Home >> Breaking News >> ‘गोडसे को गांधी नहीं, नेहरू को मारना चाहिए था‘

‘गोडसे को गांधी नहीं, नेहरू को मारना चाहिए था‘


B Gopalakrishnan

तिरुवनंतपुरम , (एजेंसी) 25 अक्टूबर । राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के मुखपत्र ‘केसरी‘ में एक लेख में बीजेपी नेता ने इशारों में लिखा है कि महात्मा गांधी के हत्यारे गोडसे को असल में पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू को निशाना बनाना चाहिए था। 17 अक्टूबर के अंक में बी. गोपालाकृष्णन ने यह लेख लिखा है।

गोपालाकृष्णन केरल की चालाकुडी लोकसभा सीट से बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़े थे। उन्होंने लिखा है कि नेहरू का स्वार्थ सभी बड़ी राष्ट्रीय त्रासदियों का सबब था। गोपालाकृष्णन लिखते हैं, ‘अगर इतिहास के छात्रों ने ईमानदारी से बंटवारे के पहले के ऐतिहासिक तथ्यों और गोडसे के विचारों का अध्ययन किया होता तो वह इस नतीजे पर पहुंच सकते थे कि गोडसे ने गलत निशाना चुना।‘

अंग्रेजी अखबार डेकन क्रॉनिकल के अनुसार गांधी की हत्या में संघ का कोई हाथ नहीं था। गोडसे स्वयंसेवक नहीं था, लेकिन साथ ही यह भी कहा गया है कि गोडसे नेहरू से बेहतर था। लेख के अनुसार विश्व स्तर का नेता बनने के लिए नेहरू को गांधीजी का नाम, खादी और टोपी चाहिए थी। गोडसे नेहरू से कहीं ज्यादा बेहतर था। उसने सम्मानपूर्वक झुकने के बाद उन्हें गोली मारी। वह नेहरू जैसा नहीं था कि आगे से झुका और पीठ में छुरा भोंक दिया।


Check Also

बंगाल चुनाव : शीर्ष नेतृत्व उम्मीदवारो की अंतिम लिस्ट जल्द जारी करेगा : दिलीप घोष

पश्चिम बंगाल में 27 मार्च और एक अप्रैल को क्रमश: पहले और दूसरे चरण के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *