Wednesday , 20 January 2021
Home >> Breaking News >> मोहनलालगंज कांड : बलात्कार के बाद हुई थी महिला की हत्या

मोहनलालगंज कांड : बलात्कार के बाद हुई थी महिला की हत्या


Crime
लखनऊ,एजेंसी-28 जुलाई। पुलिस का असली चेहरा फिर आया सामने
फारेंसिक जांच से निकली पुलिस की दावों की पोल
-महिला के नाखून में मिली एक से अधिक मनुष्यों की कोशिकाएं
-पुलिस एक गार्ड को गिरफ्तार कर झुठला चुकी है दुराचार की घटना
– घटनास्थल पर एक से अधिक व्यक्तियों के मौजूद होने की आशंका बढ़ी
कोट : महिला की निर्मम हत्या मामले में पोस्टमार्टम करने वाले डाक्टरों और जांच करने वाले पुलिस अधिकारियों को जेल भेजा जाए : स्वामी प्रसाद मौर्या, बसपा महासचिव

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के मोहनलालगंज में महिला की दरिंदगी से की गई हत्या के मामले में आई फोरेंसिक जांच रिपोर्ट के बाद पुलिस की कहानी तार-तार हो गई। सूत्रों के मुताबिक, रिपोर्ट में महिला से बलात्कार किए जाने की पुष्टि हुई है तथा उसके नाखून में एक से अधिक मनुष्य की कोशिकाएं पाई गई हैं। रिपोर्ट ने अब तक किए गए पुलिस के दावों को फिलहाल झुठला सा दिया है। हालांकि एसएसपी प्रवीण कुमार फोरेंसिक रिपोर्ट मिलने की बात से इनकार कर रहे हैं। मोहनलालगंज कांड में पुलिस ने एक अपार्टमेंट के गार्ड रामसेवक को गिरफ्तार कर दावा किया था कि बलात्कार में असफल रहने के कारण उसने यह दुस्साहसिक वारदात की थी। पुलिस ने दावा किया था कि रामसेवक ने अकेले ही वारदात को अंजाम दिया। उसने हेलमेट व बाइक की चाबी से हमला कर महिला को लहूलुहान कर दिया था और अत्याधिक रक्तस्राव से महिला की मौत हो गई। पुलिस ने रामसेवक के खिलाफ पर्याप्त फोरेंसिक व इलेक्ट्रानिक साक्ष्य होने का भी दावा किया था। लखनऊ के महानगर स्थित राज्य फोरेंसिक साइंस लैब से दो रिपोर्ट पुलिस को भेजी गई। लैब सूत्रों का कहना है कि पुलिस ने कुछ नमूने शनिवार को भी जांच के लिए भेजे हैं। जिनकी रिपोर्ट अगले सप्ताह तक सौंपी जाएगी। हालांकि उन्होंने गोपनीयता का हवाला देते हुए जांच रिपोर्ट के बारे में कुछ कहने से इनकार कर दिया। सूत्रों का कहना है कि फोरेंसिक रिपोर्ट में महिला के नाखून में मिक्स्ड प्रोफाइल पाया गया है। यानी उसके नाखून में एक से अधिक व्यक्ति की कोशिकाएं हैं। यह भी माना जा रहा है कि अतिरिक्त कोशिकाएं उसके बच्चों की भी हो सकती हैं। बच्चों के नमूने लेकर उनका मिलान कराने पर इसकी पुष्टि हो सकेगी। इससे अब घटनास्थल पर एक से अधिक व्यक्तियों के मौजूद होने की आशंका और प्रबल हो गई है। डीआईजी नवनीत सिकेरा भी फोरेंसिक जांच रिपोर्ट मिलने की जानकारी होने से इनकार कर रहे हैं।


Check Also

दिल्ली में 18 जनवरी से खुलेंगे स्कूल, सरकार ने दी हरी झंडी

देश की राजधानी में इसी महीने से स्‍कूल खुल सकते हैं। सरकार ने फिलहाल कक्षा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *