Home >> Breaking News >> अमेजॉन और फ्लिपकार्ट के डिजिटल ऐप से टूटेगी पेटीएम की बादशाहत?

अमेजॉन और फ्लिपकार्ट के डिजिटल ऐप से टूटेगी पेटीएम की बादशाहत?


दुनिया की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी अमेजॉन इंडिया जल्द ही भारत में डिजिटल वॉलेट लॉन्च करने की तैयारी में है. सिर्फ अमेजॉन ही नहीं, बल्कि भारतीय ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट ने पहले से ही PhonePe लॉन्च कर रखा है.

अमेरिकी कंपनी अमेजॉन इंडिया को भारतीय रिजर्व बैंक ने डिजिटल वॉलेट लॉन्च करने के लिए अप्रूवल दे दिया है. अमेजॉन का वॉलेट काफी सिक्योर माना जाता है और इसमें एक्स्ट्रा सिक्योरिटी के लिए टू फैक्टर ऑथेन्टिकेशन दिया जाएगा.

अमेजॉन ने एक साल पहले प्रीपेड पेमेंट इंस्ट्रूमेंट लाइसेंस के लिए आवेदन किया था. दिसंबर में कंपनी ने कैशलेस ट्रांजैक्शन को टार्गेट करते हुए पे बैलेंस सर्विस लॉन्च किया था. हालांकि यह सिर्फ अमेजॉन के ट्रांजैक्शन के लिए काम करता है.हालांकि अमेजॉन ने यह साफ नहीं किया है कि इसके नए वॉलेट ऐप का दायरा क्या होगा और काम कैसे करेगा.

अमेजॉन इंडिया पेमेंट्स के वाइस प्रेसिडेंट श्रीराम जगन्नाथा ने कहा है, ‘रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया से PPI का लाइसेंस मिल गया है जिससे हम काफी खुश हैं. हमारा फोकस कस्टमर को ट्रस्टेड कैशलेस पेमेंट एक्सपीरिएंस देने में है. RBI अब PPI के लिए गाइडलाइन जारी करने के प्रोसेसर में है. हम आसान KYC और ऑथेन्टिकेशन के जरिए लो लिमिट वॉलेट लोगों तक पहुंचाएंगे’

हाल ही में फ्लिपकार्ट ने ऐलान किया है कि माइक्रोसॉफ्ट, ईबे और टेंसेंट से लगभग 93 हजार करोड़ रुपये के निवेश की डील हुई है. अब फ्लिपकार्ट इस निवेश से अपने डिजिटल वॉलेट ऐप PhonePe को और भी आक्रामक तरीके से पेश करेगा. इसके अलावा इसमें बड़े बदलाव देखने को मिल सकते हैं.

इस निवेश के ऐलान के साथ ही फ्लिपकार्ट के को फाउंडर और सीईओ बिन्नी बंसल ने कहा है , ‘टेंसेंट, माइक्रोसॉफ्ट और ईबे द्वारा किए गए इन्वेस्ट का ज्यादा हिस्से को नए बिजनेस में लगाया जाएगा जिसमें मुख्य तौर पर PhonePe और Fintech शामिल होंगे.

यानी आने वाले समय में फ्लिपकार्ट और अमेजॉन के डिजिटल वॉलेट ऐप पेटीएम को कड़ी टक्कर दे सकता है. पेटीएम के अलावा फ्रीचार्ज, ऑक्सीजन और मोबिक्विक जैसे प्लेयर्स के लिए भी यह किसी खतरे की घंटी से कम नहीं है.


Check Also

सुप्रीम कोर्ट के इतिहास में पहली बार एक साथ नौ जजों ने ली शपथ, जिसमे तीन महिला न्यायाधीश भी हैं शामिल

सुप्रीम कोर्ट के इतिहास में मंगलवार को पहली बार एक साथ नौ जजों को शपथ …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *