Tuesday , 22 September 2020
Home >> Breaking News >> अमित शाह के संपर्क में 50 से अधिक सपा विधायक – बेनी

अमित शाह के संपर्क में 50 से अधिक सपा विधायक – बेनी


Beni Verma
लखनऊ,एजेंसी-15 जुलाई। वरिष्ठ कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा का आकलन है कि कांग्रेस के कुछ लोग ऐसे हैं जो नहीं चाहते हैं कि पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी मजबूत हों। बेनी प्रसाद का दावा है कि उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी की सरकार को गिराने का प्रयास हो रहा है। इसके लिए सपा के पचास से अधिक विधायक भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के संपर्क में हैं।
पूर्व केंद्रीय मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा ने कहा कि कांग्रेस के ही कुछ लोग पार्टी में उपाध्यक्ष राहुल गांधी को मजबूत होते नहीं देख पा रहे हैं। राहुल को कमजोर करने के लिए पार्टी के यही साजिशकर्ता कभी प्रियंका गांधी के नाम की चर्चा करवाते हैं, तो कभी लोकसभा चुनाव में मिली हार की जिम्मेदारी राहुल गांधी के सिर पर डालने का प्रयास करते हैं। इस तरह के लोग पार्टी के अंदर भी सक्रिय हैं और बाहर भी।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस के कुछ लोग प्रियंका का नाम उठाकर भाई-बहन के बीच मतभेद पैदा करना चाहते हैं। इसी कारण यह लोग समय-समय पर प्रियंका गांधी को पार्टी में अहम जिम्मेदारी देने की मांग उठाते रहते हैं। ये वही लोग हैं, जो चुनाव से पहले मुस्लिमों को साढ़े चार फीसदी आरक्षण देने का मुद्दा उठाते हैं, तो गोवा में ईसाइयों और पंजाब में सिखों के खिलाफ बयानबाजी करते हैं।
लखनऊ में बेनी प्रसाद वर्मा ने एक और खुलासा किया। उनका दावा है कि समाजवादी पार्टी के 50 से अधिक विधायक भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के संपर्क में हैं। यह विधायक शाह के इशारे पर कभी भी उत्तर प्रदेश सरकार गिरा सकते हैं। सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव के प्रति अपनी हमदर्दी जताते हुए बेनी प्रसाद वर्मा ने कहा कि मैंने बहुत पहले ही नेताजी (मुलायम सिंह यादव) को इसके प्रति आगाह कर दिया था। बेनी ने कहा कि वह चाहते हैं कि समाजवादी पार्टी अभी दो साल और सरकार चलाए। इससे कांग्रेस को प्रदेश में तैयारी करने का मौका मिल जाएगा। यदि मध्यावधि चुनाव हुए तो प्रदेश में बीजेपी की ही सरकार बन जाएगी। यदि अखिलेश यादव ठीक से सरकार नहीं चला पा रहे हैं, तो मुलायम सिंह यादव को आगे आकर कमान संभालनी चाहिए।
बेनी प्रसाद वर्मा मानते हैं कि देश में समाजवादी पार्टी तथा बहुजन समाज पार्टी के साथ राष्ट्रीय लोकदल का अस्तित्व समाप्त होने की ओर है। बेनी का दावा है कि इन पार्टियों के हाशिए पर जाने के कारण ही देश का युवा राष्ट्रीय पार्टियों की ओर देख रहा है। युवाओं की शक्ति ने लोकसभा चुनाव में अपनी ताकत दिखा दी है।


Check Also

जनता दल यूनाइटेड ने कृषि बिल का समर्थन किया: बीजेपी हुई गदगद

किसानों से जुड़े दो बिल के खिलाफ विपक्ष का प्रदर्शन जारी है. इस मुद्दे पर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *