Home >> Breaking News >> आरबीआई की दरों में परिवर्तन नहीं

आरबीआई की दरों में परिवर्तन नहीं


RBI
नई दिल्ली,एजेंसी-5 अगस्त। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने मंगलवार को अपनी दि्वमासिक कर्ज नीति का ऎलान कर दिया। इसमें आरबीआई ने नीतिगत ब्याज दरें अपरिवर्तित रखी हैं। साथ ही सावधिक नकदी अनुपात (एसएलआर) 0.5 फीसदी से घटाकर 22 फीसदी किया है, ताकि बाजारों में पूंजी प्रवाह को बढाया जा सके।

इसी के साथ शीर्ष बैंक ने मुद्रास्फीति को जनवरी 2015 तक 8 फीसदी और जनवरी 2016 तक 6 फीसदी करने का लक्ष्य रखा है। बैंक ने अनुमान जताया कि चालू वित्त वर्ष में सकल घरेलू उत्पाद की वृदि्ध दर 5.5 प्रतिशत या इससे आधा प्रतिशत ऊपर नीचे रहेगी। आरबीआई ने कहा कि सरकार की खाद्य प्रबंधन और परियजनाओं के क्रियान्वयन संबंधी पहलों से आपूर्ति में सुधार होना चाहिए। मानसून अभी भी चिंता का विषय, मुद्रास्फीति प्रबंधन के लिए जोखिम है।

आरबीआई ने अपनी प्रमुख ऋण दर- रिपर्चेज दर – यानि रेपो रेट, जिस पर वाणिज्यिक बैंक सीमित अवधि के लिए रिजर्व बैंक से ऋण लेते हैं, को आठ प्रतिशत पर ही बरकरार रखा है। उधर, नकद आरक्षित अनुपात (कैश रिजर्व रेशो- सीआरआर) में भी चार प्रतिशत पर कोई परिवर्तन नहीं किया गया है, लेकिन सावधिक तरलता अनुपात (स्टेट्यूटरी लिक्विडिटी रेशो- एसएलआर) में आधा फीसदी की कटौती की गई है, और अब वह 22 फीसदी हो गया है। दूसरी ओर, चूंकि रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया गया है, इसलिए रिवर्स रेपो रेट, जिस पर रिजर्व बैंक अन्य बैंकों से सीमित अवधि के लिए उधारी लेता है, स्वत: सात प्रतिशत पर बरकरार रहेगी।


Check Also

पश्चिम बंगाल के कोलकाता में एक साथ 10 ठिकानों पर प्रवर्तन निदेशालय का छापा, TMC नेताओं से लिंक का शक

पूरे देश में रिकॉर्ड टीकाकरण के बीच फर्जी वैक्सीन का मामला भी प्रकाश में आया …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *