Home >> Breaking News >> सानिया और पूनिया बनी गोल्डन गल्र्स ऑफ इंडिया

सानिया और पूनिया बनी गोल्डन गल्र्स ऑफ इंडिया


इंचियोन , (एजेंसी) 30 सितम्बर । नारी शक्ति ने गजब का प्रदर्शन करते हुए सोमवार को एशियन गेम्स में भारत को दो गोल्ड मेडल दिलाए। टेनिस में सानिया मिर्जा ने साकेत मयनेनी के साथ मिलकर मिक्स्ड डबल्स इवेंट में जबकि ऐथलेटिक्स में महिलाओं के डिस्कस थ्रो इवेंट में सीमा पूनिया ने गोल्ड मेडल जीता।

Saniya & Seema Puniya

भारत की पी वी जयशा ने महिलाओं की 1500 मीटर रेस के फाइनल में ब्रॉन्ज जीता। टेनिस के पुरुष डबल्स इवेंट में साकेत मयनेनी और सनम सिंह को सिल्वर मेडल मिला। पुरुषों की 3000 मीटर स्टीपलचेज रेस के फाइनल में नवीन कुमार ने ब्रॉन्ज मेडल हासिल किया।

कुश्ती में भारत को दो मेडल मिले। बजरंग ने 61 किलो वर्ग में सिल्वर जबकि नरसिंह यादव ने 74 किलो वर्ग में ब्रॉन्ज हासिल किया। कबड्डी में भारत की पुरुष टीम ने थाईलैंड को हराकर लगातार दूसरी जीत हासिल की।

टेनिस में मिल गया गोल्ड

सानिया मिर्जा और साकेत मयनेनी की मिक्स्ड डबल्स जोड़ी ने चीनी ताइपे की जोड़ी को 6-4, 6-3 से हराकर गोल्ड मेडल जीता। सानिया मिर्जा ने दूसरी बार एशियन गेम्स में मिक्स्ड डबल्स का गोल्ड मेडल जीता। 2006 एशियन गेम्स में सानिया और लिएंडर पेस की जोड़ी ने जापान की जोड़ी को हराकर गोल्ड मेडल जीता था। हालांकि एक ही दिन में दो गोल्ड मेडल जीतने की उपलब्धि साकेत हासिल नहीं कर सके। पुरुष डबल्स के फाइनल में साकेत और सनम सिंह की जोड़ी को साउथ कोरियाई जोड़ी ने 7-5, 7-6 से हराकर गोल्ड मेडल जीता।

ऐथलेटिक्स में मिले तीन मेडल

महिलाओं की डिस्कस थ्रो में भारत को गोल्ड मेडल दिलाया 31 वर्षीय सीमा पूनिया ने। सीमा ने 61.03 मीटर के प्रयास के साथ गोल्ड मेडल जीता। वह एशियन गेम्स में डिस्कस थ्रो का गोल्ड जीतने वाली दूसरी भारतीय महिला खिलाड़ी हैं। नीलम जसवंत सिंह ने 2002 एशियन गेम्स में 64.55 मीटर की दूरी तक चक्का फेंककर गोल्ड मेडल जीता था। चीन की खिलाडि़यों ने सिल्वर और ब्रॉन्ज मेडल जीते।

2006 और 2010 एशियन गेम्स में इस इवेंट का ब्रॉन्ज मेडल जीतने वाली कृष्णा पूनिया (55.57 मीटर) चैथे स्थान पर रहीं। पुरुषों की 3000 मीटर स्टीपलचेज में 26 वर्षीय नवीन कुमार ने 8 मिनट, 40.39 सेकंड का समय निकालकर ब्रॉन्ज मेडल जीता। यह नवीन का निजी सर्वश्रेष्ठ समय है। महिलाओं की 1500 मीटर रेस में पीवी जायशा ने 4 मिनट, 13.46 सेकंड का समय निकालकर ब्रॉन्ज मेडल जीता। पुरुषों के हाई जंप इवेंट के फाइनल में निखिल सी 16वें स्थान पर रहे। उन्होंने 2.15 मीटर की छलांग लगाई। महिलाओं के लांग जंप इवेंट के फाइनल में एमए प्रजुषा और मयूखा जॉनी क्रमशरू आठवें और नौवें स्थान पर रहीं।

कबड्डी में लगातार दूसरी जीत

भारत की पुरुष टीम ने लगातार दूसरी जीत हासिल की। ग्रुप ए मैच में उसने थाईलैंड को एकतरफा मुकाबले में 66-27 से रौंद दिया। पहले और दूसरे हाफ में भारत ने क्रमश रू 29 और 37 पॉइंट्स जबकि थाईलैंड ने क्रमश रू 15 और 12 पॉइंट्स हासिल किए।

बॉक्सिंग में केवल एक बॉक्सर जीता

सोमवार को भारतीय मुक्केबाजों ने निराशाजनक प्रदर्शन किया। विकास कृष्ण को छोड़ सभी बॉक्सर अपने मैच हार गए। 75 किलो वर्ग में विकास ने किर्गिस्तान के बॉक्सर को 3-0 से हराकर क्वॉर्टर फाइनल में प्रवेश किया। 52 किलो , 69 किलो और 81 किलो वर्ग के क्वॉर्टर फाइनल मुकाबलों में क्रमश रू गौरव बिधुरी , मंदीप जांगड़ा और कुलदीप सिंह को हार का सामना करना पड़ा।


Check Also

IPL को लेकर दिए विवादित बयान के बाद डेल स्टेन ने ट्वीट कर मांगी माफी

IPL 2021: हाल ही में साउथ अफ्रीका के तेज गेंदबाज डेल स्टेन ने पाकिस्तानी मीडिया …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *