Home >> Breaking News >> संघर्ष विराम उल्लंघनों से निपटने में सेना सक्षम : जेटली

संघर्ष विराम उल्लंघनों से निपटने में सेना सक्षम : जेटली


Arun Jaitley
श्रीनगर,एजेंसी-14 जून | रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने शनिवार को कहा कि भारतीय सेना जम्मू एवं कश्मीर में पाकिस्तान द्वारा किए जाने वाले संघर्ष विराम उल्लंघनों से निपटने में पूरी तरह सक्षम और सुसज्जित है। जेटली शनिवार को जम्मू एवं कश्मीर के दो दिवसीय दौरे पहुंचे हैं। उन्होंने राज्य की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में संवाददाताओं से कहा, “मैं यहां पूरी सुरक्षा स्थिति की समीक्षा करने आया हूं। इस दौरे के दौरान मैं अधिकारियों से बातचीत करूंगा।”

जम्मू क्षेत्र के पुंछ जिले में शुक्रवार को नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर पाकिस्तान द्वारा किए गए संघर्ष विराम उल्लंघन के सवाल पर रक्षा मंत्री ने कहा, “हमारी सेना ऐसे उल्लंघनों से निपटने के लिए अच्छी तरह सुजज्जित और पर्याप्त शक्तिशाली है।” बादामी बाग स्थित सेना की 15वीं वाहिनी के मुख्यालय में जनरल ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ उत्तरी कमान, लेफ्टिनेंट जनरल डी.एस.हूडा और 14वीं,15वीं तथा 16वीं वाहिनी के कमांडरों ने जेटली को सीमाओं और सुदूरवर्ती क्षेत्रों की सुरक्षा स्थिति के बारे में जानकारी दी। इस दौरान भारतीय थल सेना अध्यक्ष जनरल बिक्रम सिंह भी मौजूद थे।जेटली शनिवार को दोपहर बाद जम्मू एवं कश्मीर के मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला से भी मुलाकात करेंगे। राज्यपाल एन.एन. वोहरा रात को राजभवन में जेटली को भोज देंगे। जेटली रविवार को श्रीनगर में एकीकृत मुख्यालय की बैठक की सहअध्यक्षता भी करने वाले हैं।एकीकृत मुख्यालय राज्य का शीर्ष सुरक्षा ग्रिड है। इसमें राज्य सरकार, सेना, अर्धसैनिक बलों, राज्य व केंद्रीय खुफिया एजेंसियों और स्थानीय पुलिस के शीर्ष अधिकारी शामिल हैं। एकीकृत मुख्यालय के प्रमुख राज्य के मुख्यमंत्री हैं। रक्षा मंत्री रविवार को कुछ अग्रिम चौकियों का दौरा करेंगे और सेना के अधिकारियों और जवानों से बातचीत करेंगे।


Check Also

लद्दाख में 38,000 वर्ग किलोमीटर पर चीन का अवैध कब्जा जारी है: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह एलएसी के हालातों को लेकर राज्यसभा में बयान दे रहे हैं। …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *