Home >> इंटरनेशनल >> चीन ने अमेरिका को दी उत्तर कोरिया पर संयम बरतने की सलाह

चीन ने अमेरिका को दी उत्तर कोरिया पर संयम बरतने की सलाह


राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनके चीनी समकक्ष शी जिनपिंग के बीच उत्तर कोरिया में परमाणु हथियार कार्यक्रमों पर बढ़ते तनाव को लेकर फोन पर हुई बातचीत में शी जिनपिंग ने ट्रंप से अपील की है कि वह संयम का प्रदर्शन करें। चीन के राष्ट्रपति ने अमेरिका को संयम बरतने की सलाह ऐसे मौके पर दी है जबकि उत्तर कोरिया कभी भी एक और परमाणु परीक्षण कर सकता है। यह सलाह इस बात का संकेत है कि चीन इस मसले पर परोक्ष रूप से उत्तर कोरिया के साथ है।
 
इससे पहले ट्रंप और शी के बीच फ्लोरिडा में मुलाकात हुई थी। सोमवार सुबह दोनों नेताओं के बीच होने वाली टेलीफोन बातचीत उत्तर कोरिया की उस चेतावनी के बाद हुई जिसमें कहा गया था कि वह एक और परमाणु परीक्षण कर सकता है। चीनी टेलीविजन की रिपोर्ट के मुताबिक शी जिनपिंग ने ट्रंप से कहा कि चीन उत्तर कोरिया के ऐसे परीक्षण के विरोध में है लेकिन वह यह भी चाहते हैं कि अमेरिका इस मामले में संयम दिखाए। उन्होंने कहा कि – ‘चीन संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों के खिलाफ जाकर उठाए गए किसी भी कदम का विरोध करेगा।’ 

दरअसल, अमेरिकी विमानवाहक पोत कार्ल विल्सन के कोरियाई जल क्षेत्र की तरफ बढ़ने के साथ इस इलाके में काफी तनाव बढ़ गया है। इस तनाव को देखते हुए ही चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने डोनाल्ड ट्रंप से फोन पर बात की थी। वहीं, उत्तर कोरिया ने विमानवाहक पोत की तैनाती को परमाणु युद्ध की इच्छा रखने वालों का खतरनाक कदम बताया है। उत्तर कोरिया की सत्तारूढ़ पार्टी के मुखपत्र में रोडांग सिनमुन ने कहा कि – ‘अमेरिका को अपने मूर्खतापूर्ण उकसावे के प्रलयकारी अंजाम के बारे में सोचना चाहिए जो निश्चित रूप से हमलावरों की मौत लेकर आएगा।’

जापान ने भी की ट्रंप से बात, नौसैनिक युद्धाभ्यास में दो लड़ाकू जहाज शामिल
जापान के प्रधानमंत्री शिंजो अबे ने भी राष्ट्रपति ट्रंप से फोन पर बात की है। शिंजो के मुताबिक वे दोनों इस बात पर सहमत हैं कि उत्तर कोरिया बार-बार के उकसावे से बाज आए और संयम बरते। इस बीच पश्चिमी प्रशांत महासागर में अमेरिका के साथ नौसैनिक अभ्यास में जापान के दो लड़ाकू जहाज भी शामिल हो गए हैं। उधर, दक्षिण कोरिया के साथ भी इस बारे में बातचीत चल रही है। अमेरिका व सहयोगियों ने उत्तर कोरिया के परमाणु परीक्षणों की आशंका को देखते हुए विमानवाहक पोत तैनात करने का फैसला किया है।

मंगलवार को सेना के स्थापना दिवस पर परमाणु परीक्षण कर सकता है उ. कोरिया
उत्तर कोरिया द्वारा मंगलवार को अपनी सेना की स्थापना की 85वीं वर्षगांठ पर दोबारा परमाणु या रॉकेट परीक्षण की आशंका जताई जा रही है। संभावित परीक्षणों के चलते अमेरिका, चीन और जापान ने उत्तर कोरिया को और उकसावे की कार्रवाईयों के खिलाफ चेतावनी दी है। इस बीच अमेरिकी विमानवाहक पोत के कोरियाई समुद्र क्षेत्र में जल्द पहुंचने की संभावना है।


Check Also

टीवी जगत की मशहूर अदाकारा निया शर्मा बिग बॉस ओटीटी में एंट्री करते ही मचाई धूम….

पिछले बहुत समय से चर्चा थी कि टीवी जगत की मशहूर अदाकारा निया शर्मा बिग …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *