Home >> Breaking News >> रेलवे ने दिया तोहफा! टिकट नहीं ले पाए तो कोई बात नहीं, नहीं होगा जुर्माना

रेलवे ने दिया तोहफा! टिकट नहीं ले पाए तो कोई बात नहीं, नहीं होगा जुर्माना


नई दिल्ली : ट्रेन से सफर के दौरान कई बार ऐसी स्थितियों का सामना करना पड़ता है कि ट्रेन छूटने वाली होती है, टिकट काउंटर पर कतारें लंबी हैं तो टिकट नहीं ले पाते हैं और फिर बिना टिकट ट्रेन में चढ़ने के बाद जुर्माना भरना पड़ता है. पर अब इससे निजात पाने के लिए रेलवे ने अनूठा उपाय निकाला है.रेलवे सूत्रों के मुताबिक, अब अगर आप जल्दी में हैं तो ट्रेन में सफर के दौरान भी टिकट ले सकते हैं.

इससे यात्रियों को काफी राहत मिलेगी. रेलवे के इस तोहफे से बिना टिकट यात्रा करने वाले अब बहाने नहीं बना सकते हैं. पर ट्रेन छूटने के डर से बिना टिकट लिए ट्रेन में चढ़ने वालों के लिए यह बेहरेलवे ने अप्रैल से ऐसे लोगों को ट्रेनों में ही टिकट देने की व्यवस्था शुरू कर दिया है.

इसके लिए आपको ट्रेन से उतरने की जरूरत नहीं है और ना ही इंटरनेट का इस्तेमाल करना है. यात्री ट्रेन में टी.टी.ई. से संपर्क कर टिकट ले सकेंगे. यानी टीटीई को देखकर आपको ना तो डरना है और ना ही छुपना है बल्कि एक जागरूक नागरिक की तरह टी.टी.ई. को बताना होगा कि किस कारण से आप बिना टिकट यात्रा कर रहे हैं. उसके बाद टीटीई आपको टिकट काटकर देगा. टीटीई संबंधित यात्री से तय किराए के साथ ही 10 रुपए अतिरिक्त शुल्क लेकर हैंड हेल्ड मशीन से टिकट निकालकर देगा.द अच्छी खबर है. 

आरक्षित टिकट भी मिलेगा ट्रेन में

आरक्षित टिकट देने की यह सुविधा केवल सुपरफास्ट ट्रेनों में शुरू हुआ है जो कि बाद में व्यापक पैमाने पर हो सकता है. यह हैंड हेल्ड मशीन रेलवे के पैसेंजर रिजर्वेशन सिस्टम के सर्वर से कनेक्ट होगी. जैसे ही यात्री टिकट मांगेगा, मशीन में नाम और जगह डालते ही टिकट निकल आएगी. मशीन की मदद से ट्रेन में खाली बर्थों की जानकारी भी आसानी से मिलेगी.
वेटिंग क्लीयर होने पर भी ट्रेन में खाली बर्थ की जानकारी हैंड हेल्ड मशीन में उपलब्ध होगी. यदि किसी यात्री की वेटिंग क्लीयर नहीं हुई है तो वह टीटीई के पास जाकर अपनी टिकट दिखाकर खाली सीट की जानकारी लेकर उसे कन्फर्म करा सकता है.


Check Also

UP के साढ़े पांच लाख गरीबों का अपनी छत का सपना हो रहा पूरा, CM योगी ने सौंपी घर की चाबी….

उत्तर प्रदेश के साढ़े पांच लाख गरीबों का अपनी छत का सपना पूरा हो रहा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *