ा ने आइपीएल के 13वें सीजन के लिए केकेआर की बेस्ट प्लेइंग इलेवन का किया चयन

पूर्व भारतीय क्रिकेटर व कमेंटेटर आकाश चोपड़ा इन दिनों लगातार आइपीएल को लेकर अपनी राय …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *