Home >> Breaking News >> लॉर्ड्स टेस्ट : रहाणे का शतक, भारत के 9 विकेट पर 290 रन

लॉर्ड्स टेस्ट : रहाणे का शतक, भारत के 9 विकेट पर 290 रन


Ajinkya Rahane

लंदन,एजेंसी-18 जुलाई। ऐतिहासिक लॉर्ड्स की घासयुक्त पिच पर भारतीय बल्लेबाजी एक बार फिर संघर्ष करती नजर आई। गुरुवार को इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच के पहले दिन भारतीय टीम पहली पारी में 290 रना बनाने में अपने नौ विकेट गंवा चुकी है।

दिन का खेल समाप्त होने तक मोहम्मद समी 14 और ईशांत शर्मा 12 रन बनाकर नाबाद लौटे।

गुरुवार का दिन लॉर्ड्स के सफलतम बल्लेबाज जेम्स एंडरसन का रहा। शिखर धवन (7) का विकेट चटकाते ही एंडरसन न सिर्फ इंग्लैंड की धरती पर सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए, बल्कि लॉर्ड्स पर भी उन्होंने अपने नाम सर्वाधिक विकेटों का कीर्तिमान कर लिया। एंडरसन पहली पारी में चार विकेट हासिल कर चुके हैं।

भारत के लिए सिर्फ अजिंक्य रहाणे (103) स्थिरता भरा प्रदर्शन कर सके। भारतीय टीम के दूसरे सर्वोच्च स्कोरर भुवनेश्वर कुमार (36) ने रहाणे के साथ आठवें विकेट के लिए 90 रनों की साझेदारी निभाई।

रहाणे ने समी के साथ नौंवें विकेट के लिए भी 40 रनों की महत्वपूर्ण साझेदारी की। एंडरसन का चौथा शिकार बनने से पहले रहाणे ने 154 गेंदों का सामना किया और 15 चौके तथा एक छक्का भी लगाया।

भारत ने पहले सत्र में दो, दूसरे सत्र में चार और तीसरे सत्र में तीन विकेट गंवाए।

भारत की शुरुआत खराब रही, और भोजनकाल तक दोनों सलामी बल्लेबाज धवन और मुरली विजय (24) पैवेलियन लौट चुके थे।

नॉटिंघम टेस्ट में शानदार शतक लगाने वाले विजय का विकेट 48 के कुल योग पर लिएम प्लंकेट ने लिया। विजय ने 67 गेंदों का सामना कर चार चौकों की मदद से 24 रन बनाए।

शुरुआती दो विकेट जल्दी-जल्दी गिर जाने के बाद विराट कोहली (25) और चेतेश्वर पुजारा (28) ने तीसरे विकेट के लिए 38 रनों की साझेदारी कर टीम को संभालने की पूरी कोशिश की।

भोजनकाल के बाद हालांकि कोहली भी एंडरसन की गेंद पर विकेट के पीछे कैच थमा चलते बने। कोहली ने आने के साथ कुछ आकर्षक शॉट लगा दबाव कम करने की कोशिश की। 34 गेंदों की पारी में उन्होंने चार चौके लगाए।

कोहली के जाने के बाद पुजारा ने रहाणे के साथ चौथे विकेट के लिए 27 रनों की संयमभरी साझेदारी की, लेकिन टीम को स्थिरता वह भी नहीं दे सके और 113 के कुल योग पर बेन स्टोक्स ने उन्हें क्लीन बोल्ड कर दिया।

शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों की नाकामी का दबाव कप्तान महेंद्र सिंह धोनी पर स्पष्ट नजर आया। 17 गेंदों में धौनी सिर्फ एक रन बनाकर पैवेलियन लौटे। धोनी के साथ ही स्टुअर्ट ब्रॉड ने मैच में अपना खाता खोला। धोनी विकेट के पीछे मैट प्रायर के हाथों लपके गए।

पिछले मैच में बेहतरीन संयमभरी पारी खेलने वाले रविंद्र जडेजा (3) कुछ खास नहीं कर सके और टीम की नैया बीच धार में छोड़ पैवेलियन लौटे। जडेजा मोइन अली की गेंद पर पगबाधा करार दिए गए।

रहाणे के बाद पुजारा ही सबसे देर तक क्रीज पर डटे रहे, हालांकि 28 रन बनाने में उन्होंने 117 गेंदें खेलीं और चार चौके लगाए।

इंग्लैंड के लिए पहली पारी में एंडरसन ने चार, ब्रॉड ने दो और प्लंकेट, स्टोक्स और अली को एक-एक विकेट मिले।

पांच मैचों की शृंखला का पहला मुकाबला नॉटिंघम के ट्रेंट ब्रिज मैदान पर खेला गया था। उस मैच का कोई परिणाम नहीं निकल सका था।


Check Also

व्हाइट जैकेट और ब्लैक पैंट पर धमाकेदार डांस कर रही मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां

टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां इन दिनों सोशल मीडिया …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *