Saturday , 19 September 2020
Home >> Breaking News >> राजस्थान में 72 फीसदी मतदान

राजस्थान में 72 फीसदी मतदान


Poll officials inspect an electronic voting machine at a distribution centre in Mumbaiजयपुर, खबर इंडिया नेटवर्क ! राजस्थान में हो रहे विधानसभा के लिए रविवार को हुए मतदान में राज्य के करीब 2.90 करोड़ मतदाताओं ने पूरे उत्साह के साथ हिस्सा लिया। राज्य में दोनों प्रतिद्वंद्वी पार्टियों कांग्रेस और भाजपा ने अपनी-अपनी जीत का दावा किया है। अधिकारियों ने बताया कि राज्य के चार करोड़ मतदाताओं में से 72.49 प्रतिशत से भी अधिक ने शाम पांच बजे तक मतदान किया था और अंतिम आंकड़ा आने पर मतदान का प्रतिशत बढ़ने का अनुमान है।
अभी तक सबसे अधिक 85.5 प्रतिशत मतदान जैसलमेर जिले में और सबसे कम 55 प्रतिशत भरतपुर में हुआ है। राजधानी जयपुर में 68 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।
राज्य विधानसभा की 200 सीटों में से रविवार को 199 के लिए सुबह आठ बजे कड़ी सुरक्षा के बीच मतदान शुरू हुआ और शाम पांच बजे तक चला।
चुरू निर्वाचन क्षेत्र में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के उम्मीदवार का निधन हो जाने के कारण यहां मतदान टाल दिया गया, वहां 13 दिसंबर को मतदान कराया जाएगा।
राज्यभर में 47,223 मतदान केंद्र बनाए गए थे जहां मतदाताओं ने 2,087 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला किया है।
करीब 10,000 मतदान केंद्रों को संवेदनशील और महत्वपूर्ण घोषित किया था और वहां कड़ी सुरक्षा की गई थी। राजस्थान में 4.08 करोड़ पंजीकृत मतदाताओं में 2.15 करोड़ पुरुष और 1.93 करोड़ महिलाएं शामिल हैं।
छिपपुट झड़पों को छोड़ आम तौर पर चुनाव शांतिपूर्ण रहा। कुछ स्थानों पर भीड़ को हटाने के लिए पुलिस ने हवा में गोलियां चलाईं और लाठीचार्ज किया।
दौसा, केकरी, सवाई माधोपुर, थाना गाजी और कुछ अन्य जगहों से झड़प की सूचना मिली है।
कुछ स्थानों पर इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन टूट गए जिसे तुरंत या तो बनाया गया या फिर बदल दिया गया।
वर्ष 2008 में राजस्थान में 66.25 प्रतिशत मतदान हुआ था। उस चुनाव में कांग्रेस विजयी हुई थी।
राजस्थान के मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता अशोक गहलोत, पूर्व मुख्यमंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की नेता वसुंधरा राजे के अलावा राज्य कांग्रेस अध्यक्ष चंद्रभान, भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे गुर्जर नेता प्रह्लाद गुंजल और नेशनल पीपुल्स पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ रहे मीणा समुदाय के नेता किरोड़ी लाल मीणा आदि प्रमुख उम्मीदवार हैं।
कांग्रेस और भाजपा ने सभी 200 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े किए हैं। नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) 150 सीटों पर और बसपा 100 सीटों पर चुनाव लड़ रही है।
सुबह अपना मतदान करने के बाद मुख्यमंत्री और कांग्रेस प्रत्याशी अशोक गहलोत ने कहा, “मुझे भरोसा है कि कांग्रेस भारी बहुमत के साथ सत्ता में लौटेगी।”
राजस्थान में मतगणना 8 दिसंबर को दिल्ली, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के साथ ही कराई जाएगी।
छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश में मतदान कराए जा चुके हैं, दिल्ली में चार दिसंबर को मतदान होगा।


Check Also

बिहार को बचाने के लिए जन अधिकार पार्टी राजद को बिना शर्त समर्थन देगी: जन अधिकार पार्टी के अध्यक्ष पप्पू यादव

बिहार में विधानसभा चुनाव की सरगर्मी जोरों पर है। बयानबाजी का दौर तेज हो गया …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *