Home >> Breaking News >> महिला क्रिकेट : इंग्लैंड से पहला एकदिवसीय हारी भारतीय टीम

महिला क्रिकेट : इंग्लैंड से पहला एकदिवसीय हारी भारतीय टीम


England team
स्कारबोरो (इंग्लैंड),एजेंसी-22 अगस्त। भारतीय महिला क्रिकेट टीम गुरुवार को नॉर्थ मैरीन रोड ग्राउंड पर हुए पहले एकदिवसीय मैच में इंग्लैंड के हाथों 42 रनों से हार गई। वर्षा से बाधित मैच में भारतीय टीम ने संशोधित 47 ओवरों में आठ विकेट पर 193 रन बनाए, जबकि इंग्लैंड बारिश के कारण 30.1 ओवर ही खेल सकी। मैच रुकने तक इंग्लैंड ने तीन विकेट खोकर 153 रन बनाए थे।
डकवर्थ लुइस नियम के तहत इंग्लैंड को अंतत: 42 रनों से विजेता घोषित किया गया।
बारिश की संभावना को देखते हुए इंग्लैंड की कप्तान चारलोट्टे एडवर्ड्स (57) ने हीथर नाइट (53) के साथ आक्रामक शुरुआत की। शुरुआत के पांच ओवरों में ही एडवर्ड्स और नाइट ने 44 रन बना लिए। दोनों बल्लेबाजों की आगे चलकर रफ्तार थोड़ कम जरूर हुई, लेकिन 20 ओवरों तक दोनों ने जमकर बल्लेबाजी की और 110 रनों की मजबूत साझेदारी कर इंग्लैंड को जीत की ओर ले गईं।
एकता बिष्ट ने 21वें ओवर की पहली गेंद पर एडवर्ड्स को क्लीन बोल्ड कर इस जोड़ी को तोड़ा। एडवर्ड्स हालांकि तब अपना काम कर चुकी थीं। उन्होंने 64 गेंदों का सामना कर नौ चौके लगाए।
नाइट भी हालांकि जल्द ही शिवानंद गायकवाड़ की गेंद पर वनिता को कैच थमा पवेलियन लौट गईं। इस बीच नाइट ने 71 गेंदों की अपनी पारी में छह चौके लगाए। नाइट ने गेंदबाजी में भी सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए भारत के तीन विकेट हासिल किए थे।
नाइट को उनके हरफनमौला मैच जिताऊ प्रदर्शन के लिए प्लेयर ऑफ द मैच घोषित किया गया।
सारा टेलर मैच रुकने तक एक चौके की मदद से 20 रन बनाकर नाबाद थीं।
इससे पहले, टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय महिलाओं ने स्मृति मंधाना (74) की शानदार अर्धशतकीय पारी की बदौलत निर्धारित 47 ओवरों में आठ विकेट पर 193 रन बनाए।
भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही और सलामी बल्लेबाज तिशुर कामिनी (2) मात्र सात रन के कुल योग पर आन्या श्रुबसोले का शिकार हुईं। करु जैन (1) को भी श्रुबसोले ने अपने अगले ही ओवर में पवेलियन की राह दिखा दी।
इसके बाद हालांकि मंधाना ने कप्तान मिताली राज (34) के साथ तीसरे विकेट के लिए 64 रनों की साझेदारी कर टीम को कुछ हद संभाल लिया। मिताली जेनी गन की गेंद पर विकेट के पीछे लपकी गईं। इस बीच मिताली ने 59 गेंदों में छह चौके लगाए।
मंधाना तब तक शानदार लय में आ चुकी थीं। उन्होंने चौथे विकेट के लिए हरमनप्रीत कौर (8) के साथ चौथे विकेट के लिए 31 रनों की साझेदारी की और वेल्लास्वामी वनिता (27) के साथ पांचवें विकेट के लिए 46 रन जोड़े।
वनिता ने तेज हाथ दिखाते हुए 37 गेंदों में चार चौके लगाए। मंधाना 40वें ओवर की आखिरी गेंद पर तेज रन लेने के चक्कर में रन आउट हुईं। इस बीच मंधाना ने 99 गेंदों का सामना कर आठ चौके लगाए।
शिखा पांडेय (नाबाद 21) ने आखिरी ओवरों में आक्रामक रुख अपनाते हुए 14 गेंदों में तीन चौके जड़े।
भारत और इंग्लैंड के बीच अगला मैच शनिवार को इसी मैदान पर खेला जाएगा।


Check Also

राज्य सरकारें स्कूल खोलने की दिशा में फूंक-फूंक कर बढ़ाएंगी कदम, जानें किस राज्य का अब तक क्या फैसला

देश में कोरोना वायरस के सक्रिय मामले हर दिन घट रही है तो इस बात …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *