Wednesday , 30 September 2020
Home >> Breaking News >> नॉटिंघम टेस्ट : भारत की पहली पारी 457 रनों पर समाप्त

नॉटिंघम टेस्ट : भारत की पहली पारी 457 रनों पर समाप्त


Cricket
नॉटिंघम,एजेंसी-11 जुलाई। ट्रेंट ब्रिज मैदान पर भारत और इंग्लैंड के बीच पहले टेस्ट मैच का दूसरा दिन भारत के पुछल्ले बल्लेबाजों भुवनेश्वर कुमार (58) और मोहम्मद समी (नाबाद 51) के नाम रहा।

भुवी और समी के बीच 10वें विकेट के लिए हुई शानदार 111 रनों की साझेदारी की बदौलत पहली पारी 457 रन बनाने के बाद भारतीय क्रिकेट टीम ने गुरुवार को खेल समाप्त होने तक इंग्लैंड के 43 रनों में एक विकेट चटका लिया है। बेहतरीन बल्लेबाजी कर नाबाद अर्द्धशतक लगाकर लौटे समी ने गेंदबाजी करते हुए भी इंग्लैंड के कप्तान एलिस्टर कुक (5) के रूप में इंग्लैंड को पहला झटका दे दिया।

दिन का खेल समाप्त होने पर सैम रॉबसन 20 और गैरी बैलेंस 15 रन बनाकर नाबाद लौटे।

इससे पहले मोइन अली ने भुवी के रूप में भारत का आखिरी विकेट चटकाया। भुवनेश्वर ने इस बीच 149 गेंदों की अपनी नायाब पारी में पांच चौके लगाए। सही ने भी 81 गेंदों का सामना कर छह चौके और एक छक्का भी जड़ा।

भोजनकाल के बाद पांच ओवरों में जल्दी-जल्दी चार विकेट गंवा चुकी भारतीय टीम की पहली पारी 350 के आस-पास सिमटती लग रही थी, लेकिन भुवी और समी ने दिन के दूसरे सत्र में फिर कोई विकेट नहीं गिरने दिया और कुल स्कोर को 450 के पार पहुंचा दिया।

भोजनकाल के ठीक बाद एक-दिवसीय के मूड में दिख रहे रविंद्र जडेजा (25) स्टोक्स की गेंद पर विकेट के पीछे लपक लिए गए।

स्टोक्स के अगले ही ओवर की पहली गेंद पर जमकर खेल रहे कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (82) दुर्भाग्यशाली रहे और रन आउट होकर पैवेलियन लौटे। धौनी तेजी से एक रन लेने के प्रयास में थे, लेकिन जेम्स एंडरसन का थ्रो सीधा गेंदबाजी छोर वाले स्टंप पर लगा। धोनी ने इस दौरान 152 गेंदों की अपनी संयमभरी पारी में सात चौके लगाए।

स्टोक्स ने इसी ओवर की चौथी गेंद पर स्टुअर्ट बिन्नी (1) को जोए रूट के हाथों कैच आउट करवाकर उनकी पदार्पण पारी को सुखद नहीं होने दी। ईशांत शर्मा (1) भी स्टुअर्ट ब्रॉड के हाथों क्लीन बोल्ड होकर जल्द ही पैवेलियन लौट गए।

इससे पहले, मैच के पहले दिन बुधवार को शतक बनाकर लौटे मुरली विजय (146) ने धोनी के साथ दूसरे दिन भी खेल की बेहतरीन शुरुआत की। दूसरे दिन के पहले सत्र में 22 ओवर तक टिके रहकर मुरली ने धोनी के साथ टीम के स्कोर में 45 रन और जोड़े। मैच के पहले दिन भारत ने चार विकेट पर 259 रन बनाए थे।

मुरली और धोनी के बीच पांचवें विकेट के लिए 126 रनों की साझेदारी हुई। जेम्स एंडरसन की गेंद पर पगबाधा करार दिए जाने से पहले मुरली ने 361 गेंदों की अपनी शानदार पारी में 25 चौके और एक छक्का भी लगाया।

मैच के पहले दिन चेतेश्वर पुजारा (38) और अजिंक्य रहाणे (32) ने भी उपयोगी पारियां खेलीं। हालांकि सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (12) और विराट कोहली (1) कुछ खास नहीं कर सके।

इंग्लैंड की तरफ से एंडरसन को तीन, स्टुअर्ट ब्रॉड और बेन स्टोक्स को दो-दो विकेट मिले।


Check Also

न्याय के देवता शनिदेव के साहस के कारण ही रावण का पुत्र मेघनाद हुआ था अल्पायु : धर्म

रावण ज्योतिष विद्या का प्रकाण्ड विद्वान था। कहते हैं एक बार उसने अपने ज्योतिष ज्ञान …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *