Home >> Walk the Talk >> जियाे अपने ग्राहकों को डेढ़ साल तक देती रहेगी फ्री ऑफर्स –

जियाे अपने ग्राहकों को डेढ़ साल तक देती रहेगी फ्री ऑफर्स –


नई दिल्ली। आने वाले वक्त में जियो को टक्कर देने के लिए एयरटेल, वोडाफोन और बीएसएनएल जैसी कंपनियों को और भी ज्यादा मशक्कत करना पड़ सकती है। कारण कि रिलायंस जियो अपने ग्राहकों को अगले 12-18 महीनों तक फ्री ऑफर्स व रिचार्ज विकल्प देती रहेगी। अमेरिकी बैंक मॉर्गन स्टेनली की रिपोर्ट के मुताबिक, जियो की यह योजना विरोधी कंपनियों के एवरेज रिवेन्यू पर यूजर (ARPU) को भी प्रभावित करेगी।

इकॉनामिक टाइम्स में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक जियो के वर्तमान ऑफर के कारण भारती एयरटेल, आईडिया सेलुलर और वोडाफोन इंडिया का ARPU 300 रुपए पर बना हुआ है। बाजार विशेषज्ञ मानते हैं कि रिलायंस जियो इंफोकॉम टेलिकॉम सेक्टर की दूसरी कंपनियों पर दबाव बनाए रखने और देश के 15 फीसदी ग्राहकों पर कब्जा जमाने के लिए ऑफर्स और स्कीम को एक से डेढ़ साल तक जारी रख सकती है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि फिलहाल कंपनी के पास देश के 6 फीसदी वायरलैस सब्सक्राइबर्स हैं। कंपनी इसे कम से कम 15 फीसदी तक ले जाने की कोशिश करेगी। रिलायंस जियो का प्रीपेड प्लान 19 रुपए से शुरू होकर 9999 रुपए तक उपलब्ध है। वहीं पोस्टपेड यूजर्स के लिए 309 रुपए से 509 और 999 रुपए के प्लान पेश किए गए हैं।

जियो ने अपनी 4जी सर्विस 5 सितंबर 2016 को शुरू की थी। कंपनी ने अपने मुफ्त ऑफर के जरिए 83 दिन के भीतर ही 5 करोड़ ग्राहक जुटा लिए थे, जबकि 170 दिन के भीतर कंपनी का 10 करोड़ ग्राहकों का लक्ष्य पूरा हो गया था।

मार्च महीने में जियो ने 2020-21 तक बाजार के करीब 50 फीसदी रिवेन्यू पर कब्जा जमाने का लक्ष्य निर्धारित किया था। दिसंबर तिमाही के मुताबिक, देश की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी भारती एयरटेल का मार्केट शेयर 33.1 फीसदी, वोडाफोन इंडिया का का मार्केट शेयर 23.5 फीसदी और आइडिया सेलुलर का मार्केट शेयर 18.7 फीसदी है। विशेषज्ञों का कहना है कि जियो के साथ जुड़ रहे ग्राहकों की रफ्तार थोड़ी धीमी हुई है। इसलिए कंपनी वर्तमान ऑफर्स को जारी रख सकती है।


Check Also

क्या फास्ट चार्जिंग टेक्नोलॉजी फोन की बैटरी के लिए होती है खतरनाक, 5 प्वाइंट में जानिए सबकुछ

Phone Battery Tips: आज के दौर में फास्ट चार्जिंग और सुपर फास्ट चार्जिंग वाले स्मार्टफोन आम …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *