Home >> Breaking News >> पीएम ने सेनाओं को भविष्य के युद्ध के लिए किया आगाह

पीएम ने सेनाओं को भविष्य के युद्ध के लिए किया आगाह


नई दिल्ली ,(एजेंसी) 17 अक्टूबर । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि पूर्ण युद्ध शायद ही हों, लेकिन सैन्य ताकत प्रतिरोध का हथियार बनी रहेगी। सैन्य कमांडरों के सालाना सामूहिक सम्मेलन को संबोधन में मोदी ने कहा कि सुरक्षा बल भारत के प्रति दूसरों के बर्ताव को प्रभावित करेंगे।

NARENDRA MOHAN MEETS ARMY CHIEF

तीनों सेनाओं के प्रमुखों के साथ अपने पहले संवाद में प्रधानमंत्री ने कहा कि पूर्ण युद्ध शायद ही होंगे, लेकिन प्रतिरोध तथा दूसरों का बर्ताव प्रभावित करने के हथियार के तौर पर बल अपनी भूमिका निभाते रहेंगे।
संघर्षों की अवधि छोटी होगी। खतरे ज्ञात हो सकते हैं, लेकिन शत्रु अदृश्य हो सकता है। प्रधानमंत्री का यह बयान हाल में पाकिस्तान की ओर से एलओसी और अंतरराष्ट्रीय सीमा पर संघर्षविराम उल्लंघन और लद्दाख में चीनी घुसपैठ की पृष्ठभूमि में अहम है।

मोदी ने कहा कि आर्थिक, राजनैतिक और सुरक्षा नीतियों को लेकर बदलता वैश्विक परिदृश्य हमें नई तैयारियों के लिए आगाह कर रहा है। वर्तमान से इतर, भविष्य की चुनौतियां ज्यादा मायने रखती हैं जहां हालात बड़ी आसानी से बदल सकते हैं, क्योंकि वहां टेक्नॉलजी अपना काम कर रही होगी।

तकनीकी बदलाव के साथ कदम से कदम न मिला सके तो हम जवाबी कार्रवाई के मामले में मुश्किल में होंगे। ऐसा हो सकता है कि खतरे का हमें पता हो लेकिन दुश्मन न दिखे। साइबर स्पेस पर पकड़ मजबूत करने की जरूरत है। साइबर स्पेस पर भी हमारा नियंत्रण उतना ही जरूरी होगा, जितना की जमीन, हवा और सागर के अपने हिस्से अपना नियंत्रण।


Check Also

मार्च का महिना शुरु : महाराष्ट्र में कोरोना के 8623 नए मरीज मिले

देश में कोरोना के मरीज फिर तेजी से बढ़ रहे है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *