Home >> कुछ हट के >> 20 दिन पहले तक थी राष्ट्रपति, अब बनी कैदी नंबर 503

20 दिन पहले तक थी राष्ट्रपति, अब बनी कैदी नंबर 503


दक्षिण कोरिया की पूर्व राष्ट्रपति पार्क ग्युन-हे को जेल भेजा दिया गया है और वह अब कैदी नंबर 503 बन गई हैं. अदालत ने कल आदेश दिया था कि जब तक राष्ट्र की पूर्व प्रमुख के खिलाफ लगे आरोपों के संबंध में अंतिम फैसला नहीं हो जाता तब तक वह जेल में रहेंगी. अदालत के आदेश के बाद पार्क ने सोल डिटेन्शन सेंटर के सेल में अपनी पहली रात बिताई.

खबरों के अनुसार उन्हें जेल में प्रसाधन सामग्री, भोजन ट्रे समेत जेल किट दिया गया. योनहाप समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, तैयार होने के बाद 65 वर्षीय पार्क को 6.5 वर्ग मीटर के औसत सेल से आकार में बड़े 10.6 वर्ग मीटर के एक सेल में रखा गया. 20 दिन पहले अदालत नेे उन्हें पद से हटा दिया था.

आंखों से आंसू निकले
जोओंगांग इल्बो समाचार पत्र ने न्याय मंत्रालय के एक अधिकारी को यह कहते हुये उद्धृत किया, ‘नहाने के बाद पार्क ने हरे रंग का जेल का पोशाक पहना.’ पार्क के जेल के पोशाक पर कैदी नंबर 503 लिखा हुआ था. टीवी चोसुन ने अज्ञात सूत्रों के हवाले से कहा है कि जब गार्ड ने पार्क को उनका सेल दिखाया तब उनकी आंखों से आंसू निकल आये.

सरकारी सूचना लीक करने के आरोपी
अभियोक्ताओं ने अभी तक पार्क के खिलाफ लगे औपचारिक आरोपों को विशेष रूप से उल्लिखित नहीं किया है. लेकिन वे पहले कह चुके हें कि वह रिश्वत लेने, अपने पद का दुरुपयोग करने और सरकारी सूचनाओं को लीक करने के मामले में आरोपी हैं.

योनहोप ने बताया कि अभियोकता अगले सप्ताह के प्रारंभ में पार्क से पूछताछ की योजना बना रहे है और ऐसी संभावना है कि वे उन्हें अपने कार्यालय में बुलाने के बजाये जेल में उनसे पूछताछ करेंगे. इस बीच, पार्क के समर्थकों ने उनकी रिहाई के लिए राजधानी सोल में आज विरोध प्रदर्शन किया.


Check Also

दुनिया की रहस्यमय जगहोँ में से एक हैं बरमूडा ट्रायंगल, कोई भी जहाज नहीं लौटता वापस

इस दुनिया में कई ऐसे रहस्य है जिसे आजतक कोई भी नहीं सुलझा पाया है. …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *