Home >> क्राइम >> हथियार ‘चना’ तो बम थे ‘लड्डू’, ये हैं IS संदिग्धों के CODE WORD

हथियार ‘चना’ तो बम थे ‘लड्डू’, ये हैं IS संदिग्धों के CODE WORD


यूपी एटीएस ने गुरुवार को 5 राज्यों की पुलिस के साथ मिलकर आतंक के खिलाफ एक बड़े ऑपरेशन को अंजाम देते हुए 5 संदिग्ध आईएस आतंकियों को गिरफ्तार किया था.

खुलासा हुआ कि सभी संदिग्ध आईएस के खुरासान मॉड्यूल से ताल्लुक रखते हैं. गिरफ्त में आए संदिग्ध पकड़ में न आने पाए, इसके लिए वह लोग कोड वर्ड में बात किया करते थे.मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पुलिस सूत्रों ने बताया कि यह खुरासान मॉड्यूल कुछ महीने पहले सामने आए कानपुर-लखनऊ वाले पहले खुरासान मॉड्यूल से एकदम अलग है. दरअसल गिरफ्त में आए संदिग्ध कोड वर्ड में बात करते थे. खुलासा हुआ है कि यह लोग चना, लड्डू, बड़ा काम और मसाला जैसे कोड वर्ड का इस्तेमाल किया करते थे.एटीएस पिछले पांच महीनों से इन संदिग्धों पर नजर रख रही थी. एटीएस के साथ-साथ कई खुफिया एजेंसियों ने इनको कोर्ड वर्ड में बात करते हुए ट्रेस किया था. इनसे शुरूआती पूछताछ में यह बात सामने आई है कि ये हथियार को चना, छोटे बम के लिए लड्डू, विस्फोटक पाउडर के लिए मसाला और आतंकी वारदातों के लिए बड़ा काम सरीखे कोर्ड वर्ड का इस्तेमाल करते थे.संदिग्धों की गिरफ्तारी के बाद यह बात भी सामने आई है कि दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने इनकी गिरफ्तारी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है. स्पेशल सेल ने ही यूपी एटीएस और अन्य एजेंसियों से इन संदिग्धों के बारे में जानकारी साझा की थी. एटीएस सूत्रों की मानें तो यह आतंकी देश में एक साथ कई जगहों पर तबाही मचाना चाहते थे.पूछताछ में खुलासा हुआ कि इनके मॉड्यूल में 11 सदस्य हैं. इन लोगों ने सोशल मीडिया पर आईएसआईएस से प्रभावित होकर इस मॉड्यूल को खड़ा किया था. एटीएस पता लगाने की कोशिश कर रही है कि आतंकी साजिश के लिए फंडिंग किसके द्वारा और कहां से की गई थी. एटीएस इन संदिग्धों की गिरफ्तारी को बड़ी कामयाब मान रही है.


Check Also

मकान बनवाने के लिए बैंक से लोन दिलवाने के नाम पर एक जालसाज ने वृद्ध महिला के साथ की ठगी….

मकान बनवाने के लिए बैंक से लोन दिलवाने के नाम पर एक जालसाज ने वृद्ध …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *