Home >> Breaking News >> इंग्लैंड दौरे में गेंदबाजी, टीम इंडिया की परेशानी

इंग्लैंड दौरे में गेंदबाजी, टीम इंडिया की परेशानी


Dhoni
लीस्टर,एजेंसी-30 जून। इंग्लैंड के ढाई महीने लंबे दौरे की शुरुआत भारत के लिए मिली-जुली रही जबकि लीस्टरशर के खिलाफ पहले तीन दिवसीय अभ्यास मैच में बारिश ने विध्न डाला। मैच के तीन में से दो दिन वर्षाबाधित रहे। इस मैच से एकमात्र अच्छी बात बल्लेबाजों का प्रदर्शन रही।

भारत के शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों ने अच्छी पारियां खेलीं। शिखर धवन, गौतम गंभीर और चेतेश्वर पुजारा ने अर्धशतक जमाए जबकि अजिंक्य रहाणे और रोहित शर्मा ने भी आत्मविश्वास से भरी पारियां खेलीं।

मुरली विजय और विराट कोहली अगले सप्ताह डर्बीशर में होने वाले दूसरे अभ्यास मैच में उम्दा पारियां खेलना चाहेंगे। भारतीय कप्तान महेंद्रसिंह धोनी और कोच डंकन फ्लेचर के लिए चिंता का सबब गेंदबाजों का खराब प्रदर्शन रहा। जहीर खान की गैर मौजूदगी में गेंदबाजी की अगुवाई ईशांत शर्मा ने की लेकिन इंग्लैंड में खेलने का अनुभव होते हुए वे प्रभावित नहीं कर सके।

लीस्टरशर के बल्लेबाजों ने भारतीय गेंदबाजों को जमकर धुना। उन्होंने 62 ओवर में पांच विकेट पर 349 रन बना डाले। भारतीय गेंदबाज पिच से मिल रही मदद का भी फायदा नहीं उठा सके। पंकज सिंह, मोहम्मद शमी और वरुण आरोन ने टुकड़ों में अच्छी गेंदबाजी की लेकिन कोई भी लीस्टरशर के युवा बल्लेबाजों को रन बनाने से नहीं रोक सका। ईश्वर पांडे और भुवनेश्वर कुमार भी जूझते नजर आए।

भारत को 2011 के शर्मनाक प्रदर्शन के दोहराव से बचना है तो तुरंत उपाय खोजने होंगे। इस दिशा में पहला कदम भारतीय टीम प्रबंधन ने नौ जुलाई से शुरू हो रहे पहले टेस्ट से पूर्व राहुल द्रविड़ की मदद लेकर उठाया है।

द्रविड़ का इंग्लैंड में शानदार रिकॉर्ड रहा है और उन्होंने 2007 में अपनी कप्तानी में भारत को यहां टेस्ट श्रृंखला में जीत भी दिलाई थी। द्रविड़ न सिर्फ बल्लेबाजों को उपयोगी टिप्स देंगे बल्कि गेंदबाजों की भी मदद करेंगे।


Check Also

CSK के कप्तान MS धौनी की रणनीति और उनकी कप्तानी की सहवाग ने जमकर की तारीफ

चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धौनी सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ हुए मुकाबले के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *