Home >> Breaking News >> मैनचेस्टर : इंग्लैंड के बढते कदमों को वर्षा ने थामा

मैनचेस्टर : इंग्लैंड के बढते कदमों को वर्षा ने थामा


sports cricket
मैनचेस्टर,एजेंसी-9 अगस्त। वर्षा के कारण बाधित हुये चौथे टेस्ट के दूसरे दिन शुक्रवार को जो रूट तथा जोस बटलर के बीच सातवें विकेट के लिये 67 रनों की अविजित साझेदारी की बदौलत इंग्लैंड ने भारत के खिलाफ 237 रनों का स्कोर बना लिया लेकिन भुवनेश्वर कुमार की गेंदबाजी ने मेजबान टीम को भारी बढत लेने से रोक दिया।
इंग्लैंड ने चौथे टेस्ट के दूसरे दिन बारिश के कारण खेल रोके जाने तक 71 ओवरों में छह विकेट खोकर 237 रन बना लिये जबकि उसके चार विकेट शेष बचे हुये हैं। इंग्लैंड ने इसी के साथ भारत के खिलाफ 85 रनों की बढत हासिल कर ली है। इंग्लिश खिलाड़ी जो रूट.48. और जोस बटलर.22. रन बनाकर नाबाद हैं।
रूट ने 95 गेंदों में पांच चौके लगाकर नाबाद 48 रन बनाये जबकि बटलर ने 53 गेंदों में दो चौके लगाकर नाबाद 22 रन जोड़े। दोनों बल्लेबाजों ने सातवें विकेट के लिये 18.4 ओवरों में 67 रनों की अविजित साझेदारी भी निभाई।
दोपहर में 201 पर छह विकेट से आगे खेलते हुये रूट और विकेटकीपर बल्लेबाज बटलर ने रन गति को आगे बढाने का काम जारी रखा 1 लेकिन भारी वर्षा के कारण मैच को रोकना पड़ा। इस कारण से समय से पहले ही चायकाल घोषित कर दिया गया।
इससे पहले इंग्लैंड ने अपनी पहली पारी की शुरूआत 113 रन पर तीन विकेट से आगे की थी। उस समय इयान बेल.45. और क्रिस जार्डन.शून्य. पर नाबाद थे। टेस्ट के पहले ही दिन मेजबान टीम ने भारत को पहली पारी में बेहद शर्मनाक 152 के स्कोर पर लुढका दिया था। लेकिन पहले दिन का खेल खत्म होने तक उसे भी अपने शुरूआती अहम तीन विकेट खोने पड़े थे।
कप्तान एलेस्टेयर कुक.17. सैम राबसन.06. और गैरी बैलेंस.37. के विकेट पहले दिन खोने के झटके से उबरते हुये बेल ने मैच के दूसरे दिन सुबह बादलों से छाये आसमान के नीचे अपनी पारी को आगे बढाया और 13 रन जोड़कर अपना अद्र्धशतक पूरा किया। बेल ने 82 गेंदों की अपनी पारी में कुल आठ चौकों और एक छक्के की मदद से 58 रन बनाये।
भारतीय तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार को दूसरे दिन की पहली सफलता क्रिस जार्डन के रूप में मिली। नाइटवाचमैन जार्डन 22 गेंदों में तीन चौक ों पर 13 रन लगाने के बाद एक खराब पूल शाट खेलते हुये मिड विकेट पर आरोन के हाथों कैच आउट हो गये। उस समय टीम 136 रन जोड़ पाई थी।
इसके बाद इंग्लिश टीम के खाते में चार और रन ही जुडे थे कि भुवी ने 140 के स्कोर पर बेल को कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के हाथों कैच करा दिया। उस समय इंग्लिश टीम कुछ मुश्किल में दिखाई दे रही थी और 140 के स्कोर तक आते आते मेजबान टीम अपने पांच विकेट गंवा चुकी थी।
मोइन अली ने भी स्कोबोर्ड को कुछ मजबूत करने का प्रयास किया लेकिन वह 13 रन ही जोड़ सके थे कि आरोन ने उन्हें बोल्ड कर टीम के छठे विकेट के रूप में वापिस भेज दिया। अली ने 27 गेंदों में दो चौके भी लगाये।
भारत की ओर से भुवनेश्वर ने 18 ओवरों में 47 रन पर तीन विकेट जबकि आरोन ने 16 ओवरों में 48 रन देकर तीन विकेट हासिल किये। भुवी ने राबसन. बेल और जार्डन को आउट किया जबकि आरोन ने कुक. बैलेंस और मोइन अली को पवेलियन भेजा। मौजूदा टेस्ट सीरीज में अपना पहला मैच खेल रहे आफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने 13 ओवरों में 28 रन पर कोई विकेट नहीं लिया जबकि पंकज सिंह 79 रन और जडेजा 21 रन देकर कोई विकेट नहीं ले पाये हैं।


Check Also

दशहरे पर चीन बॉर्डर का दौरा करेंगे राजनाथ सिंह, कई प्रोजेक्ट्स का उद्घाटन कर चीन को देंगे मुंहतोड़ जवाब

पूर्वी लद्दाख में कई महीनों से भारत-चीन के बीच सीमा विवाद जारी है। कई बैठकों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *