Home >> Breaking News >> नमाज के बाद प्रदर्शन, भड़की हिंसा

नमाज के बाद प्रदर्शन, भड़की हिंसा


Lucknow
लखनऊ,एजेंसी-26 जुलाई। एक की मौत, गाडिय़ों में लगाई आग
तनाव को देखते हुए लखनऊ में सुरक्षा के कड़े प्रबंध
प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने भांजी लाठी, आधा दर्जन घायल
शिया वक्फ बोर्ड में भ्रष्टाचार के खिलाफ हो रहा था प्रदर्शन
वक्फ मंत्री आजम खां के खिलाफ जमकर नारेबाजी
सरकार के खिलाफ बढ़ा आक्रोश, जाम की धमकी
लखनऊ में पुलिस व प्रदर्शनकारियों के बीच होती झड़प का दृश्य
उत्तर प्रदेश की राजधानी में शुक्रवार को अलविदा जुमे की नमाज के बाद शिया रहनुमा मौलाना कल्बे जव्वाद ने हजारों लोगों के साथ शिया वक्फ बोर्ड में हो रहे भ्रष्टाचार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों की भीड़ देखते ही देखते हिंसक हो उठी। पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा, जिसमें एक की मौत हो गई और कई लोग घायल हो गए। शिया समुदाय की भीड़ ने वक्फ मंत्री आजम खां के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। देखते ही देखते भीड़ ने पथराव शुरू कर दिया और पीएसी की गाड़ी सहित तीन मोटरसाइकिलों को आग के हवाले कर दिया। इस घटना को कवर कर रहे मीडियाकर्मियों से भी बदसलूकी की गई, उनके कैमरे तोड़ दिए गए। तनाव को बढ़ता देख पुलिस ने लाठीचार्ज शुरू कर दिया। इसमें एक प्रदर्शनकारी की मौत हो गई और आधा दर्जन घायल हो गए, जिसमें तीन मौलाना भी शामिल हैं। मृतक की पहचान मुतिगंज निवासी कर्रार मेहंदी रिजवी (55) के रूप में की गई है। उनकी चार बेटियां हैं। लाठीचार्ज में घायल होने पर उन्हें ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया, जहां उनकी मौत हो गई। रिजवी की मौत से गुस्साए प्रदर्शनकारियों ने समजवादी पार्टी प्रमुख मुलायम सिंह यादव और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के खिलाफ नारेबाजी की। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि रिजवी की हत्या के आरोपी को जब तक जेल नहीं भेजा जाएगा, वे नहीं हटेंगे। प्रदर्शनकारियों ने पूरे शहर को जाम करने की चेतावनी दी है। शहर में तनाव को देखते हुए प्रशासन ने सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी है। शहर के मुख्य बाजार हजरतगंज में दुकानदारों ने एहतियातन दुकानें बंद कर दीं। कल्बे जव्वाद ने कहा कि रोजेदारों पर लाठीचार्ज करवाकर समाजवादी पार्टी ने बता दिया कि वह मुसलमानों की कितनी हितैषी है। उन्होंने कहा, अब हम ईद तक यहीं डटे रहेंगे। यह सब सिर्फ एक आदमी के इशारे पर किया गया है। प्रदर्शन के दौरान एक व्यक्ति की मौत भी हो गई है। जव्वाद ने कहा कि प्रदेशभर से शियाओं को लखनऊ बुलाया गया है। रोजेदारों पर लाठीचार्ज और एक रोजेदार की मौत सपा सरकार को काफी महंगी पड़ेगी। उन्होंने आरोप लगाया कि प्रदेश के कैबिनेट मंत्री आजम खां वक्फ बोर्ड को खत्म करने की कोशिश कर रहे हैं, सरकार उन्हें तुरंत बर्खास्त करे।


Check Also

UP के साढ़े पांच लाख गरीबों का अपनी छत का सपना हो रहा पूरा, CM योगी ने सौंपी घर की चाबी….

उत्तर प्रदेश के साढ़े पांच लाख गरीबों का अपनी छत का सपना पूरा हो रहा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *