Home >> Breaking News >> पाक को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए सेना को खुली छूट – Rajnath Singh

पाक को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए सेना को खुली छूट – Rajnath Singh


Rajnath
लखनऊ,एजेंसी-29 अगस्त। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने सीमा पर हो रही गोलीबारी की लगातार घटनाओं को स्वीकारते हुए कहा है कि 16 बार सफेद झंडा दिखा कर पाकिस्तान को वार्ता का न्यौता दिया जा चुका है लेकिन अब मुंहतोड़ जवाब देने के लिए बार्डर सिक्योरिटी फोर्स को कह दिया गया है।
गुरुवार को प्रधानमंत्री जन-धन योजना का शुभारंभ कराने आए राजनाथ सिंह ने पत्रकारों से चीन व पाकिस्तान द्वारा सीमा अतिक्रमण के सवाल पर कहा कि भारत तो पड़ोसियों से बेहतर संबंध चाहता है लेकिन पाकिस्तान अपना आंतरिक असंतोष दबाने के लिए घटिया हरकतों पर उतारू है और घुसपैठ कराकर भारत को अस्थिर करने की साजिश में लिप्त है। पूर्व राष्ट्रपति मुर्शरफ की धमकी को औचित्यहीन करार देते हुए उन्होंने कहा, ऐसे बयान स्वस्थ सोच के सूचक नहीं और दुनिया में कई राष्ट्र परमाणु शक्ति संपन्न हैं।
कश्मीरी विस्थापितों के प्रश्न पर राजनाथ ने कहा कि वह वार्ता के लिए पांच सितंबर को जम्मू जा रहे है। जल्द ही सरकार वहां के लिए विशेष पैकेज बना उसका समयबद्ध अनुपालन कराएगी। बजट में इस योजना के लिए प्रारम्भिक धनराशि के रूप में 500 करोड़ रुपये की व्यवस्था हो चुकी है।
आंतरिक सुरक्षा एक्शन प्लान
मेरठ समेत प्रदेश के कई हिस्सों में बढ़ी आइएसआइ गतिविधियों के सवाल पर गृहमंत्री ने कहा आंतरिक सुरक्षा को लेकर कोई शिथिलता नहीं होगी। उग्रवादी एवं अस्थिरता फैलाने वालों से निपटने का एक्शन प्लान तैयार हो रहा है। नक्सली क्षेत्रों की समस्याओं को लेकर 29 अगस्त को प्रस्तावित बैठक स्थगित होने के बारे में उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह व शिवराज चौहान के अपने व्यक्तिगत मसलों में उलझे होने के कारण बैठक टली पर जल्द ही नई तिथि घोषित कर दी जाएगी।
तकरार में इकरार
महाराष्ट्र व हरियाणा में गठबंधन टूटने के सवाल पर राजनाथ सिंह ने कहा कि चिंता जैसी कोई बात नहीं क्योंकि तकरार में इकरार छिपा है। बिहार व अन्य राज्यों में उपचुनाव के नतीजों को लेकर उनका कहना था कि चुनाव में हारजीत लगी रहती है। यूपी उपचुनाव में उन्होंने भाजपा के बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद जतायी।
अफवाहबाज को मीडिया खोजे
राजनाथ सिंह ने अपने परिवार पर लगे आरोप को बेबुनियाद करार दिया। अफवाह फैलाने वाले का नाम पूछे जाने पर उन्होंने मीडियाकर्मियों से कहा, आप लोग ही इस अफवाहबाज को खोजें। आरोपों से मैं काफी स्तब्ध हूं। खोजी पत्रकार इस काम में मदद करें। उन्होंने इस दौरान मीडियाकर्मियों के हर सवाल का जबाव मुस्कराहट से देने की कोशिश जरूर की, लेकिन उनके चेहरे पर पहले जैसी रौनक गायब थी। आहत राजनाथ ने पत्रकारों से उलटा सवाल करते हुए कहा आप सबसे मेरे और परिवार के बारे में कुछ नहीं छिपा है। सभी दलों के नेता मेरी बेदाग छवि के बारे में जानते है।


Check Also

मोदी सरकार ने किसानों को दिल्ली में प्रवेश करने की इजाजत दी

सिंधु बॉर्डर पर किसानों और पुलिस के बीच जारी भिड़ंत के बीच बड़ी खबर सामने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *