Tuesday , 21 September 2021
Home >> Breaking News >> इंडियन रेलवे का जून में लॉन्च होगा ‘हिंदरेल’ ऐप, जानिए क्या-क्या मिलेगी सुविधाएं

इंडियन रेलवे का जून में लॉन्च होगा ‘हिंदरेल’ ऐप, जानिए क्या-क्या मिलेगी सुविधाएं


नई दिल्ली: रेल मंत्रालय जून में एक नया मेगा ऐप्प लांच करने जा रहा है. इस नए ऐप के लांच हो जाने के बाद हर तरह की जानकारी आसानी से मिलेगी और यात्रियों को सफर के दौरान होने वाली कई दिक्कतों से भी निजात मिलेगी. जून माह में ट्रेन से संबंधित सभी प्रश्नों के उत्तर एक मेगा ऐप के जरिए मिल सकेंगे जिसका नाम हिंदरेल  रखा जा सकता है. इस मेगा ऐप में रेलवे के अभी तक के सारे ऐप शामिल किए जाएंगे.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक रेलवे ने अपने इस नए ऐप का नामकरण भी कर दिया है.इस नए मेगा ऐप को हिंदरेल के नाम से जाना जाएगा. इस ऐप में यात्रियों को ट्रेन के आगमन, प्रस्थान, देरी, कैंसिल हुई रेलगाड़ियों के बारे में सूचना, गाड़ी कौन से प्लेटफॉर्म नंबर पर आएगी, गाड़ी कहां चल रही है और ट्रेन में खाली बर्थ के बारे में पता चलेगा.इस नए ऐप में इसके अलावा और भी कई तरह की सुविधाएं मिलेंगी, जिनमें टैक्सी की बुकिंग, कुली, वेटिंग रुम, होटल में बुकिंग, यात्रा पैकेज, ई-कैटेरिंग और अन्य यात्रा संबंधी सेवाओं की जानकारी मिलेगी.

 भारतीय रेलवे एक ऐसा नया ऐप बना रहा है जो कि ट्रेनों के आने, जाने, लेट होने, रद्द होने, प्लेटफॉर्म नंबर, रनिंग स्टेटस और सीट उपलब्धता के बारे में पूरी जानकारी देगा. इसके अलावा इससे टैक्सी, लाने ले जाने की सुविधा, रिटायरिंग रूम, होटल, टूर पैकेज, ई कैटरिंग और यात्रा से जुड़ी अन्य जरूरतों को भी पूरा किया जा सकता है.

रेलवे ये सारी सुविधाएं सेवा प्रदाताओं के साथ राजस्व साझाकरण मॉडल के तौर पर उपलब्ध कराएगा. रेलवे के पास ट्रेन के जुड़ी भरोसेमंद सूचनाएं नहीं मिलने की यात्रियों की शिकायतों का अंबार रहता है खास तौर पर ट्रेनों के लेट होने के संबंध में. रेलवे बोर्ड के सदस्य मोहम्मद जमशेद ने स्वीकार किया कि ट्रेनों के लेट होने से जुड़ी सटीक जानकारियां देने में समस्याएं हैं. लेकिन अब नया ऐप इन मुद्दों का निपटारा कर सकेगा.उन्होंने कहा, ‘नया ऐप जून में लॉन्च किया जाएगा जो न सिर्फ सूचनाएं देगा लेकिन इसके जरिए ट्रेनों पर भी निगाह रखी जा सकेगी. वर्तमान में भारतीय रेलवे कई ऐसे ऐप चला रही है जो विभिन्न प्रकार की सेवाएं देती हैं. इसमें सीएमएस ऐप फॉर कम्पेन मैनेजमेंट सिस्टम शामिल हैं. इस ऐप के नाम के बारे में पूछे जाने पर जमशेद ने कहा,‘हमें उसे एक उचित नाम देना है लेकिन उस पर निर्णय नहीं हुआ है.’


Check Also

दुनियाभर में मच्छरों के कारण होने वाली बीमारियो से बचाने को सरकारी तैयारियां बहुत छोटी

दुनियाभर में मच्छरों के कारण होने वाली बीमारियां हर साल हजारों लोगों की जान ले …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *