Home >> Breaking News >> राष्ट्रमंडल खेल (कुश्ती) : भारत की झोली में बढ़े 4 पदक

राष्ट्रमंडल खेल (कुश्ती) : भारत की झोली में बढ़े 4 पदक


kushti
ग्लासगो,एजेंसी-1 अगस्त। भारतीय पहलवानों ने 20वें राष्ट्रमंडल खेलों में लगातार तीसरे दिन गुरुवार को अपना दबदबा कायम रखते हुए गुरुवार को दो स्वर्ण सहित कुल चार पदक और जीत लिए।

ओलिम्पिक पदक विजेता योग्श्वर दत्त और महिला वर्ग से बबिता कुमारी ने गुरुवार को भारत को स्वर्ण दिलाया, जबकि गीतिका जाखड़ को फाइनल मुकाबले में हारकर रजत पदक से संतोष करना पड़ा। कुश्ती में दिन के आखिरी पदक के रूप में पवन कुमार ने कांस्य पर कब्जा जमाया।

बबिता ने स्कॉटिश एग्जिबिशन कॉन्फ्रेंस सेंटर (एसईसीसी) में महिला फ्री स्टाइल स्पर्धा के 55 किलोग्राम भारवर्ग के फाइनल मुकाबले में कनाडा की ब्रिटाने लावेरड्योर को एकतरफा मुकाबले में मात देकर स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया।

बबिता ने बेहद शानदार प्रदर्शन करते हुए पहले पीरियड में पांच अंक हासिल कर लिए और अपनी प्रतिद्वंद्वी को एक भी अंक नहीं लेने दिया। दूसरे पीरियड में लावेरड्योर दो अंक हासिल कर सकीं, लेकिन चार अंक हासिल कर बबिता इस पीरियड में उन पर भारी साबित हुईं।

तकनीकी अंक के आधार पर बबिता को 3-1 से विजेता घोषित किया गया।

इसके बाद ओलिम्पिक पदक विजेता योगेश्वर दत्त ने पुरुष वर्ग की फ्री स्टाइल स्पर्धा के 65 किलोग्राम भारवर्ग में कनाडा के जेवोन बालफोर को एकतरफा मुकाबले में मात देकर कुश्ती में भारत को पांचवां और टूर्नामेंट में 12वां स्वर्ण दिला दिया।

योगेश्वर ने पहले ही पीरियड में 10 अंक हासिल कर छह अंकों के बड़े अंतर से स्वर्ण पर कब्जा जमाया। उनके प्रतिद्वंद्वी बालफोर एक भी अंक हासिल नहीं कर सके।

महिला वर्ग से भारत के लिए दिन का तीसरा स्वर्ण पदक जीतने की उम्मीद लेकर उतरीं गीतिका जाखड़ हालांकि महिला वर्ग की फ्री स्टाइल स्पर्धा के 63 किलोग्राम भारवर्ग में हार गईं और उन्हें रजत पदक से संतोष करना पड़ा।

दीपिका ने कनाडा की अपनी प्रतिद्वंद्वी डेनिएले लैपेज के खिलाफ काफी संघर्ष किया, लेकिन वह साफ-साफ लैपेज से दमखम में कमतर नजर आईं।

पहले पीरियड में तो दीपिका ने लैपेज को सिर्फ एक अंक लेने दिए, लेकिन दूसरे पीरियड में लैपेज ने बेहतर तकनीक अपनाते हुए छह अंक हासिल कर लिए। गीतिका पूरे मुकाबले में एक भी अंक नहीं ले पाईं।

कांस्य के लिए कुश्ती में दिन का आखिरी पदक जीतने की उम्मीद से मैदान में उतरे पवन कुमार पुरुष वर्ग की फ्री स्टाइल स्पर्धा के 86 किलोग्राम भारवर्ग में पाकिस्तान के मोहम्मद इनाम के खिलाफ शुरु में तो पिछड़ते दिखे, लेकिन अंत में उन्होंने जबरदस्त वापसी करते हुए कांस्य पदक पर कब्जा जमा लिया। पहले पीरियड में 2-4 से पिछड़ने के बाद पवन ने दूसरे पीरियड में जबरदस्त वापसी करते हुए जीत हासिल की।

मुकाबला दोनों पीरियडों में 6-6 से बराबरी पर रहा, लेकिन पवन को तकनीक के आधार पर 3-1 के अंतर से विजेता घोषित किया गया।

कुश्ती में भारत ने टूर्नामेंट में अब तक पांच स्वर्ण सहित 13 पदक हासिल कर लिए हैं।


Check Also

बांग्लादेश टीम के दिग्गज ओपनर तमीम इकबाल ने टी20 विश्व कप से अपना नाम लिया, जाने क्या थी वजह

ICC T20 World Cup 2021: संयुक्त अरब अमीरात (UAE) और ओमान में बीसीसीआइ की मेजबानी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *