Home >> Breaking News >> ‘हरियाणा के लड़कों के लिए बिहार की लड़कियां’ टिप्पणी पर हंगामा

‘हरियाणा के लड़कों के लिए बिहार की लड़कियां’ टिप्पणी पर हंगामा


BJP Dhankher
पटना,एजेंसी-8 जुलाई। हरियाणा के लड़कों को विवाह के लिए बिहार की लड़कियां देने वाले हरियाणा के एक भाजपा नेता के बयान पर सोमवार को बिहार विधानसभा के बाहर और सदन के अंदर जमकर हंगामा हुआ। राष्ट्रीय जनता दल (राजद) और जनता दल (युनाइटेड) के सदस्यों ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) किसान मोर्चा के अध्यक्ष ओपी धनखड़ की उनकी इस अपमानजनक टिप्पणी के लिए गिरफ्तारी की मांग भी की। धनखड़ की इस टिप्पणी पर उठे हंगामे के कारण बिहार विधानसभा की कार्यवाही सोमवार को तीन बार स्थगित करनी पड़ी।
भाजपा नेता धनखड़ ने रविवार को हरियाणा में पार्टी कार्यकर्ताओं की सभा में कहा था कि राज्य में अगर भाजपा की सरकार बनी तो यहां के युवकों की शादी बिहार से लड़कियां लाकर करा देंगे। उल्लेखनीय है कि लिंगानुपात बिगडऩे के कारण हरियाणा में लड़कों की तुलना में लड़कियों की संख्या कम है और लड़कों का विवाह एक समस्या बनी हुई है। बिहार विधानसभा के मुख्य द्वार पर जद (यू) और राजद के सदस्यों ने पहले प्रदर्शन किया, फिर कार्यवाही शुरू होते ही दोनों दलों के सदस्य वेल में आ गए और जमकर हंगामा किया। उन्होंने कहा कि धनखड़ को बिहार के लोगों से माफी मांगने को कहा जाए। अगर वह माफी नहीं मांगते हैं तो उन्हें गिरफ्तार किया जाए। सत्तारूढ़ जद (यू) के एक विधायक ने बताया कि अपराह्न तीन बजे जब दोबारा सदन की कार्यवाही शुरू हुई तो फिर से हंगामा खड़ा हो गया, जिसके चलते अध्यक्ष ने 4.45 बजे तक के लिए फिर से सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी। इससे पहले, हंगामे के कारण अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी ने पहले 12 बजे दोपहर तक के लिए सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी। 12 बजे कार्यवाही फिर शुरू हुई, मगर हंगामा नहीं थमा। इसके बाद अध्यक्ष ने सदन की कार्यवाही अपराह्न् दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी। राजद और जद (यू) के सदस्यों ने भाजपा नेता और पूर्व मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी पर भी तीखा प्रहार किया। धनखड़ के बयान के विरोध में चूडिय़ां लेकर सदन में आए राजद सदस्य दिनेश कुमार सिंह ने कहा कि धनखड़ बिहार की बेटियों का अपमान कर रहे हैं और भाजपा के नेता उनका बचाव कर रहे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने कहा कि हमारे सम्मान और इज्जत पर हमला करने वाले धनखड़ के बयान का बचाव करने वाले बिहार के भाजपा नेताओं के व्यवहार से वह दुखी हैं उन्होंने कहा, धनखड़ बिहार के हर व्यक्ति, हर महिला, नेताओं, पत्रकारों, मजदूरों और बौद्धिकों का अपमान किया है। राजद के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने इससे पहले धनखड़ के बयान की निंदा की थी और बिहारियों का अपमान करने के लिए उनका कान काट लेने की धमकी दी थी। जद (यू) के मंजीत सिंह ने कहा कि धनखड़ को बिहार की बेटियों से माफी मांगनी चाहिए और ऐसे अपमानजनक बयान का सभी दलों के नेताओं को विरोध करना चाहिए। सभी राजनीतिक दलों ने भाजपा से धनखड़ के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की है और धनखड़ से बिहार की लड़कियों एवं महिलाओं से बिना शर्त माफी मांगने के लिए कहा। इस बीच मुजफ्फरनगर जिले के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में धनखड़ के खिलाफ वकील प्रेम कुमार पासवान ने एक मामला दर्ज करवाया है अदालत 17 जुलाई को इस मामले की सुनवाई करेगी। पासवान ने बताया कि उन्होंने इसी तरह का एक मामला बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के खिलाफ भी दर्ज करवाया है।


Check Also

दुनियाभर में मच्छरों के कारण होने वाली बीमारियो से बचाने को सरकारी तैयारियां बहुत छोटी

दुनियाभर में मच्छरों के कारण होने वाली बीमारियां हर साल हजारों लोगों की जान ले …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *