Home >> Walk the Talk >> स्मार्टफोन को बार-बार चार्ज करने की नहीं पड़ेगी जरूरत

स्मार्टफोन को बार-बार चार्ज करने की नहीं पड़ेगी जरूरत


टोक्यो। वैज्ञानिक ऐसी बैटरी विकसित कर रहे हैं, जिससे स्मार्टफोन को बार-बार चार्ज करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। यह नई बैटरी रोशनी से खुद चार्ज होकर ऊर्जा संग्रहित कर सकती है।

लिथियम आयन बैटरी की बदौलत स्मार्टफोन, टैबलेट, और कंप्यूटर जैसे मोबाइल उपकरणों का तेजी से फैलाव हुआ है। हालांकि इन उपकरणों को बराबर चार्ज करने की जरूरत पड़ती है, क्योंकि इनकी बैटरी की क्षमता सीमित होती है।

कनाडा की मैकगिल यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर जॉर्ज पी डेमोपोलोस ने कहा कि र्स्माटफोन समेत कई उपकरणों को आपको दफ्तर ले जाने की जरूरत पड़ती है। इसलिए आपको इन्हें रोजाना चार्ज करने की जरूरत पड़ती है। कई दफा ऐसी स्थिति पैदा हो जाती है, जिससे आप इन्हें चार्ज नहीं कर पाते हैं।

इस परेशानी को दूर करने के लिए पोर्टबल सोलर चार्जर का विकास किया गया, लेकिन इन हाइब्रिड डिवाइस में बड़ी दिक्कत यह है कि इन्हें छोटा आकार में बनाना कठिन है। इस समस्या का हल निकालने के लिए शोधकर्ता सिंगल डिवाइस पर काम कर रहे हैं।

यह डिवाइस रोशनी के उपयोग से ऊर्जा संग्रहित करने में सक्षम होगी। शोध से जाहिर हुआ है कि फोटो-हार्वेस्टिंग डाई मोलेक्यूल के मिश्रण से लिथियम आयन बैटरी के कैथोड को रोशनी के प्रति संवेदनशील बनाया जा सकता है।


Check Also

क्या फास्ट चार्जिंग टेक्नोलॉजी फोन की बैटरी के लिए होती है खतरनाक, 5 प्वाइंट में जानिए सबकुछ

Phone Battery Tips: आज के दौर में फास्ट चार्जिंग और सुपर फास्ट चार्जिंग वाले स्मार्टफोन आम …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *