Home >> Breaking News >> धोनी ने दिए पांच गेंदबाज उतारने के संकेत

धोनी ने दिए पांच गेंदबाज उतारने के संकेत


Dhoni
नॉटिंघम,एजेंसी-9 जुलाई। भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा कि वे छठे नंबर पर बल्लेबाजी करने को तैयार हैं और इस तरह उन्होंने संकेत दिया कि उनकी टीम बुधवार को यहां इंग्लैंड के खिलाफ शुरू होने वाले पहले टेस्ट में पांच गेंदबाजों को उतारने की तैयारी में है।

धोनी ने पांच मैचों की श्रृंखला के शुरुआती टेस्ट से पूर्व संध्या पर कहा, मुझे छठे नंबर पर बल्लेबाजी करने के लिए तैयार रहना चाहिए क्योंकि यह मैच में अहम चरण है, जहां से आप मैच का रुख बदल सकते हो।’

उन्होंने कहा, अगर आपको कुछ बाउंड्री मिलनी शुरू हो जाती हैं और अन्य बल्लेबाजों के साथ आप सकारात्मक बल्लेबाजी करते हो तो अच्छा है। और मैच का यही समय होता है जब आप तेजी से कुछ रन बना सकते हो क्योंकि गेंद थोड़ी पुरानी हो जाती है और गेंदबाज थोड़े थक जाते हैं, लेकिन आपको सुनिश्चित करना होगा कि आपको अच्छी शुरुआत मिल जाए और महत्वपूर्ण बात है कि आप इससे फायदा उठा सको।

धोनी ने कहा, ऐसी बहुत कम टीमें हैं जो पांच गेंदबाजों के साथ खेलती हैं। इसलिए यह खुद में ही बड़ी चुनौती है। उप महाद्वीप के बाहर पांच गेंदबाज होना शानदार है और हम कल विकेट देखेंगे तभी फैसला करेंगे। इसका मतलब है कि भारत सातवें नंबर पर ऑल राउंड विकल्प के तौर पर स्टुअर्ट बिन्नी को खिला सकते हैं। तब इस विकल्प के लिए बिन्नी का नाम बोला गया तो उन्होंने थोड़ा घुमाकर जवाब दिया।

धोनी ने कहा, स्टुअर्ट ऐसे खिलाड़ी हैं जो थोड़ी गेंदबाजी कर सकते हैं और साथ ही बल्लेबाजी भी कर सकते हैं। अगर आप उन्हें अच्छे मौके दो और उन्हें आगे बढ़ाओ तो वह ऐसे खिलाड़ी बन सकते हैं, जो हमारे लिए अगले छह-आठ महीने तक बढ़िया खेल दिखा सकते हैं। वे जैक कैलिस की तरह शानदार नहीं होंगे लेकिन वे ऐसे खिलाड़ी होंगे जो 10 ओवर गेंदबाजी कर सकते हैं और थोड़ी बल्लेबाजी भी कर सकते हैं।

पांच गेंदबाजों को खिलाने से भारत को अपने तीन गेंदबाज और एक स्पिनर के गेंदबाजी आक्रमण में मदद करने का मौका मिलेगा जिसे दक्षिण अफ्रीका और न्यूजीलैंड में परेशानी हुई थी। टीम जोहानसबर्ग और ऑकलैंड में जीत की हालत में पहुंच गई थी लेकिन इन मैचों में जीत दर्ज नहीं कर सकी थी।

धोनी ने कहा, हमें तीन तेज गेंदबाजों और एक स्पिनर के साथ खेलना पड़ा और अगर पिच उछाल नहीं ले रही है तो तेज गेंदबाजों को संयुक्त रूप से काफी जिम्मेदारी उठानी पड़ती है। अगर आप इन टेस्ट मैचों में देखो तो तेज गेंदबाजों ने अपनी सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी की। लेकिन कभी कभार क्रिकेट में आपको थोड़े भाग्य की भी जरूरत होती है। हमें विपक्षी टीम को श्रेय देने की जरूरत है लेकिन ओवरऑल मुझे लगता है कि गेंदबाजी विभाग ने अच्छा प्रदर्शन किया था।

जब धोनी से पूछा गया कि क्या जहीर खान की अनुपस्थिति ने गैर अनुभवी गेंदबाजी आक्रमण की मुश्किलें बढ़ा दी हैं तो उन्होंने कहा, अच्छी चीज है कि हमें यहां हालातों से अनुकूलित होने का थोड़ा समय मिल गया। हमने पिछले 10-12 दिन में फिटनेस पर काफी काम किया। अब हम ऐसे चरण से गुजर रहे हैं, जहां हम तेज गेंदबाजों से थोड़ा भार कम कर रहे हैं।

उन्होंने कहा, वे सही क्षेत्र में गेंदबाजी कर रहे हैं और यही महत्वपूर्ण चीज हैं ओवरऑल वे अच्छे दिख रहे हैं। उम्मीद है कि हमारी टीम में खिलाड़ियों को ज्यादा चोटें नहीं लगें जैसे कि 2011 में पिछली श्रृंखला में हुई थीं। मुझे याद है कि हमारे शीर्ष खिलाड़ियों को नौ या 10 के करीब चोटें थीं।

धोनी ने ईशांत शर्मा की भी तारीफ की, भारतीय कप्तान ने कहा, जहां तक ईशांत का संबंध है, वे अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं। अच्छी लय हासिल करना बहुत अहम है। अभी तक वे अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं और वे ऐसे खिलाड़ी हैं, जो हमारे कुछ अन्य गेंदबाजों से ज्यादा उछाल हासिल कर सकते हैं।


Check Also

पूर्व ओलंपियन फुटबॉलर अहमद हुसैन का हुआ निधन

शुक्रवार को एक दुखद समाचार में आया कि पूर्व ओलंपियन फुटबॉलर अहमद हुसैन का निधन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *