Home >> एंटरटेनमेंट >> Entertainment >> ‘बाहुबली 2’ का फ़िल्म रिव्यू

‘बाहुबली 2’ का फ़िल्म रिव्यू


इंतज़ार की घड़ियां अब ख़त्म हो गई हैं. बाहुबली 2 रिलीज़ हो चुकी है. फ़िल्म की कहानी को लेकर बहुत सारे कयास लगाए जा रहे थे. एस एस राजमौली के निर्देशन में बनी यह फ़िल्म भारतीय फ़िल्म इतिहास की सबसे बड़ी फ़िल्म है.राज़ से नहीं रिकैप से शुरू होती है फ़िल्म:
बाहुबली जहां ख़त्म होती है, बाहुबली 2 वहीं से शुरू होती है.  फ़िल्म की शुरुआत एक रिकैप से होती है. यह कोशिश दर्शकों को  पिछली फ़िल्म का भी एक संक्षेप में परिचय देती है.

कटप्पा की एंट्री:

फिल्म के पहले मिनट में ही एक्शन है. उसके बाद एक गाना आता है. फ़िल्म की शुरुआत में ही राजमाता और बाहुबली का रिश्ता दिखाया गया है. इस फ़िल्म की शुरुआत में ही पिछली फिल्म की भी झलक मिलती है.

कटप्पा की एंट्री एक जबरदस्त डायलाॅग के साथ होती है . बाहुबली के राज्याभिषेक से पहले बाहुबली और कटप्पा को देशाटन पर जनता से मिलने भेजा गया.

इस फिल्म में विलेन का साथ देने वाले हैं पिंडारी जो ख़तरनाक लुटेरे हैं. देवसेना की एंट्री भी एक्शन सीन से होती है.

पहली फ़िल्म से बेहतर ग्राफ़िक्स:
इस फ़िल्म के ग्राफ़िक्स पहली फ़िल्म से काफ़ी बेहतर हैं. देवसेना का राज्य बाहुबली के राज्य से ज़्यादा सुंदर है. एक्शन सीक्वेंस बहुत कमाल के हैं. फ़िल्म “लार्ड ऑफ़ दि रिंग्स” की याद दिलाते हैं.

बाहुबली को सुलाने के लिए कटप्पा ने गाई बेसुरी लोरी: 
कटप्पा और बाहुबली के बीच कुछ कॉमेडी सीन हैं, दर्शकों को यह बहुत पसंद आ रहे हैं. कटप्पा बाहुबली को सुलाने के लिए लोरी गाता है. देवसेना को इम्प्रेस करने के लिए बाहुबली मंदबुद्धि होने का अभिनय करता है.

संगीत फ़िल्म का सबसे कमज़ोर पक्ष:
फ़िल्म के गीत बेवजह रखे हुए लगते हैं. गाने लम्बे और खींचे हुए मालूम होते हैं. गीत-संगीत फ़िल्म का सबसे हल्का पक्ष है.
इस फ़िल्म में प्रभास, अनुष्का शेट्टी, तमन्ना भाटिया और राणा दुग्गुबत्ती मुख्य भूमिकाओं में हैं.


Check Also

डिजाइर ड्रेस पहनकर कैमरा से बचकर दौड़ती हुई नजर आई मशहूर अभिनेत्री मौनी रॉय, पढ़े पूरी खबर

सोशल मीडिया पर मनोरंजन जगत की मशहूर अभिनेत्री मौनी रॉय का एक वीडियो खूब वायरल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *