Home >> Breaking News >> ‘मिशन उप्र’ पर वृंदावन में मंथन करेगी भाजपा

‘मिशन उप्र’ पर वृंदावन में मंथन करेगी भाजपा


BJP
मथुरा,एजेंसी-22 अगस्त। भगवान राम की धरती चित्रकूट में प्रसिद्ध कामदगिरी पर्वत की परिक्रमा करने के बाद भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की आधी मनोकामना तो पूरी हो गई, अब उत्तर प्रदेश में सत्ता में वापसी की आस लिए पार्टी भगवान श्रीकृष्ण के शरण में पहुंची है। वर्ष 2017 में होने वाले विधानसभा चुनाव में उप्र की सत्ता में वापसी की आस को लेकर शनिवार से कार्य समिति की दो दिवसीय बैठक वृंदावन में शुरू होगी।

इससे पूर्व कार्य समिति की पिछली बैठक लगभग 15 महीने पहले चित्रकूट में हुई थी और तब कार्य समिति की बैठक की शुरुआत कामदगिरी पर्वत की परिक्रमा के साथ हुई थी। ठीक उसी तरह इस बार वृंदावन में भाजपा की योजना गोबर्धन पर्वत की परिक्रमा के साथ कार्य समिति की बैठक शुरू करने की है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी ने बताया, “गोबर्धन पर्वत की परिक्रमा करने की मंशा है। सभी पदाधिकारियों से बात की जाएगी और राय बनी तो गोबर्धन पर्वत की परिक्रमा के साथ ही कार्य समिति की बैठक शुरू होगी।”

चित्रकूट में हुई कार्य समिति की बैठक के दौरान भाजपा के पास उप्र में खोने के लिए कुछ नहीं था लेकिन समय के बदलने के साथ ही परिस्थतियां भी बदली हैं। अब उप्र में भाजपा के 71 सांसद हैं। सहयोगी पार्टी अपना दल की दो सीटों को जोड़ दें तो यह संख्या 73 हो जाती है। लोकसभा चुनाव में मिली भारी सफलता से हालांकि भाजपा नेता उत्साहित तो हैं लेकिन अभी वह अपना हर कदम फूंक-फूंक कर रखना चाहते हैं। इसीलिए वर्ष 2017 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी की नजर 13 सितम्बर को होने वाले उपचुनाव पर टिकी हुई है।

भाजपा नेताओं के अनुसार, कार्यसमिति की बैठक के दौरान ही विधानसभा उपचुनाव को लेकर उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया जाएगा। सूत्रों के अनुसार 23 तारीख को दिल्ली में शाम को चुनाव समिति की बैठक होनी है और उम्मीद है कि बैठक के बाद ही उपचुनाव वाली सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा कर दी जाएगी।

उम्मीदवारों की घोषणा के बाद कार्य समिति की बैठक में इन चुनावों को लेकर भी रणनीति तैयार की जाएगी। जिन 12 सीटों पर उपचुनाव होने हैं उन सभी पर भाजपा के ही विधायक थे जो अब सांसद बन चुके हैं। यह उपचुनाव भाजपा के लिए प्रतिष्ठा का सवाल भी बना हुआ है। उम्मीदवारों की घोंषणा के बारे में पूछे जाने पर वाजपेयी ने कहा कि एक दो दिन के भीतर उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी जाएगी। इसके बाद पार्टी पूरे जोर शोर से उपचुनाव के अभियान में जुटेगी।

भाजपा नेताओं के मुताबिक, पार्टी ने सभी 12 विधानसभा सीटों के लिए सांसदों एवं विधायकों की जिम्मेदारी तय कर उन्हें स्पष्टतौर पर मिशन में जुट जाने को कह दिया है। भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता विजय बहादुर पाठक ने कार्य समिति की बैठक के बारे में बताया कि शुक्रवार को दोपहर तीन बजे पार्टी पदाधिकारियों की बैठक होगी जिसमें कार्य समिति में पेश किए जाने वाले प्रस्तावों पर चर्चा होगी। बैठक में उपचुनाव को लेकर भी रणनीति तैयार की जाएगी।

भाजपा नेता के मुताबिक, कार्य समिति की बैठक में करीब 35 सांसद और 17 विधायक भी शामिल होंगे। बैठक का उद्घाटन शनिवार को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह करेंगे, जबकि रविवार को इसका समापन केंद्रीय गृह मंत्री व पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राजनाथ सिंह करेंगे।


Check Also

नौ लोगों की मौत हो चुकी राहत कार्य तो दूर यहां मौके पर रेलवे का कोई बड़ा अफसर तक मौजूद नहीं है : CM ममता बनर्जी

कोलकाता के स्ट्रैंड रोड इलाके में स्थित एक इमारत की 13वीं मंजिल पर सोमवार शाम आग …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *