Home >> Breaking News >> भारत के पास विश्व कप खिताब बचाने का अच्छा मौका: गांगुली

भारत के पास विश्व कप खिताब बचाने का अच्छा मौका: गांगुली


नई दिल्ली ,(एजेंसी) 14 अक्टूबर । भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरभ गांगुली मानते हैं कि 2011 में विश्व चैम्पियन बनने वाली भारतीय टीम के पास 2015 में ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड की संयुक्त मेजबानी में होने वाले वर्ल्ड कप में खिताब की रक्षा करने का अच्छा मौका है।

SAURAV GANGULY

एक इंटरव्यू में गांगुली ने कहा, ‘भारत के पास खिताब बचाने का मौका है। यह टीम चाहे जहां भी खेलती है, बेहतर परिणाम देती है। यह एक अच्छी टीम है।‘ गांगुली ने कहा, ‘यह अलग बात है कि हम विदेशों में टेस्ट मैचों में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पा रहे हैं लेकिन जहां तक वनडे मैचों की बात है तो ऑस्ट्रेलिया हो या इंग्लैंड, हमारी टीम अच्छा खेलती है। मुझे यकीन है कि हमारी टीम अगले साल होने वाले विश्व कप में अच्छा खेलेगी।‘

भारत को वर्ल्ड कप से पहले ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जाना है। भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया में नवम्बर से जनवरी के बीच चार टेस्ट मैच खेलने हैं। इसके बाद एकदिवसीय त्रिकोणीय श्रृंखला होगी, जिसमें तीसरी टीम इंग्लैंड होगी। विश्व कप का आयोजन फरवरी-मार्च 2015 में होना है।

यह पूछे जाने पर कि ऑस्ट्रेलिया में ढाई महीने बिताने से क्या टीम पर थकान हावी नहीं होगी, गांगुली ने कहा, ‘मुझे लगता है कि खिलाडि़यों को हर एक चीज की आदत हो जाएगी। मैं नहीं समझता कि हमारे खिलाड़ी थके हुए होंगे। त्रिकोणीय श्रृंखला के बाद टीम को दो हफ्तों का आराम मिलेगा और फिर वह स्वदेश से ही विश्व कप के लिए रवाना होगी। आजकल दो हफ्ते का अंतराल काफी होता है।‘

अंतिम बार जब भारत ने दिसम्बर 11 से जनवरी 2012 तक ऑस्ट्रेलिया का दौरा किया था, तब उसे चार टेस्ट मैचों की श्रृंखला में 0-4 से हार मिली थी। इस बार भी भारतीय टीम चार मैचों की तैयारी में है और विदेशी धरती पर उसके रेकॉर्ड को देखते हुए यह दौरा काफी कठिन लग रहा है।

2003 विश्व कप में फाइनल में पहुंचने वाली टीम के कप्तान रहे गांगुली ने कहा, ‘यह दौरा काफी कठिन होगा। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जीतने के लिए भारत को निश्चित तौर पर अच्छा खेलना होगा। मेरे लिहाज से यह टीम अच्छा करेगी क्योंकि इसकी असल कमियां और मजबूती विदेशी दौरों पर ही सामने आती हैं।‘


Check Also

इंटरनेट सभी सीमाओं को पार कर चुका है, लोकतांत्रिक व्यवस्था के लिए इसमें बदलाव बेहद जरुरी है : रविशंकर प्रसाद

भारत सरकार द्वारा हाल ही में जारी की गईं सोशल मीडिया गाइडलाइन्स लगातार चर्चा का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *