Home >> Breaking News >> रेलवे ने खानपान दुरुस्त करने की दिशा में उठाए कदम

रेलवे ने खानपान दुरुस्त करने की दिशा में उठाए कदम


railway food
नई दिल्ली,एजेंसी-5 अगस्त। खाने को मिलेगा ‘रसम चावल’ व ‘चिकन चेट्टीनाड’
ट्रेनों में खानपान की खराब गुणवत्ता की बढ़ती शिकायतों के मद्देनजर रेलवे इस सप्ताह प्रीकुक्ड फूड सेवा का प्रयोग शुरू करने जा रही है। रेलवे जल्द ही ई-कैटरिंग सेवा भी शुरू करने वाली है। रेलवे बोर्ड के सदस्य (यातायात) डीपी पाडे के अनुसार, प्रायोगिक तौर पर 12628/12627 नई दिल्ली, बेंगलुरु, कर्नाटक एक्सप्रेस, अमृतसर, मुंबई सेंट्रल पश्चिम एक्सप्रेस तथा 16501/02 बेंगलुरु अहमदाबाद एक्सप्रेस में यह सेवा शुरू की जा रही है।
कर्नाटक एक्सप्रेस के लिए एमटीआर, पश्चिम एक्सप्रेस के लिए हल्दीराम और बेंगलुरु अहमदाबाद एक्सप्रेस के लिए आईटीसी को प्री कुक्ड फूड आपूर्ति का अनुबंध दिया गया है। पांडे ने बताया कि इन गाडिय़ों में पेंट्री कार के जरिए परोसा जाने वाला भोजन पहले की तरह जारी रहेगा। प्री कुक्ड फूड अतिरिक्त विकल्प के रूप में उपलब्ध होगा। उन्होंने बताया कि जीरा पुलाव, राजमा चावल, मटर पुलाव, रसम चावल, शाकाहारी व्यंजनों में तथा चिकन चेट्टीनाड, चिकन बिरयानी, चिकन दरबारी मांसाहारी व्यंजनों में शामिल होंगे। सूत्रों के अनुसार, पेंट्री कार में ही माइक्रोवेब ओवन और गर्म पानी का कडाहा होगा। जिसमें प्री कुक्ड फूड के पैकेट उबाल कर पैकेट काट कर प्लेट में गर्म-गर्म परोसा जाएगा। उल्लेखनीय है कि प्री कुक्ड फूड स्वच्छ परिवेश में तैयार करके उसे शून्य डिग्री तापमान में पैक किया जाता है। पैकेट में पूरी आक्सीजन बाहर निकाल कर पांच फीसदी ओजोन भरी जाती है। इससे भोजन खराब नहीं होता है। पांडे के अनुसार, सबसे पहले यह सेवा छह अगस्त से पश्चिम एक्सप्रेस में शुरू होगी। इन तीनों ट्रेनों में एक सप्ताह तक प्रायोगिक तौर पर प्री कुक्ड फूड दिया जाएगा। इसके साथ ही ग्राहकों से एक फीडबैक फार्म भरवाया जाएगा तथा उसके बाद यदि सत्तर फीसदी लोग इस व्यवस्था को पसंद करेंगे तो इसे इन ट्रेनों के साथ अन्य गाडिय़ों में बढ़ाया जाएगा। रेलवे बोर्ड के सदस्य यातायात ने बताया कि इसके साथ ही ई-कैटरिंग सेवा के अंतर्गत इंटरनेट एसएमएस या फोन काल पर अगले बड़े स्टेशन पर बर्थ पर भोजन उपलब्ध कराने की व्यवस्था भी शुरू की जाएगी। इससे लोगों को ताजा बना भोजन का विकल्प मिल सकेगा। उन्होंने कहा कि अभी कुछ जगह ऐसी व्यवस्था अनधिकृत रूप से चल रही है। पर अब इसे अधिक सुविधाजनक एवं अधिकृत किए जाने का प्रस्ताव है। भोजन के विकल्प बढ़ाने के साथ रेलवे खानपान की गुणवत्ता पर निरंतर निगरानी के लिए थर्ड पार्टी ऑडिट यानी तीसरे पक्ष से जांच कराने के बारे में जल्द ही प्रक्रियागत फैसले लेगी।


Check Also

आज विजयादशमी का महापर्व है इस पावन अवसर पर आप सभी को ढ़ेरों शुभकामनाएं : PM मोदी

मेरे प्यारे देशवासियो, नमस्कार। आज विजयादशमी यानि दशहरे का पर्व है | इस पावन अवसर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *